Wednesday , December 19 2018 [ 9:27 PM ]
Breaking News
Home / अन्य / मुंबई हमले की पूर्व संध्या पर विशेष : तुकाराम ओंबले की बहादुरी से जिंदा पकड़ा गया था आतंकी कसाब
[object object] मुंबई हमले की पूर्व संध्या पर विशेष : तुकाराम ओंबले की बहादुरी से जिंदा पकड़ा गया था आतंकी कसाब              660x330

मुंबई हमले की पूर्व संध्या पर विशेष : तुकाराम ओंबले की बहादुरी से जिंदा पकड़ा गया था आतंकी कसाब

    कसाब को जिंदा पकड़ने में मुंबई पुलिस के एएसआई तुकाराम ओंबले को अपनी जान गंवानी पड़ी। शहीद तुकारम ओंबले ने अपनी वीरता की ऐसी इबारत लिखी जिसे आनेवाली सदियां याद रखेंगी।

  [object object] मुंबई हमले की पूर्व संध्या पर विशेष : तुकाराम ओंबले की बहादुरी से जिंदा पकड़ा गया था आतंकी कसाब Capture 1 300x204   इस हमले के दौरान करीब 60 घंटे तक पूरी मुंबई दहशत के साये में रही। जगह-जगह फायरिंग और होटल ताज और होटल ओबरॉय में आतंकियों के दाखिल होने और गोलीबारी की खबरों ने पूरे देश ही नहीं बल्कि पूरी दुनिया को हरकत में ला दिया था। एनसीजी की कार्रवाई के बाद सभी आतंकवादी मार गिराए गए और करीब 60 घंटे के बाद मुंबई ने राहत की सांस ली थी।

    मुंबई। 26/11 मुंबई आतंकी हमले ने पूरे देश को झकझोर कर रख दिया था। इस हमले के दौरान पाकिस्तान का रहनेवाला आतंकी अजमल कसाब जिंदा पकड़ा गया था। कसाब को जिंदा पकड़ने में मुंबई पुलिस के एएसआई तुकाराम ओंबले को अपनी जान गंवानी पड़ी। शहीद तुकारम ओंबले ने अपनी वीरता की ऐसी इबारत लिखी जिसे आनेवाली सदियां याद रखेंगी। 

  तुकाराम ओंबले ने सफेद स्कोडा लेकर भागे अजमल कसाब और इस्माइल की कार को गिरगांव चौपाटी पर रोका था। इसी दौरान फायरिंग में इस्माइल की मौत हो गई जबकि अजमल कसाब की एके 47 तुकाराम ओंबले ने पकड़ ली थी। इसी दौरान फायरिंग में तुकाराम ओंबले को कई गोलियां लगी थी। तुकाराम और अन्य पुलिसकर्मियों ने अजमल कसाब को जिंदा पकड़ लिया। गंभीर रूप से घायल तुकाराम ओंबले ने अस्पताल में दम तोड़ दिया था।

  26/11 हमले के 10 साल बाद भी तनकर खड़ा है चाबड़ हाउस[object object] मुंबई हमले की पूर्व संध्या पर विशेष : तुकाराम ओंबले की बहादुरी से जिंदा पकड़ा गया था आतंकी कसाब              300x212

   मुंबई: मुंबई में 26 नवंबर 2008 को हुए आतंकवादी हमले के 10 साल पूरे होने के मौके पर चाबड़ हाउस मारत के ठीक सामने स्थित रेक्स बेकरी में नए सिरे से रंगाई-पुताई हुई है, लेकिन इसकी दीवार पर नजर आ रहे गोली के निशान पर लाल घेरा लगाया गया है। पाकिस्तानी आतंकवादियों के हमले के बावजूद दक्षिण मुंबई के कोलाबा स्थित चाबड़ हाउस की पांच मंजिला इमारत आज भी तनकर खड़ी है। 

   बेकरी के संचालक कुरैश जोराबी की ओर से दीवार पर ये संदेश लिखा गया है, ‘‘हम मुंबई पर हुए 26/11 के आतंकवादी हमले की निंदा करते हैं।’’ मुंबई में इजराइल के महावाणिज्य दूत याकोव फिंकलस्टीन ने कहा कि इस हमले से भारत और इजराइल के संबंध प्रभावित नहीं हुए और आज भी इजराइल के लोग यहां सुरक्षित महसूस करते हैं। 

इजराइल के महावाणिज्य दूत के मुताबिक, मुंबई में करीब 4,000 भारतीय यहूदी रहते हैं। याकोव फिंकलस्टीन की बातों से सहमति जताते हुए स्थानीय यहूदी सैमसन मॉसेज ने कहा, ‘‘(चाबड़ हाउस में) सुरक्षा के इंतजाम किए गए हैं। हमें यहां आना पसंद है। सुरक्षा का कोई मसला नहीं है।’’ 

चाबड़ हाउस के आसपास की सड़कों पर अब कई सीसीटीवी कैमरे लगाए जा चुके हैं। फिंकलस्टीन ने कहा, ‘‘भारतीय अधिकारियों ने (सुरक्षा बढ़ाने) का ये कदम उठाया है। आतंकवादी हमलों को लेकर अब लोगों और अधिकारियों में काफी जागरूकता है। भविष्य के हमले रोकना मकसद है। ये हमले सिर्फ यहूदियों के खिलाफ नहीं रोकने बल्कि हर किसी के खिलाफ रोकने हैं।’’ उन्होंने कहा कि 26/11 हमले के 10 साल पूरे होने के मौके पर चाबड़ हाउस यहूदी समुदाय के साथ एक कार्यक्रम का आयोजन कर रहा है।

About Kumar Addu

Check Also

GST इफेक्ट :टीवी, फ्रिज, वाशिंग मशीन समेत घरेलू उपकरण हुए सस्ते ll 310x165

GST इफेक्ट :टीवी, फ्रिज, वाशिंग मशीन समेत घरेलू उपकरण हुए सस्ते

नयी दिल्ली : टीवी, रेफ्रिजरेटर, वाशिंग मशीन और अन्य इलेक्ट्रिक उपकरणों जैसे सामान्य घरेलू इस्तेमाल के …

Leave a Reply

Copyright © 2017, All Right Reversed.