Sunday , December 16 2018 [ 8:25 PM ]
Breaking News
Home / अन्य / भाजपा सरकार के अलोकतांत्रिक आचरण पर राजभवन मौन -पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव
[object object] भाजपा सरकार के अलोकतांत्रिक आचरण पर राजभवन  मौन -पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव akhilesh21 660x330
Uttar Pradesh Chief Minister Akhilesh Yadav addressing a press conference at his official residence in Lucknow on saturday.Express photo by Vishal Srivastav 17.09.2016

भाजपा सरकार के अलोकतांत्रिक आचरण पर राजभवन मौन -पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव

       समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने कहा है कि भाजपा सरकार पूरी तरह मनमानी पर उतर आई है। उसका आचरण अलोकतांत्रिक है। छात्रों, नौजवानों के आंदोलन को कुचलने में भाजपा सरकार कोई कसर  नहीं छोड़ रही है। असहमति की आवाज का दमन इस हद तक हो रहा है कि जो भी सरकार की जन विरोधी नीतियों के विरूद्ध आवाज उठाता है उस पर गंभीर अपराधिक धाराओं में मुकदमें तक दर्ज करा दिए जाते हैं। विडम्बना यह है कि भाजपा सरकार के अलोकतांत्रिक आचरण पर राजभवन ने मौन धारण कर रखा है जबकि प्रदेश में कानूनव्यवस्था की स्थिति दिनों दिन बिगड़ती जा रही है। समाजवादी सरकार बनने पर ऐसे तमाम फर्जी एनकाउण्टर एवं अन्य ऐसे तमाम मामलों की जांच होगी और जो भी अधिकारी जिम्मेदार होगा, उसके विरूद्ध कार्यवाही होगी।
      मिर्जापुर, सुल्तानपुर, बुलंदशहर में मुख्यमंत्री जी के जाने पर कफ्र्यू जैसी स्थिति बना दी गई। तमाम निर्दोष लोगों को अपराधिक धाराओं में गिरफ्तार किया गया। सीतापुर से गन्ना किसानों की बदहाली भाजपा सरकार को बताने के लिए लखनऊ तक पदयात्रा करने वाले नौजवानों पर पुलिस ने अकारण लाठी चार्ज किया। इसमें आधा दर्जन से ज्यादा पदयात्री युवा घायल हो गए। भाजपा के एक मंत्री के अनर्गल बयान से असहमति दर्ज कराने के लिए आधा दर्जन नौजवानों ने प्रदर्षन किया तो उनको भी गिरफ्तार कर यातना दी गई। असहमति को भाजपा दुश्मनी मानती है और तानाषाही रवैया अपनाती है। 
   

[object object] भाजपा सरकार के अलोकतांत्रिक आचरण पर राजभवन  मौन -पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव akhilesh21 300x167

  भाजपा सरकार ने नौजवानों और किसानों का सबसे ज्यादा उत्पीड़न किया है। नौजवानों को रोजगार तो मिला नहीं, जिनको समाजवादी सरकार में नौकरियां मिल रही थीं उनका भी रोजगार छीन लिया गया है। महिलाओं और बच्चियों का मान सम्मान भी भाजपा सरकार में सुरक्षित नहीं है।

      भाजपा राज में गन्ना, आलू और गेंहू किसान बरबाद हो गए हैं। गन्ना किसानों का दस हजार करोड़ रूपया बकाया है। मिल मालिक पेराई बंद करते जा रहे हैं जबकि किसानों का गन्ना अब भी खेतों में खड़ा है। घटतौली के अलावा गन्ना किसानों को मिलों पर तरह-तरह से परेशान किया जा रहा है। मजबूरन किसानों को गन्ना जलाना पड़ जाएगा। आलू किसानों के साथ तो बड़ा धोखा हुआ। सरकार ने वादे कई किए परन्तु किसानों को दिया कुछ नहीं। गेंहू किसानों की फसल निर्धारित समर्थन मूल्य पर क्रय केन्द्रों में खरीदी नहीं जाती है, उल्टे बिचैलियों को मनमानी दरों पर खरीद की छूट दी जाती है।
       भाजपा सरकार ने अब तक प्रदेश की समस्याओं के समाधान की दिशा में कोई कदम नहीं उठाया है। एक साल पूरा हो गया फिर भी भाजपा की एक भी अपनी योजना अब तक लागू नहीं हुई है। भाजपा की एक उपलब्धि तो यही है कि वह समाजवादी सरकार के कामों को ही अपना बताते हुए समय काट रही है। भाजपा की दूसरी बड़ी उपलब्धि यही है कि समाजवादी सरकार में प्रदेश ने पिछले पांच वर्षों में विकास की जो मंजिले तय कर ली थी भाजपा सरकार  उसे भी मटियामेट करने पर तुली हुई है।Raj Bhavan silence on the undemocratic behavior of BJP government – Former Chief Minister Akhilesh Yadav

About Arun Kumar Singh

Check Also

क्‍या कहता है आज का पंचांग, जानें शुभ और अशुभ मुहूर्त एवं राशिफल        250x165

क्‍या कहता है आज का पंचांग, जानें शुभ और अशुभ मुहूर्त एवं राशिफल

दिनांक : 16 Dec 2018का पंचांग तिथि : शुक्ल पक्ष अष्टमी नक्षत्र : उत्तराभाद्रपदा योग : व्यतिपात करण …

Leave a Reply

Copyright © 2017, All Right Reversed.