Monday , April 22 2019 [ 9:36 AM ]
Breaking News
Home / विविध / अध्यात्म एवं राशिफल / 12 राशियों के लिए धन-संपत्ति, परिवार और कारोबार को लेकर कैसा रहेगा नया साल 2019
12 राशियों के लिए धन-संपत्ति, परिवार और कारोबार को लेकर कैसा रहेगा नया साल 2019              648x330

12 राशियों के लिए धन-संपत्ति, परिवार और कारोबार को लेकर कैसा रहेगा नया साल 2019

नववर्ष के आगमन में अब मात्र चंद घंटे बाकी है !! उसके बाद तारीखों में साल बदल जाएगा। ग्रहों की चाल में भी बड़े बदलाव होंगे। इस बदलाव से कुछ राशियों को लाभ होगा तो कुछ को हानि भी हो सकती है।
कैसा रहेगा नया साल 2019, बता रहे हैं जानी-मानी ज्योतिषविद् रुपाली सक्सेना । सभी राशियों के लिए कैसा रहेगा यह साल 2019 और क्‍या हैं उनके लिए श्रेष्‍ठ उपाय…

12 राशियों के लिए धन-संपत्ति, परिवार और कारोबार को लेकर कैसा रहेगा नया साल 2019 new

मेष राशिफल 2019

राशि चिन्ह: मेढ़ा
राशि तत्व: अग्नि
राशि स्वामी: मंगल

जनवरी से मार्च के मध्य राहू की स्थिति आपकी राशि से चतुर्थ और बृहस्पति की स्थिति अष्टम् भाव में सहयोगी नहीं है। मंगल भी कुछ हद तक नेगेटिव है। इन तीन महीनों – जनवरी, फरवरी और मार्च के दौरान नौकरी, व्यवसाय संबंधी कार्यकलापों में मन परेशान रहेगा। परिवार में कुछ भावनात्मक मसले भी मानसिक संतुलन को डिस्टर्ब कर सकते हैं। धन संबंधी मामलों में विशेष सावधानी बरतने की आवश्यकता है। पूंजी निवेश संबंधी निर्णय बहुत ही सावधानी के साथ लेने चाहिए वरना हानि भी हो सकती है। 
राशि चिन्ह: मेढ़ा
राशि तत्व: अग्नि
राशि स्वामी: मंगल

जनवरी से मार्च के मध्य राहू की स्थिति आपकी राशि से चतुर्थ और बृहस्पति की स्थिति अष्टम् भाव में सहयोगी नहीं है। मंगल भी कुछ हद तक नेगेटिव है। इन तीन महीनों – जनवरी, फरवरी और मार्च के दौरान नौकरी, व्यवसाय संबंधी कार्यकलापों में मन परेशान रहेगा। परिवार में कुछ भावनात्मक मसले भी मानसिक संतुलन को डिस्टर्ब कर सकते हैं। धन संबंधी मामलों में विशेष सावधानी बरतने की आवश्यकता है। पूंजी निवेश संबंधी निर्णय बहुत ही सावधानी के साथ लेने चाहिए वरना हानि भी हो सकती है। 

अप्रैल का महीना विशेष तौर से अच्छा रहेगा। राहू 23 मार्च को मिथुन राशि यानि आपकी राशि से तृतीय स्थान में और बृहस्पति 29 मार्च को धनु में प्रवेश कर चुका है। भाग्य के सहयोग से कठिन कार्य संपन्न होंगे। महत्वपूर्ण व्यक्तियों से न केवल संबंध बनेंगे बल्कि उनसे लाभ भी होगा। कार्यवश यात्रा की स्थितियां बनेंगी और इन यात्राओं से व्यापक लाभ भी होगा। 

मई से अक्टूबर के मध्य बृहस्पति पुनः वक्रगति में चलते हुए अष्टम् भाव यानि वृश्चिक राशि में रहेगा। बाकी अधिकतर ग्रह सूर्य, शनि, मंगल, शुक्र और बुध कमोबेशी अच्छे फल देंगे। बृहस्पति के राशि से अष्टम् भाव में संक्रमण के कारण भाग्य का सहयोग उतना प्राप्त नहीं होगा जितने प्रयास करेंगे। इसका संतुलन बैठाने का एक ही तरीका है कि अपने प्रयत्नों को डबल कर दिया जाये। वर्तमान नौकरी, व्यवसाय में आगे बढ़ने के अवसर मिलेंगे। विरोध के बावजूद भी आप तरक्की करेंगे। 

