Friday , March 22 2019 [ 7:28 AM ]
Breaking News
Home / अन्य / केवल 100 ग्राम सौंफ से हो सकता हैं वेट लॉस, कैंसर समेत इन बीमारियों को करेगा दूर

केवल 100 ग्राम सौंफ से हो सकता हैं वेट लॉस, कैंसर समेत इन बीमारियों को करेगा दूर

रेस्टोंरेंट में खाने के बाद सौंफ जरूर खाते होंगे। आपको पता है ये सौंफ किसी दवा से कम नहीं। दरअसल सौंफ में इतने गुण होते हैं कि वो कई बीमारियों को होने से रोकता है। वहीं कई बीमारियों में दवा का काम करता है…

केवल 100 ग्राम सौंफ से हो सकता हैं वेट लॉस, कैंसर समेत इन बीमारियों को करेगा दूर souf

नई दिल्ली. सौंफ वैसे तो हर घर के किचन में होता है, लेकिन उसे खाने की आदत शायद ही किसी की होती है। रोजाना सौंफ खाना कई बीमारियों में दवा जैसा काम करता है। इसे रोज खाने से शरीर में मिनिरल्स की कमी दूर होती है। सौंफ मिनिरल्स और एंटी ऑक्सीडेंट से भरा होता है। डायजेशन को सही करने के साथ ही ये एसिडीटी और सांसों की बदबू को खत्म करने वाला भी होता है।

सौंफ में कई तरह के विटामिन, मिनरल्स और पोषक तत्व पाए जाते हैं। जो हमारे स्वास्थ्य के साथ-साथ हमारे शरीर के लिए भी काफी फायदेमंद होते है। इसमें कॉपर, आयरन, कैल्शियम, पोटाशियम, मैंगनीस, सिलेनियम, जिंक और मैग्नेशियम भी पाया जाता है। 

आयुर्वेद में भी सौंफ को बुद्धि बढ़ाने वाला, कफ खत्म करने वाला, पाचन संबंधी बिमारियों को दूर करने के साथ ही आँखों के लिए फायदेमंद माना गया है।  सौंफ दो तरह की होती है। एक बड़ी और दूसरी छोटी। हालांकि दोनों में गुण एक से ही हैं लेकिन खाने के काम छोटी सौंफ ही आती है। बड़ी सौंफ मसाले और छौंक में यूज होती है।

वेट लॉस के लिए कारगर
सौंफ में डाइटरी फाइबर बहुत होता है। यानी अगर आप रोज 100 ग्राम इसे खा लें तो ये आपके वेट लॉस प्रोग्राम के लिए भी अच्छा होता है। ये फाइबर शरीर में पाचन क्रिया को बढ़ाकर हमारे द्वारा खाए गए खाद्य पदार्थों को जल्द पचाने में मदद करते हैं। इससे इंस्टेंट एनर्जी मिलती है।

सौंफ में माइकेसीन, फेन्चोन, शैविकोल, सिनेल नामक वाष्पशील तेल यौगिक पाया जाता है। ये शरीर की पाचन और एंटीऑक्सीडेंट प्रतिक्रिया में मदद करते है। शरीर की ग्रोथ और विकास के लिए जिंक उत्तरदायी होता है। सौंफ के बीजों में ये बहुत अच्छी मात्रा में पाया जाता है। जो नियमित ग्रोथ और विकास को बढ़ाते है।

फ्री रेडिकल्स से शरीर को बचाता है
फ्री रेडिकल्स अलग-अलग आकार और रासायनिक संगठन के होते हैं। ये हमारी कोशिकाओं को नष्ट करके हृदय रोग, कैंसर और दूसरी बीमारियों की आशंका बढ़ा देते हैं। क्योंकि सौंफ में भरपूर एंटी-ऑक्सीडेंट्स होता है जो फ्री रेडिकल के प्रभाव से कोशिकाओं को बचा लेता है। 

ऐसे में जरूरी है कि आप रोज सौंफ खाया करें। ये एंटी-ऑक्सीडेंट हमारे शरीर से फ्री रेडिकल्स को नष्ट करते हैं, जिससे इम्यूनिटी मजबूत होती है और ये हमें हार्ट प्रॉब्लम और कैंसर जैसी गंभीर बीमारियों से भी बचाते हैं। ताजे फल-सब्जियों में एंटी-ऑक्सीडेंट्स तत्व सबसे अधिक होते हैं।

(डिस्क्लेमर: प्रस्तुत लेख में सुझाए गए टिप्स और सलाह केवल आम जानकारी केलिए हैं और इसे पेशेवर चिकित्सा सलाह के रूप में नहीं लिया जा सकता।किसी भी तरह काफिटनेस प्रोग्राम शुरू करने अथवा अपनी डाइट में किसी तरह का बदलाव करने से पहले अपनेडॉक्टर से परामर्श जरूर लें।

About Arun Kumar Singh

Check Also

उरी द सर्जिकल स्ट्राइक में ये एक्टर बने थे मनोहर पर्रिकर, सोशल मीडिया पर दी श्रद्धांजलि        310x165

उरी द सर्जिकल स्ट्राइक में ये एक्टर बने थे मनोहर पर्रिकर, सोशल मीडिया पर दी श्रद्धांजलि

देश के पूर्व डिफेंस मिनिस्टर और गोवा के सीएम मनोहर पर्रिकर का निधन हो गया …

Leave a Reply

Copyright © 2017, All Right Reversed.