Friday , January 24 2020 [ 11:42 AM ]
Breaking News
Home / विविध / अध्यात्म एवं राशिफल / भाई दूज का क्या है शुभ मुहूर्त? ऐसे बनाएं किस्मत चमकाने वाला तिलक
भाई दूज का क्या है शुभ मुहूर्त? ऐसे बनाएं किस्मत चमकाने वाला तिलक Capture 4 660x330

भाई दूज का क्या है शुभ मुहूर्त? ऐसे बनाएं किस्मत चमकाने वाला तिलक

भइया दूज के दिन ही यमराज के सचिव चित्रगुप्त जी की भी पूजा होती है. इस बार भइया दूज का पर्व 29 अक्टूबर को मनाया जाएगा.

भाई दूज का क्या है शुभ मुहूर्त? ऐसे बनाएं किस्मत चमकाने वाला तिलक Capture 4

दीपावली के दूसरे दिन कार्तिक शुक्ल द्वितिया को भैया दूज का पर्व मनाया जाता है. इस तिथि से यमराज और द्वितिया तिथि का सम्बन्ध होने के कारण इसको यमद्वितिया भी कहा जाता है. इस दिन बहनें अपने भाई का तिलक करती हैं. उसका स्वागत सत्कार करती हैं और उनके लम्बी आयु की कामना करती हैं. माना जाता है कि जो भाई इस दिन बहन के घर पर जाकर भोजन ग्रहण करता है और तिलक करवाता है, उसकी अकाल मृत्यु नहीं होती. भइया दूज के दिन ही यमराज के सचिव चित्रगुप्त जी की भी पूजा होती है. इस बार भइया दूज का पर्व 29 अक्टूबर को मनाया जाएगा.

कैसे मनाएं भाई दूज का त्योहार?

भाई दूज का क्या है शुभ मुहूर्त? ऐसे बनाएं किस्मत चमकाने वाला तिलक a1

ज्योतिषाचार्य रुपाली सक्सेना 9870692295

वास्तु,हस्तरेखा एव ज्योतिषाचार्य रुपाली सक्सेना के अनुसार के दिन भाई प्रातः काल चन्द्रमा का दर्शन करें. इसके बाद यमुना के जल से स्नान करें या ताजे जल से स्नान करें. अपनी बहन के घर जाएं और वहां बहन के हाथों से बना हुआ भोजन ग्रहण करें. बहनें भाई को भोजन कराएं, उनका तिलक करके आरती करें. भाई यथाशक्ति अपनी बहन को उपहार दें.

कैसे बनाएं किस्मत चमकाने वाला तिलक?

– शुद्ध केसर की कम से कम 27 पत्तियां लें और उसमें शुद्ध लाल चंदन और गंगाजल मिलाएं

– साफ चांदी की कटोरी या पीतल की कटोरी में यह तिलक तैयार करें

–  अपने भाई को तिलक करने से पहले यह कटोरी भगवान विष्णु के श्री चरणों में रखें

– ॐ नमो नारायणाय मंत्र का 27 बार जाप करें. अब यह तिलक सबसे पहले भगवान गणपति और विष्णु जी को करें

– उसके बाद यह तिलक अपने भाई को उत्तर पूर्व दिशा की ओर मुंह करके तिलक करें

– अब बहन अपने भाई को मिष्ठान खिलाए तथा भाई भी अपनी बहन का मुंह मीठा करें

– ऐसा करने से भाई-बहन का स्नेह हमेशा के लिए बना रहेगा.

भाई दूज का शुभ मुहूर्त  

भाई दूज तिथि का प्रारंभ: 29 अक्‍टूबर 2019 को सुबह 06 बजकर 13 मिनट से

भाई दूज तिथि का समापन: 30 अक्‍टूबर 2019 को सुबह 03 बजकर 48 मिनट तक

भाई दूज का शुभ मुहूर्त: दोपहर 01 बजकर 11 मिनट से दोपहर 03 बजकर 23 मिनट तक

कुल अवधि: 02 घंटे 12 मिनट

About Arun Kumar Singh

Check Also

सी0ए0ए0 नागरिकता देने का कानून है, लेने का नहीं: मुख्यमंत्री Capture 13 310x165

सी0ए0ए0 नागरिकता देने का कानून है, लेने का नहीं: मुख्यमंत्री

मुख्यमंत्री ने कानून व्यवस्था, मुख्यमंत्री कन्या सुमंगला योजना, कम्बल वितरण, गोवंश, रैन बसेरों की व्यवस्थाओं के …

Leave a Reply

Copyright © 2017, All Right Reversed.