Wednesday , June 20 2018 [ 3:35 PM ]
Breaking News
Home / अन्य / धर्म परिवर्तन कर युवती का निकाह कराने पर भिड़े दो समुदाय, 7 जख्मी
[object object] धर्म परिवर्तन कर युवती का निकाह कराने पर भिड़े दो समुदाय, 7 जख्मी Screenshot 2018 06 05 12 48 28 768 com

धर्म परिवर्तन कर युवती का निकाह कराने पर भिड़े दो समुदाय, 7 जख्मी

   पंजाब  !देरी से प्राप्त समाचारों के अनुसार ग्राम मिलकपुर में सिक्ख समुदाय की युवती का धर्म परिवर्तन कर निकाह करा देने को लेकर दो समुदायों के बीच सोमवार को पथराव और फायरिंग होने से तनाव की स्थिति बन गई। घटना में तीन महिलाओं सहित कुल 7 जनों को चोटें आई हैं। पुलिस ने सभी का रामगढ़ सीएचसी में मेडिकल करवाया है।

     [object object] धर्म परिवर्तन कर युवती का निकाह कराने पर भिड़े दो समुदाय, 7 जख्मी Screenshot 2018 06 05 12 48 28 768 comसीएचसी इंचार्ज डाॅ. पीयूष तिवारी ने घायल महिलाओं के छर्रे जैसी चोट लगने की बात स्वीकार की है। जबकि थानाधिकारी नवल किशोर मीणा ने फायरिंग से इनकार किया है। उनका कहना है सभी को पथराव में चोट लगी है। घटना के बाद रात को गांव में क्यूआरटी तैनात कर पुलिस के साथ फ्लैग मार्च किया गया। 

दरअसल गांव में रायसिख परिवार की एक युवती का धर्म परिवर्तन करवाने के बाद रामगढ़ में कार्य करने वाले एक वकील फकरूदीन ने मिलकपुर गांव के ही व्यक्ति से उसका निकाह करवा दिया। इसे लेकर क्षेत्र के सिक्ख समाज में रोष व्याप्त हो गया। पिछले कई दिनों से गांव में सिक्ख समाज की बैठकें चल रही हैं और तनाव की स्थिति बनी हुई थी। सोमवार को गांव में एक पक्ष द्वारा दूसरे पर पथराव व फायरिंग कर दी गई। घटना को लेकर मिलकपुर निवासी संतोक सिंह पुत्र हरदत्त सिंह रायसिख ने मामला दर्ज कराया कि युवती के निकाह को लेकर गुरुद्वारा मिलकपुर में बैठक करने के बाद वे लोग गांव में ही तीये की बैठक में जा रहे थे। इसी दौरान हनीफ, तैयब, इस्लाम, जुम्मा, खुरसा, लीला, इब्रा खां, रूजदार, दाउद, साहिद, ताहिर, साहिल, नूरमल, जकरू व शिब्बु ने पथराव व फायरिंग कर दी। जिसमें उनके कई महिला व पुरुष घायल हो गए। सीएचसी इंचार्ज डा. पीयूष तिवारी के अनुसार पुलिस घायल फाैजा सिंह पुत्र जहांगीर सिंह रायसिख, जिद्री पुत्र दलीप सिंह रायसिख, मलकीत सिंह पुत्र कश्मीर सिंह, संतोक सिंह पुत्र हरदत्त सिंह, सरजीत काैर प|ी जीत सिंह, जगजीत काैर प|ी घमंड सिंह व रणजीत काैर प|ी अवतार सिंह को मेडिकल कराने के लिए लाई थी। इन्हें पथराव और छर्रे लगने जैसे चोट के निशान थे। मेडिकल करा दिया है। 

गांव में पुलिस जाप्ता तैनात है। फिलहाल गांव में शांति है। एक पक्ष ने फायरिंग व पथराव का आरोप लगाया है। इसकी एफआईआर ले ली है। मामले की जांच कर रहे हैं। – अनिल बेनीवाल, डीएसपी साउथ 

धर्म परिवर्तन कराने वाले वकील के खिलाफ अभिभाषक संघ ने पारित किया प्रस्ताव 

रामगढ़. मिलकपुर गांव में तनाव के चलते तैनात किया गया पुलिस बल। 

अधिवक्ता के खिलाफ बार एसोसिएशन ने की शिकायत : उधर, इसी मामले को लेकर अभिभाषक संघ रामगढ़ ने सोमवार को बैठक की। इसमें अधिवक्ता फकरूदीन के विरुद्ध सर्वसम्मति से बार काउंसिल ऑफ राजस्थान को शिकायत कर आचरण के विरुद्ध व्यवहार पर कार्रवाई की मांग की गई। अभिभाषक संघ के सदस्य बाद में रामगढ़ थाना पहुंचे और थानाधिकारी से नियमानुसार कठोर कार्रवाई को कहा। अधिवक्ता राजकुमार यादव, लखविन्दर सिंह, दिनेश शर्मा, तैयब हुसैन आदि ने बताया कि अधिवक्ता फकरूदीन ने मिलकपुर गांव की युवती बलजीत काैर पुत्री समनाम सिंह का धर्म परिवर्तन करवाकर गांव के किसी व्यक्ति से निकाह करवा दिया। जबकि युवती के परिजनों ने पहले से उसकी गुमशुदगी दर्ज करा रखी थी। बैठक में अभिभाषक संघ ने इसकी घोर निंदा करते हुए कहा कि यह घटना धार्मिक भावनाओं को भड़काने वाली है। गांव की बेटी को जबरन धर्म परिवर्तन करवा कर प|ी बनाकर रखना सामाजिक अपराध की श्रेणी में अाता है। 

पुलिस पर भड़के गांव के लोग 

सोमवार दोपहर बाद समाज विशेष के लोगों द्वारा फायरिंग व पथराव की घटना को अंजाम देने की सूचना के बाद आईपीएस अनिल बेनीवाल, रामगढ़ थानाधिकारी नवलकिशोर मीणा, एमआईए व नौगांवा थाना पुलिस मौके पर पहुंची। यहां लोगों में घटना को लेकर जबरदस्त आक्रोश था। गुस्साए लोगों को समझाइश की गई। इस दौरान आईपीएस अनिल बेनीवाल पर लोग इस बात को लेकर भड़क गए कि समुदाय विशेष की भावनाओं को आहत करने वाली इतनी बड़ी घटना को नजरअंदाज कर अधिकारी इसे हल्के में ले रहे हैं। लोगों ने मौके पर पुलिस पर मामले में ढिलाई बरतने का आरोप लगाते हुए कहा कि मामला दर्ज होने के बावजूद आरोपियों को गिरफ्तार नहीं किया गया है।Two communities, 7 injured in clash between women

About Arun Kumar Singh

Check Also

[object object] जम्मू-कश्मीर में राज्यपाल शासन को राष्ट्रपति ने दी मंजूरी                                310x165

जम्मू-कश्मीर में राज्यपाल शासन को राष्ट्रपति ने दी मंजूरी

 आपात व्यवस्थाः जम्मू-कश्मीर में 40 साल में आठ बार राज्यपाल शासन        राज्यपाल …

Leave a Reply

Copyright © 2017, All Right Reversed.