Wednesday , April 24 2019 [ 5:55 AM ]
Breaking News
Home / अन्य / पीएम मोदी ने शहीद जवानों को श्रद्धांजलि दी, पहली बार होगी आर्मी के महिला दस्ते की परेड
पीएम मोदी ने शहीद जवानों को श्रद्धांजलि दी, पहली बार होगी आर्मी के महिला दस्ते की परेड

पीएम मोदी ने शहीद जवानों को श्रद्धांजलि दी, पहली बार होगी आर्मी के महिला दस्ते की परेड

इस बार परेड में ऐसा बहुत कुछ होगा जो पहले नहीं हुआ। पहली बार महिलाओं का दस्ता राजपथ पर परेड करेगा। ये मौका असम राइफल्स की बहादुर महिलाओं को मिला है। इसके अलावा होवित्ज़र तोप और वज्र टैंक का भी पहली बार प्रदर्शन किया जाएगा।

पीएम मोदी ने शहीद जवानों को श्रद्धांजलि दी, पहली बार होगी आर्मी के महिला दस्ते की परेड

नई दिल्ली: आज भारत अपना 70वां गणतंत्र दिवस मना रहा है। इस मौके पर देश भर में जश्न का माहौल है। गणतंत्र दिवस का मुख्य समारोह राजपथ पर होगा जहां देश की आन-बान और शान का प्रदर्शन किया जाएगा। सेना की तीनों टुकड़ियों के जवान परेड करेंगे और भारतीय सेना के पास मौजूद हथियारों का दम दिखाया जाएगा। इसके अलावा इस बार परेड में ऐसा बहुत कुछ होगा जो पहले नहीं हुआ। पहली बार महिलाओं का दस्ता राजपथ पर परेड करेगा। ये मौका असम राइफल्स की बहादुर महिलाओं को मिला है। इसके अलावा होवित्ज़र तोप और वज्र टैंक का भी पहली बार प्रदर्शन किया जाएगा।


वहीं जैश ए मोहम्मद के दो संदिग्ध सदस्यों अब्दुल लतीफ गनई उर्फ उमैर उर्फ दिलावर और हिलाल अहमद भट की गिरफ्तारी के बाद दिल्ली में सुरक्षा कड़ी कर दी गई है। दोनों संदिग्ध आतंकवादी गणतंत्र दिवस समारोहों के दौरान शहर में आतंकवादी हमले करने की साजिश रच रहे थे। पुलिस ने बताया कि गिरफ्तार किए गए जैश-ए-मोहम्मद के सदस्यों ने हमलों के लिए लाजपत नगर बाजार, हज मंजिल, तुर्कमान गेट, पहाड़गंज, इंडिया गेट और पूर्वी दिल्ली में आईजीएल गैस पाइपलाइन को अपना संभावित लक्ष्य बनाया था । 

पीएम मोदी ने शहीद जवानों को श्रद्धांजलि दी, पहली बार होगी आर्मी के महिला दस्ते की परेड
गृहमंत्री ,राजनाथ सिंह एवं सडक परिवहन मंत्री नितिन गडकरी ने अपने आवास पर तिरंगा फहराया

इंडिया गेट पर पीएम मोदी ने शहीद जवानों को श्रद्धांजलि दी

-इंडिया गेट पहुंचे तीनों सेना प्रमुख, कुछ देर में पहुंचेंगे पीएम मोदी
-केंद्रीय मंत्री राजनाथ सिंह और नितिन गडकरी ने अपने-अपने आवास पर तिरंगा पहराया

लखनऊ में यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ ने गणतंत्र दिवस समारोह में भाग लिया
-इस बार गणतंत्र दिवस परेड के लिए कुल 22 झाकिंयों का चयन किया गया है। खास बात ये है कि इस बार परेड में केंद्रीय औद्योगिक सुरक्षा बल (CISF) की झांकी को 11 साल बाद शामिल किया गया है
-BJP अध्यक्ष अमित शाह ने दिल्ली स्थित बीजेपी मुख्यालय में फहराया तिरंगा