मई, जून, अगस्त और सितम्बर के महीने विशेष रूप से अच्छे रहेंगे। अगर इस दौरान किसी नये काम का शुभारम्भ करना चाह रहे हैं या वर्तमान कार्य में बढ़ोतरी करने के इच्छुक हैं तो आपको निसंदेह सफलता प्राप्त होगी। जो लोग परीक्षा, प्रतियोगिता आदि में सम्मिलित हो रहे हैं उन्हें सफलता प्राप्त होगी। अगर आपका रूझान लेखन, साहित्य, कला, संगीत, फैशन, सिनेमा या खेल जगत में है तो अपनी प्रतिभा के बल पर अपना स्टेटस बढ़ाने में सफल रहेंगे। आर्थिक दृष्टि से यह समय बहुत अच्छा रहेगा। अगर विदेश में नौकरी, व्यवसाय, पढ़ाई इत्यादि के लिए जाने के इच्छुक हैं तो इन महीनों में अपने प्रयासों में तेजी लायें, आपको सफलता प्राप्त होगी। 

नवम्बर और दिसम्बर के महीने विशेष रूप से लाभदायक सिद्ध होंगे। पूरे साल भर आपकी राशि से अष्टम् भाव में हिचकोले खाता हुआ बृहस्पति अंतोतगत्वा 5 नवम्बर को आपकी राशि से नवम् भाव में विचरण करने लगेगा। जहां उसकी मुलाकात दो महत्वपूर्ण ग्रहों शनि और केतु से होगी। इस मिश्रित परिवर्तन के फलस्वरूप आपको अच्छे परिणाम मिलेंगे। इसका महत्वपूर्ण कारण यह है कि बृहस्पति धनु राशि का स्वामी है और शनि और केतु उसकी गिरफ्त में हैं। साधारण भाषा में इसे यूं भी समझा जा सकता है कि दो क्रूर ग्रह एक अत्यन्त शुभ ग्रह बृहस्पति के साथ और उसकी राशि में होने के कारण पूरी तरह से सुर में रहेंगे। इन महीनों में जहां एक और आपके रूके हुए, फंसे हुए, अटके हुए या अटकाये हुए कार्य आसानी से बनने लगेंगे वहीं आप उन चुनौतियों को भी हाथ में ले सकते हैं जिनको लेकर पहले मन में कई प्रकार की आशंकाएं थी। अगर नौकरी, व्यवसाय की तलाश में हैं या कोई स्टार्टअप करने की योजना है तो बेझिझक आगे बढ़ें आपको सफलता मिलेगी। मित्र-शुभचिंतकों का सहयोग बना रहेगा। बैंक या वित संस्थान और राज्य से भी लाभ हो सकता है। 

परिवारः

पारिवारिक दृष्टि से यूं तो यह वर्ष बहुत अच्छा है लेकिन जनवरी, फरवरी और जुलाई के महीनों में कुछ आपसी विरोध का सामना करना पड़ सकता है। धैर्य और संयम को बनाये रखना आपके लिए ज्यादा ठीक रहेगा। अप्रैल और नवम्बर-दिसम्बर के महीनों में कोई मांगलिक कार्य जैसे – विवाह, शिशु जन्म आदि को योग भी बना हुआ है। 

धन संपत्तिः

आर्थिक दृष्टि के लिए कुल मिलाकर यह वर्ष बहुत अच्छा है। अन्यत्र संकेत दिये गये हैं, उन दिनों में निवेश नहीं करना चाहिए। मार्च के बाद भूमि, मकान, फ्लैट या दुकान लेने का योग चल रहा है। अगर कोई मामला पारिवारिक संपत्ति को लेकर कोर्ट में चल रहा है तो उसे आपसी सहमति से सुलझाना ज्यादा बुद्धिमानी होगी। 

कार्यक्षेत्रः

कुल मिलाकर यह वर्ष कार्यक्षेत्र की दृष्टि से खराब नहीं है, लेकिन बीच-बीच में ऐसा समय आयेगा जहां आप अपने को अलग-थलग पाएंगे। हमारा मानना है कि चुनौतियां अवसर प्रदान करती हैं। अगर इस सूत्र को गांठ बांध लेंगे तो नेगेटिव समय भी ना केवल आसानी से व्यतीत होगा, बल्कि उसमें कुछ नया विचार भी पनपेगा जो बाद में बहुत काम आयेगा। 

