Saturday , February 29 2020 [ 7:12 PM ]
Breaking News
Home / राज्य / उत्तर प्रदेश / वाराणसी: युवक की गिरफ्तारी पर बवाल, एसओ समेत कई पुलिसकर्मी घायल
वाराणसी: युवक की गिरफ्तारी पर बवाल, एसओ समेत कई पुलिसकर्मी घायल Capture 7 660x330

वाराणसी: युवक की गिरफ्तारी पर बवाल, एसओ समेत कई पुलिसकर्मी घायल

वाराणसी जंसा थाना क्षेत्र के हरसोस में सोमवार की शाम लूट के मामले में वांछित दो बदमाशों को पकड़ने के दौरान बवाल हो गया। बदमाशों को पकड़ने पहुंची जौनपुर की स्वाट टीम को ग्रामीणों ने बंधक बना लिया। उनकी पिटाई की और दो पिस्टल भी छीन लिये।

वाराणसी: युवक की गिरफ्तारी पर बवाल, एसओ समेत कई पुलिसकर्मी घायल Capture 7

स्वाट टीम को छुड़ाने पहुंची पुलिस पर भी ग्रामीणों ने पथराव कर हमला बोल दिया। हमले में स्वाट प्रभारी, रोहनिया थाना प्रभारी और करीब आधा दर्जन पुलिसकर्मी घायल हो गए। भारी संख्या में पुलिस फोर्स के साथ पहुंचे अधिकारियों ने किसी तरह स्वाट टीम को छुड़ाया और ग्रामीणों को खदेड़ा। एसएसपी समेत आला अधिकारी भी मौके पर पहुंचे और जायजा लिया। हमला करने वालों की तलाश में देर रात तक छापेमारी होती रही। पुलिस ने 30 से ज्यादा लोगों को हिरासत में लिया है।   

जंसा के हरसोस गांव निवासी राजन भारद्वाज और राहुल की जौनपुर पुलिस को लूट समेत कई वारदातों में लंबे समय से तलाश थी। जौनपुर की स्वाट टीम को मुखबीर से खबर मिली कि दोनों दीपावली पर घर आए हैं। सटीक सूचना पर सोमवार की रात आठ बजे पहले एक बाइक सवार दो पुलिसकर्मी पहुंचे। दोनों ने सूचना की पुष्टि की और बताया कि राजन व राहुल अपने पाही से घर खाना खाने जा रहे हैं। इसी समय बोलेरो में स्वाट प्रभारी बालेंद्र के साथ उनकी टीम पहुंच गई। स्वाट टीम राजन और राहुल को गाड़ी में खींच कर बैठाने लगी। राहुल तो धक्का देकर भाग निकला लेकिन राजन पकड़ लिया गया। 
शोरगुल सुनकर ग्रामीण जुट गए। बाइक सवार पुलिसकर्मियों और स्वाट टीम को घेर लिया। बाइक वालों को पेड़ से बांधकर बुरी तरह पीटा और उनकी दो पिस्टल भी लूट ली। घटना  की सूचना मिलते ही पीआरबी पहुंची तो उन पर भी हमला कर दिया। फोर्स के साथ पहुंचे रोहनिया थानाध्यक्ष ने स्वाट  टीम को छुड़ाने  की कोशिश की तो लोग उग्र हो गए। जबरदस्त पथराव कर दिया।  

ग्रामीणों के पथराव में स्वाट प्रभारी बालेंद्र यादव, रोहनिया थाना प्रभारी पीआर त्रिपाठी के साथ करीब दस पुलिसकर्मियों को चोटें आयी। थाना प्रभारी का सिर भी फट गया। तत्काल सभी को ट्रामा सेंटर बीएचयू भेजा गया। बवाल बढ़ते ही आसपास के सभी थानों की पुलिस के साथ ही आला अधिकारी भी पहुंच गए। देर रात तक सिपाहियों की पिस्टल की तलाश में छापेमारी होती रही। पुलिस ने 30 से ज्यादा लोगों को हिरासत में लिया है।  पुलिस के अनुसार हरसोस गांव निवासी राजन भारद्वाज जौनपुर के ककोरी में अपने ननिहाल में रहकर इंटर की पढ़ाई कर रहा है। वही पर आपराधिक मामले में वांछित चल रहा था। 

पिस्टल की तलाश में पुलिस का तांडव
रामेंश्वर (वाराणसी)। जंसा थाना क्षेत्र के हरसोस गांव में देर रात पुलिस ने सिपाहियों की गायब पिस्टल की तलाश में तांडव किया। कई घरों में तोड़फोड़ की। पुरुष तो घर से फरार हो गए या हिरासत में ले लिये गए। महिलाओं ने विरोध किया तो जमकर पिटाई की गयी। पिटाई में बिट्ठल देवी (60) और भारती देवी (30) घायल हैं। इन लोगों का कहना है कि भारद्वाज बस्ती से दलित बस्ती काफी दूर है। इस घटना की हम लोगों को कोई जानकारी भी नहीं थी। इस मामले में हमारा कोई लेना-देना नहीं है लेकिन पुलिस तांडव कर रही  है।

About Arun Kumar Singh

Check Also

सी0ए0ए0 नागरिकता देने का कानून है, लेने का नहीं: मुख्यमंत्री Capture 13 310x165

सी0ए0ए0 नागरिकता देने का कानून है, लेने का नहीं: मुख्यमंत्री

मुख्यमंत्री ने कानून व्यवस्था, मुख्यमंत्री कन्या सुमंगला योजना, कम्बल वितरण, गोवंश, रैन बसेरों की व्यवस्थाओं के …

Leave a Reply

Copyright © 2017, All Right Reversed.