-राजपथ पर परेड देखने भारी संख्या में लोग पहुंचे। दक्षिण अफ्रीका के राष्ट्रपति सिरिल रामफोसा होंगे चीफ गेस्ट
-तमिलनाडु के राज्यपाल बनवारीलाल पुरोहित ने फहराया झंडा, मुख्यमंत्री पलानिसामी भी मौजूद रहे
-दिल्ली में सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए गए हैं। इस मौके पर 50,000 जवानों की तैनाती है

पुलिस उपायुक्त (नयी दिल्ली) मधुर वर्मा ने बताया कि शहर में बहुस्तरीय सुरक्षा प्रबंध किए गए हैं। यातायात अधिकारियों समेत करीब 25,000 पुलिसकर्मी तैनात किए गए हैं। राजपथ में सीसीटीवी कैमरा और चेहरा पहचानने वाले कैमरे भी लगाए गए हैं। पिछले साल अगस्त में औपचारिक रूप से शामिल स्वाट इकाई की 36 महिला कमांडो भी सुरक्षा प्रबंधों का हिस्सा होंगी। एनएसजी प्रशिक्षित कमांडो के साथ पराक्रम वैन सामरिक रुप से महत्वपूर्ण स्थलों पर गश्त कर रहे हैं। 

ऊंची इमारतों पर स्नाइपर तैनात किए गए हैं और परेड मार्ग पर लोगों की गतिविधि पर सीसीटीवी कैमरा नजर रख रहे हैं हवाई क्षेत्र की सुरक्षा के लिए विमान भेदी तोपों समेत सुरक्षा के व्यापक प्रबंध किए गए हैं। एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने बताया कि दिल्ली पुलिस और केंद्रीय सुरक्षा बलों के करीब 25000 सुरक्षा कर्मी दिल्ली में तैनात किए गए हैं। किसी भी प्रकार के हमले की कोशिश को नाकाम करने या हवा में किसी संदिग्ध वस्तु का पता लगाने के लिए ड्रोन रोधी प्रौद्योगिकी भी इस्तेमाल की जा रही है।

सुरक्षा बलों ने भीड़भाड़ वाले बाजारों, रेलवे स्टेशनों, बस अड्डों और अन्य महत्वपूर्ण प्रतिष्ठानों को संवेदनशील स्थानों के रूप में चिहि्नत किया है। उनकी सुरक्षा के लिए प्रयास किए जा रहे हैं। यातायात पुलिस ने मार्गों में परिवर्तन का प्रबंधन और आगंतुक गणमान्य लोगों की सुरक्षित यात्रा सुनिश्चित करने के लिए 3000 कर्मियों को तैनात किया है। 

यातायात पुलिस के अधिकारियों ने शुक्रवार को बताया कि विजय चौक और लाल किला मैदान के बीच गणतंत्र दिवस परेड के सुचारू संचालन के लिए दिल्ली में यातायात के व्यापक प्रबंध किए गए हैं और पाबंदियां लगाई गई हैं। गणतंत्र दिवस पर यात्रियों के लिए मेट्रो सेवा सभी स्टेशनों पर उपलब्ध रहेगी लेकिन सुबह पांच बजे से दोपहर 12 बजे तक केंद्रीय सचिवालय और उद्योग भवन स्टेशनों पर मेट्रो में चढ़ने-उतरने की अनुमति नहीं होगी।

About Arun Kumar Singh

Check Also

लोकतंत्र के महापर्व यानि लोकसभा चुनाव 2019: दूसरे फेज की वोटिंग में करीब 66 फीसदी वोट पड़े Capture 14 298x165

लोकतंत्र के महापर्व यानि लोकसभा चुनाव 2019: दूसरे फेज की वोटिंग में करीब 66 फीसदी वोट पड़े

लोकतंत्र के महापर्व यानि लोकसभा चुनाव के लिए 18 अप्रैल को दूसरे चरण का मतदान …

Leave a Reply

Copyright © 2017, All Right Reversed.