सेहतः

यह वर्ष उन लोगों के लिए कठिन है जो बुजुर्ग होने के अलावा किसी क्रोनिक बीमारी से पीड़ित हैं। उन्हें विशेष रूप से अनुशासन में रहने की आवश्यककता है। सामान्य जन के लिए स्वास्थ्य को लेकर ज्यादा दिक्कत नहीं रहेगी। अगर आप मूलतः स्वस्थ हैं तो परिजनों का स्वास्थ्य बीच-बीच में चिन्ता का विषय बन सकता है। घबराने से समस्याएं समाप्त नहीं होती बल्कि अंडरस्टेंडिंग से होती हैं।

ज्योतिषीय उपायः

पुखराज, मूंगा और मोती धारण किया जा सकता है। पुखराज भाग्यवर्धक सिद्ध होगा। मंगा धैर्य और संयम में वृद्धि करेगा और मोती मानसिक और पारिवारिक शांति बनाये रखने में सहायता प्रदान करेगा। अपने इष्ट देव के मंत्र और योग-ध्यान करना सदैव न केवल सहायक होता है, बल्कि आपके इम्यून सिस्टम को भी मजबूत करता है। 

ये करेंः

लेखन, साहित्य, कला, संगीत, सिनेमा आदि में प्रवेश कर रहे हैं तो अपने प्रयत्नों में तीव्रता लायें।

ये न करेंः

निवेश संबंधी योजनाओं में उन महीनों में प्रवेश नहीं करना चाहिए, जिस समय के बारे मे अन्यत्र लिखा हुआ  है !

वृष राशिफल 2019

राशि चिन्ह: वृषभ (बैल)
राशि तत्व: पृथ्वी
राशि स्वामी: शुक्र

जनवरी से मार्च के मध्य में बृहस्पति आपकी राशि सप्तम स्थान में रहेगा और राहू 23 मार्च तक तृतीय भाव में विचरण करेगा। यह समय हर तरह से बेहतरीन सिद्ध होगा। वर्तमान नौकरी, व्यवसाय में आगे बढ़ने के अवसर प्राप्त होंगे। यदि किसी नये काम का शुभारम्भ करना चाह रहे हैं तो उसके लिए भी समय काफी उपयुक्त रहेगा। यदि विवाह के योग्य हैं तो विवाह का योग भी बना हुआ है। आपके संपर्क के दायरे का विस्तार होगा और जिन लोगों से जान-पहचान होगी उनसे आपको पर्याप्त लाभ भी प्राप्त होता रहेगा। कार्य से संबंधित यात्राओं का सिलसिला बना रहेगा और इन यात्राओं से भविष्य के लिए सुखद स्थितियां निर्मित होंगी। 

अप्रैल का महीना मिले-जुले फल प्रदान करेगा। 29 मार्च को बृहस्पति धनु में प्रवेश कर चुका है और बहुत अल्प समय तक ही इस राशि में रहकर 23 अप्रैल को पुनः वृश्चिक राशि में आ जायेगा। जोखिम उठाने की दृष्टि से यह महीना उचित नहीं है। धन संबंधी मामलों में विशेष सावधानी बरतनी चाहिए। वाणी पर भी संयम बतरने की आवश्यकता है। 

मई से लेकर अक्टूबर तक का समय कुल मिलाकर तो बहुत अच्छा रहेगा हालांकि बीच – बीच में थोड़ी उलझने भी पेश आएंगी। इस पूरी अवधि में बृहस्पति तो वृश्चिक में ही रहने वाला है। शनि और केतु अष्टम् भाव में ही रहेंगे। जहां एक और बृहत योजनाओं में प्रवेश करने का योग बनेगा वहीं दूसरी तरफ थोड़ा आगे चलकर कार्यों में मुश्किलें भी पेश आने लगेंगी। कभी धन को लेकर संकट हो सकता है और जिन लोगों के साथ डील कर रहे हैं वो भी समस्या पैदा कर सकते हैं। वर्तमान रोजी-रोजगार में कुछ ज्यादा असुविधा पेश नहीं आएंगी। मित्र – शुभचिन्तकों का सहयोग बना रहेगा। जो लोग परीक्षा, प्रतियोगिता या किसी अन्य कंपटीशन में हिस्सा ले रहें हैं, उन्हें विशेष प्रयत्न करने से ही सफलता मिलेगी। अगस्त और सितंबर के महीने थोड़े कमजोर हैं। पारिवारिक स्तर पर भी तनाव झेलना पड़ सकता है। रोजी-रोजगार को लेकर भी कुछ उलझनें पेश आ सकती हैं। स्वयं का व्यवहार या परिवार में किसी का स्वास्थ्य दोनों ही तकलीफदेह हो सकते हैं। 

