Wednesday , April 24 2019 [ 5:38 AM ]
Breaking News
Home / अन्य / वे प्रतिबद्धताओं से नहीं बल्कि राजनैतिक कारणों से हिंदू हैं-सुषमा स्वराज का राहुल पर पलटवार
वे प्रतिबद्धताओं से नहीं बल्कि राजनैतिक कारणों से हिंदू हैं-सुषमा स्वराज का राहुल पर पलटवार        594x330

वे प्रतिबद्धताओं से नहीं बल्कि राजनैतिक कारणों से हिंदू हैं-सुषमा स्वराज का राहुल पर पलटवार

   सुषमा स्वराज का पलटवार, कहा🗣  वे प्रतिबद्धताओं से नहीं बल्कि राजनैतिक कारणों से हिंदू हैं-सुषमा स्वराज का राहुल पर पलटवार 1f5e3-क्या राहुल गांधी से हिन्दू होने का मतलब 😱  वे प्रतिबद्धताओं से नहीं बल्कि राजनैतिक कारणों से हिंदू हैं-सुषमा स्वराज का राहुल पर पलटवार 1f631जानना होगा ?*
कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी का पीएम मोदी के हिन्दुत्व पर सवाल उठाने के बाद केंद्रीय मंत्री सुषमा स्वराज ने उनपर जमकर हमला बोला है। विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने कहा है कि क्या अब राहुल गांधी से हमे हिन्दू होने का मतलब सीखना होगा। बता दें कि उदयपुर में एक चुनावी सभा को संबोधित करते हुए राहुल गांधी ने कहा था कि पीएम मोदी किसी की नहीं सुनते वह कैसे हिन्दू हैं।
सुषमा स्वराज ने राहुल गांधी के बयान पर पलटवार करते हुए कहा,” राहुल गांधी और कांग्रेस कार्यकर्ता उनके धर्म को लेकर दुविधा में हैं। सालों तक पार्टी ने उन्हें एक धर्मनिरपेक्ष नेता के तौर पर पेश किया लेकिन जब चुनाव नजदीक देखा और उन्हें लगा कि हिन्दू बहुसंख्यक हैं तो उन्होंने यह छवी बनाई।”
वे प्रतिबद्धताओं से नहीं बल्कि राजनैतिक कारणों से हिंदू हैं-सुषमा स्वराज का राहुल पर पलटवार        300x198 विदेश मंत्री ने आगे कहा,” बयान आया है कि वह जनेऊधारी हिन्दू हैं लेकिन मुझे नहीं मालूम था कि जनेऊधारी ब्राह्मण के ज्ञान में इतनी वृद्धी हो गई कि हिन्दू होने का मतलब अब हमे उनसे समझना होगा। भगवान न करे वह दिन आए जब राहुल गांधी से हमे हिन्दू होने का मतलब समझना पड़े।”
सुषमा स्वराज ने आगे कहा,” कांग्रेस में आत्मविश्वास की कमी है। कांग्रेस पार्टी के कार्यकर्ता दुविधा में हैं। काग्रेस पांटों राज्यों के चुनाव में हारने वाली है।” उन्होंने कहा कि पहले कांग्रेस अपने काम का हिसाब दें।
    सुषमा स्वराज के अलावा केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने भी कांग्रेस अध्यक्ष पर हमला करते हुए कहा,” राहुल गांधी की समस्या यह है कि वे कन्फ़्यूज़्ड गांधी हैं और हमेशा राजनैतिक कारणों से हिंदू की अपियरेंस बदलते रहते हैं न कि प्रतिबद्धताओं से। वे प्रतिबद्धताओं से नहीं बल्कि राजनैतिक कारणों से हिंदू हैं।”

About Arun Kumar Singh

Check Also

लोकतंत्र के महापर्व यानि लोकसभा चुनाव 2019: दूसरे फेज की वोटिंग में करीब 66 फीसदी वोट पड़े Capture 14 298x165

लोकतंत्र के महापर्व यानि लोकसभा चुनाव 2019: दूसरे फेज की वोटिंग में करीब 66 फीसदी वोट पड़े

लोकतंत्र के महापर्व यानि लोकसभा चुनाव के लिए 18 अप्रैल को दूसरे चरण का मतदान …

Leave a Reply

Copyright © 2017, All Right Reversed.