Friday , January 24 2020 [ 10:10 AM ]
Breaking News
Home / अन्य / सशस्त्र बलों की 6 दशकों से की जा रही मांग को आज पूरा करेंगे पीएम मोदी

सशस्त्र बलों की 6 दशकों से की जा रही मांग को आज पूरा करेंगे पीएम मोदी

सशस्त्र बलों की ओर से ऐसे राष्ट्रीय स्मारक की बीते 6 दशकों से मांग की जा रही थी। मौजूदा केंद्र सरकार ने 2015 में इस स्मारक के निर्माण के प्रस्ताव को मंजूरी दी थी।
आज राष्ट्रीय युद्ध स्मारक का उद्घाटन करेंगे PM नरेंद्र मोदी, पूरी होगी 6 दशक पुरानी मुराद!

सशस्त्र बलों की 6 दशकों से की जा रही मांग को आज पूरा करेंगे पीएम मोदी

नई दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सोमवार को इंडिया गेट के पास राष्ट्रीय युद्ध स्मारक का उद्घाटन करेंगे। इस बारे में एक अधिकारी ने जानकारी देते हुए बताया कि इस अवसर पर प्रधानमंत्री के अलावा रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण, तीनों सेनाओं के प्रमुखों सहित कई गणमान्य लोग उपस्थित रहेंगे। आपको बता दें कि यह स्मारक आजादी के बाद से देश के लिए अपने प्राण न्यौछावर करने वाले सैनिकों के सम्मान में बनाया गया है। यह स्मारक 176 करोड़ रुपये की लागत से बनकर तैयार हुआ है।

एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा, ‘प्रधानमंत्री 25 फरवरी को स्मारक को राष्ट्र को समर्पित करेंगे। रक्षा मंत्री, सेना, नौसेना और वायु सेना के प्रमुख समेत कई गणमान्य लोग इस अवसर पर उपस्थित रहेंगे।’ आजादी के बाद हुई लड़ाइयों और स्वतंत्रता आंदोलन के दौरान ऑपरेशंस में जान देने वाले 26,000 सैनिकों के सम्मान में इंडिया गेट के ठीक सामने इस स्मारक को बनाया गया है। 1947-48, 1961 में गोवा मुक्ति आंदोलन, 1962 में चीन से युद्ध, 1965 में पाकिस्तान से युद्ध, 1971 में बांग्लादेश निर्माण, 1987 में सियाचिन, 1987-88 में श्रीलंका और 1999 में कारगिल युद्ध में शहीद होने वाले सैनिकों के सम्मान में इसका निर्माण किया गया है।

सशस्त्र बलों की ओर से ऐसे राष्ट्रीय स्मारक की बीते 6 दशकों से मांग की जा रही थी। मौजूदा केंद्र सरकार ने 2015 में इस स्मारक के निर्माण के प्रस्ताव को मंजूरी दी थी। गौरतलब है कि दुनिया के बड़े देशों में अब तक भारत ही था, जहां सैनिकों के बलिदान को याद करने के लिए कोई वॉर मेमोरियल नहीं था, लेकिन अब इसके निर्माण के साथ वह कमी भी पूरी हो गई है। इससे पहले इंडिया गेट वॉर मेमोरियल बना था लेकिन उसे अंग्रेजों ने बनवाया था। इंडिटा गेट को 1931 में पहले विश्व युद्ध में हिस्सा लेने वाले भारतीय सैनिकों के सम्मान में बनाया गया था।

About Arun Kumar Singh

Check Also

सी0ए0ए0 नागरिकता देने का कानून है, लेने का नहीं: मुख्यमंत्री Capture 13 310x165

सी0ए0ए0 नागरिकता देने का कानून है, लेने का नहीं: मुख्यमंत्री

मुख्यमंत्री ने कानून व्यवस्था, मुख्यमंत्री कन्या सुमंगला योजना, कम्बल वितरण, गोवंश, रैन बसेरों की व्यवस्थाओं के …

Leave a Reply

Copyright © 2017, All Right Reversed.