नवंबर – दिसंबर के महीनों में भी स्थितियां संभवतः आपके पक्ष में नहीं रहेंगी। 5 नवम्बर को बृहस्पति भी शनि, केतु की युति के साथ अष्टम् भाव में सम्मिलित हो जायेगा। यह समय थोड़ा पीड़ादायक हो सकता है। विरोधियों के षडयंत्र के प्रति इस दौरान खासतौर से सतर्क रहें। पैतृक संपत्ति को लेकर यदि कोई मामला न्यायालय में चल रहा है और उसका फैसला आने को है तो हो सकता है यह फैसला आपके पक्ष में ना रहे। यदि समय रहते आपसी सहमति से मसले को सुलझाने का प्रयास करेंगे तब आपको सफलता मिल भी सकती है। बाकी ग्रह अच्छे हैं जिसके फलस्वरूप आपका मनोबल ऊंचा रहेगा और विपरीत स्थितियों में भी आप साहस का परिचय देंगे। कंफ्यूजन की स्थिति में खास मित्र-शुभचिंतकों से विचार-विमर्श करना आपके लिए लाभदायक रहेगा। यात्राओं का माहौल तो इस दौरान बनेगा लेकिन वही यात्राएं करना चाहिए जो हर तरीके से लाभ प्रदान कर सकती हैं। जो लोग रचनात्मक कार्यों से जुड़े हैं या खेल जगत में अपना भविष्य बनाने की इच्छा रखते हैं, तो उनके लिए यह समय काफी अच्छा है। लेकिन उच्च स्तर की सफलता प्राप्त करने के लिए प्रयास भी उच्च स्तर के होने चाहिए। 

परिवारः

परिवार की दृष्टि से यह वर्ष काफी अच्छा है। पारिवारिक वातावरण खुशहाली लिए रहेगा एवं परिवार में आत्मीयता का माहौल भी देखने को मिलेगा। जनवरी से मार्च और मई से जुलाई के मध्य परिवार में कोई शुभ कार्य भी हो सकता है। बच्चों का प्रदर्शन भी काफी सराहनीय रहेगा। अगर कोई बच्चा कंपटीशन या उच्च शिक्षा के लिए प्रयत्नशील हैं तो उसे अच्छी सफलता प्राप्त हो सकती है और आप भी उसका मार्गदर्शन सही तरीके से करें।

धन-सम्पत्तिः

इस वर्ष बृहस्पति अधिकतर आपकी राशि से सप्तम् भाव में ही विचरण करेगा और बाकी ग्रह भी कुल मिलाकर अच्छे हैं। यदि नया मकान, फ्लैट या प्रॉपर्टी लेना चाह रहे हैं तो उसमें आपको सफलता प्राप्त होगी। इस वर्ष आर्थिक स्थिति भी सुदृढ़ होगी। वाहन खरीदने का योग भी चल रहा है। घर या ऑफिस के रेनोवेशन का प्लान भी बना सकते हैं। 

कार्यक्षेत्रः

आप अपनी कार्य प्रणाली में वो बदलाव इस वर्ष ला पायेंगे जो पिछले काफी समय से आपके मन में हैं। कार्य स्थल, ऑफिस, दुकान आदि में आप नई योजनाओं पर काम करेंगे और उसमें आपको अच्छी सफलता भी प्राप्त होगी जिसके कारण लोग आपकी प्रशंसा भी करेंगे। हालांकि जो माह उपयुक्त नहीं है (अन्यत्र देंखे) उन दिनों में अपने सहयोगियों या अधिकारियों के साथ तनाव की स्थिति भी बन सकती है। इसे आप अपनी युक्ति से हल भी कर सकते हैं।

सेहतः

सेहत की दृष्टि से कुल मिलाकर यह वर्ष बहुत अच्छा है फिर भी हर व्यक्ति को अपने खान-पान, व्यायाम, नियम और अनुशासन का पालन अवश्य करना चाहिए। अनजाने मे हम कई बार समस्याएं मोल ले लेते हैं, जिनमें से बाद में निकलना आसान नहीं होता। अप्रैल, जुलाई और नवंबर माह सेहत की दृष्टि से नरम हैं। 

