Friday , January 24 2020 [ 2:36 AM ]
Breaking News
Home / अन्य / पीएनबी घोटाला: नीरव मोदी की मदद के लिए पूर्व बैंक अधिकारी ने शेयर किए थे पासवर्ड्स
पीएनबी घोटाला: नीरव मोदी की मदद के लिए पूर्व बैंक अधिकारी ने शेयर किए थे पासवर्ड्स

पीएनबी घोटाला: नीरव मोदी की मदद के लिए पूर्व बैंक अधिकारी ने शेयर किए थे पासवर्ड्स

नई दिल्ली/मुंबई 
      पंजाब नैशनल बैंक (पीएनबी) के साथ हुए 11,300 करोड़ रुपए के महाघोटाले में एक नई जानकारी सामने आई है। घोटाले में ब्रांच के पूर्व डिप्टी मैनेजर गोकुलनाथ शेट्टी का नाम पहले से ही मुख्य तौर पर सामने आ रहा है। अब पता लगा है कि स्विफ्ट प्रोसेस के पासवर्ड गोकुलनाथ शेट्टी के साथ-साथ कुछ अफसरों और नीरव मोदी के लोगों को भी पता थे। सीबीआई के अनुसार नीरव मोदी और उसके लोग खुद भी लेटर ऑफ अंडरटेकिंग (एलओयू) जारी कर लेते थे।

  पीएनबी घोटाला: नीरव मोदी की मदद के लिए पूर्व बैंक अधिकारी ने शेयर किए थे पासवर्ड्स nn 300x205   शेट्टी ने इसके लिए जरूरी लेवल-5 पासवर्ड को नीरव के कर्मचारियों से भी शेयर किया था। उन्होंने खुद कुछ और बैंक अधिकारियों के इस घोटाले में शामिल होने की बात भी कबूली है। शनिवार को यह सारी जानकारी सीबीआई ने कोर्ट को सौंपी। इसके लिए सीबीआई ने रविवार रात को ब्रैडी हाउस ब्रांच की छानबीन भी की थी। 

क्या है स्विफ्ट प्रोसेस? 
यह एक मेसेजिंग नेटवर्क होता है। पैसे के लेन-देन से जुड़ी जानकारी को भेजने-रिसीव करने के लिए इसे सबसे सुरक्षित, तेज सिस्टम माना जाता है। लेकिन इस मामले में यह सिस्टम पीएनबी के इंटरनल सिस्टम से जुड़ा हुआ नहीं था। 

इसका मतलब यह है कि कर्मचारी को अपने आप से इंटरनल सिस्टम में एंट्री करनी होती थी और अगर वह ऐसा नहीं करता था तो हुए लेन-देन का पता ही नहीं चलता था। वो लेन-देन बैंक सिस्टम में कहीं दिखाई ही नहीं देता था। 

शेट्टी ने 2010 से 2017 तक उस ब्रांच में काम किया। इस दौरान उन्होंने बैंक के इंटरनल सिस्टम में एंट्री नहीं होने दी। 

    पासवर्ड दूसरे कर्मचारियों को पता होना पीएनबी के सीनियर बैंक अधिकारी को बड़ी आम बत लगी। उन्होंने कहा, ‘सुबह-सुबह ही बैंक में लोगों की भीड़ लग जाती है और ऐसे में 101 काम देखने होते हैं। कोई आपका काम कर रहा होता तो आप किसी और का कर देते हैं।’ हालांकि, उन्होंने भी माना कि ऐसा होना तो नहीं चाहिए। 

  PNB scam: Former bank official had shared passwords for the help of Nirav Modi

About Arun Kumar Singh

Check Also

सी0ए0ए0 नागरिकता देने का कानून है, लेने का नहीं: मुख्यमंत्री Capture 13 310x165

सी0ए0ए0 नागरिकता देने का कानून है, लेने का नहीं: मुख्यमंत्री

मुख्यमंत्री ने कानून व्यवस्था, मुख्यमंत्री कन्या सुमंगला योजना, कम्बल वितरण, गोवंश, रैन बसेरों की व्यवस्थाओं के …

Leave a Reply

Copyright © 2017, All Right Reversed.