Sunday , December 16 2018 [ 11:29 PM ]
Breaking News
Home / राज्य / उत्तर प्रदेश / जिले में बढ़ रहे अपराध को रोक पाने में नाकाम रहे एसपी अमित वर्माको हटाया नये एसपी अनुराग वत्स ने सभाली सुल्तानपुर की कमान
[object object] जिले में बढ़ रहे अपराध को रोक पाने में नाकाम रहे एसपी अमित वर्माको हटाया नये एसपी अनुराग वत्स ने सभाली सुल्तानपुर की कमान

जिले में बढ़ रहे अपराध को रोक पाने में नाकाम रहे एसपी अमित वर्माको हटाया नये एसपी अनुराग वत्स ने सभाली सुल्तानपुर की कमान

    सुल्तानपुर ,डॉ .सचिन सिंह !उत्तर प्रदेश पुलिस ने जनता की सुरक्षा की जिम्मेदारी ऐसे तेज तर्रार और ईमानदार अधिकारियों को सौंपी है जिन्होंने अपराधियों और अपराध पर तेजी से लगाम लगाया है। ऐसे ही ईमानदार और तेज तर्रार आईपीएस अधिकारियों में एक नाम है अनुराग वत्स का।
    लखनऊ में एसपी सिटी नॉर्थ के पद पर तैनात अनुराग वत्स 2013 बैच के आईपीएस अधिकारी हैं। एसपी अनुराग वत्स अपने काम करने के अंदाज की वजह से जाने जाते हैं। उनका मानना है कि हमें क्राइम होने की संभावनाओं को खत्म करना चाहिए, जिससे अपराधियों पर अंकुश लगाया जाए।

*देश सेवा के जज्बे ने बनाया आईपीएस*

   [object object] जिले में बढ़ रहे अपराध को रोक पाने में नाकाम रहे एसपी अमित वर्माको हटाया नये एसपी अनुराग वत्स ने सभाली सुल्तानपुर की कमान           300x222 यूपी पुलिस न्यूज से खास बातचीत के दौरान आईपीएस अनुराग वत्स ने बताया कि वह गाजियाबाद जनपद के मुरादनगर के रहने वाले हैं। उनकी प्रारंभिक शिक्षा गांव में ही मौजूद स्कूल से हुई। इसके बाद उन्होंने मुरादनगरऑर्डिनेंस फैक्ट्री इंटर कॉलेज से बारहवीं तक की शिक्षा प्राप्त की। इंटरमीडिएट तक की पढ़ाई के बाद एसपी अनुराग वत्स ने दिल्ली कॉलेज ऑफ इंजीनियरिंग से इलेक्ट्रॉनिक्स एंड कम्युनिकेशन में इंजीनियरिंग की डिग्री ली।

इंजीनियरिंग की पढ़ाई करने के साथ-साथ एसपी अनुराग वत्स सिविल सर्विसेज की भी तैयारी करते रहे और साल 2013 में आईपीएस के लिए चयनित हुए। इसके बाद गौतमबुद्ध नगर में अनुराग वत्स की ट्रेनिंग हुई। ट्रेनिंग पूरी करने के बाद उन्हें शाहजहांपुर और आगरा में काम करने का मौका मिला।

*पिता बने आईपीएस अनुराग वत्स के लिए प्रेरणास्त्रोत*

अनुराग वत्स ने बताया कि उनके पिता शिक्षक हैं और समाज में ऊंचा स्थान और सम्मान उनके लिए हमेशा प्रेरणा का स्त्रोत रहा। उन्होंने बताया कि एक शिक्षक का पुत्र होने की वजह से समाज के प्रति एक नैतिक और सामाजिक जिम्मेदारी बनी।

एसपी अनुराग वत्स ने अपना अनुभव साझा करते हुए बताया कि जब आप एक शिक्षक के बेटे होते हैं तो आपके पास कुछ गलत करने की संभावनाएं नहीं होती हैं।

डेमोक्रेसी में सभी के साथ मिलकर करना होता है काम*

उन्होंने काम करने के तरीके का जिक्र करते हुए कहा कि डेमोक्रेसी में हमें मीडिया, नेताओं और व्यापारियों सभी के साथ मिलकर काम करना होता है। एसपी अनुराग वत्स ने कहा कि सभी की अपनी जिम्मेदारी होती है गलत को सही करने की। उन्होंने कहा कि हमें सिर्फ यह बताना होता है कि क्या सही है और क्या गलत है।

एसपी अनुराग वत्स ने कहा कि नेता समाज के चुने हुए जिम्मेदार लोग हैं, जब हम उन्हें किसी चीज की जानकारी देते हैं तो वह हमारा साथ देते हैं। उन्होंने कहा कि हमारे ऊपर गलत कराने का दबाव नहीं होता है और न ही हम लेते हैं।

About Arun Kumar Singh

Check Also

अार्केस्ट्रा में नाचने को लेकर भिड़े घराती-बाराती, फूंक दी कार, बैरंग लौटी बरात           310x165

अार्केस्ट्रा में नाचने को लेकर भिड़े घराती-बाराती, फूंक दी कार, बैरंग लौटी बरात

     जौनपुर,निशा श्रीवास्तव । जलालपुर थाना क्षेत्र के लालपुर गांव में शनिवार की रात साढ़े …

Leave a Reply

Copyright © 2017, All Right Reversed.