ज्योतिषीय उपायः

आपकी राशि के अनुसार आप नीलम, पन्ना और हीरा पहन सकते हैं। अगर स्वास्थ्य में कोई परेशानी है तो ओपल भी धारण किया जा सकता है। कार्यक्षेत्र में सफलता के लिए पांच मुखी रूद्राक्ष धारण करने से सभी समस्याओं के समाधान आसानी से प्राप्त होंगे।

क्या करेः

योग, ध्यान और धैर्य को अपना सारथी बनाने से कुछ समस्याएं स्वयं ही हल हो जाती हैं। अतः इस नियम का पालन करें।

क्या न करेंः

इस वर्ष ग्रह स्थिति बहुत अच्छी नहीं है, इसलिए कोई बड़ा कदम बहुत ही सोच-विचार और किसी विशेषज्ञ के साथ सलाह-मशविरा करने के बाद ही उठायें।

मिथुन राशिफल 2019

राशि चिन्ह: स्त्री-पुरूष का मिलन (संभोग)
राशि तत्व: वायु
राशि स्वामी: बुध

जनवरी से लेकर मार्च के मध्य आपकी राशि से प्रमुख ग्रहों की स्थिति बहुत सराहनीय नहीं है। राहू – द्वितीय स्थान में, शनि – सप्तम् स्थान में और बृहस्पति छठे स्थान में विचरण करेंगे। धन संबंधी मामलों को लेकर उलझनें पैदा हो सकती हैं। इंवेस्टमेंट संबंधी प्लानिंग पर पुनर्विचार करने की आवश्यकता है। दिये हुए धन के मिलने में भी असुविधा हो सकती है इसलिए धन संबंधी मामलों में सतर्कता बरतें। यदि बैंक, वित्त संस्थान, सरकार आदि से ऋण लेने के इच्छुक हैं तो अपने कागज आदि की पूरी तैयारी के साथ जाइयेगा। परिवार में और खासतौर से जीवन साथी के साथ किसी ऐसे मसले को लेकर मतभेद ऊभर सकते हैं जो बाद में दोनों को अनावश्यक मालूम पड़ेंगे। प्रेम संबंधों में भी अड़चनें आएंगी।

अप्रैल का महीना आपके लिए विशेषरूप से बेहतरीन सिद्ध होगा। बृहस्पति 29 मार्च को धनु में प्रवेश कर जायेगा हालांकि ज्यादा दिन इस राशि में रहेगा नहीं फिर भी यह महीना अच्छा व्यतीत होगा। किसी ऐसे महत्वपूर्ण कार्य के बनने की संभावना है, जिसकी आपने लगभग उम्मीद ही छोड़ दी हो। यदि परीक्षा, प्रतियोगिता में सम्मिलित हो रहे हैं तो उसका परिणाम सुखद रहेगा। जो लोग नौकरी, व्यवसाय के लिए इंटरव्यू आदि में हिस्सा ले रहे हैं तो उनके लिए भी सफलता का मार्ग प्रशस्त होगा। पारिवारिक सुख में वृद्धि होगी।

मई से अक्टूबर तक का समय मिले-जुले परिणाम देने वाला सिद्ध होगा। राहू आपकी राशि पर ही चल रहा है और शनि, केतु की स्थिति सप्तम् भाव में बनी हुई है। ऐसी स्थिति में लम्बी योजनाओं का प्लान नहीं बनाया जा सकता। लेकिन साथ ही शाॅर्ट टर्म योजनाओं से लाभ भी अर्जित किया जा सकता है। जून से अगस्त के महीने जहां पर सूर्य और मंगल की उपस्थिति अच्छी रहेगी। यह समय आपके लिए लाभदायक सिद्ध होगा। इस दौरान अपनी सूझबूझ से लिए गये निर्णय दूरगामी परिणाम देने वाले सिद्ध होंगे। जो लोग लेखन, साहित्य, संगीत, कला, सिनेमा या खेल जगत आदि से जुड़े हुए हैं, उन्हें आगे बढ़ने के सुवसर भी प्राप्त होंगे। इस समय में रूके हुए धन के मिलने की भी संभावना है। इस दौरान पारिवारिक वातावरण सुखद रहेगा और कोई नया प्रेम प्रसंग भी प्रारम्भ हो सकता है। 

नवम्बर – दिसम्बर के महीने हर तरीके से उत्तम सिद्ध होंगे। बृहस्पति 5 नवम्बर को धनु राशि में प्रवेश करके न केवल शनि और केतु के साथ योग बनाएगा बल्कि राहू को भी अपने नियंत्रण में कर लेगा। रूके हुए कार्यों के बनने का एक ऐसा सिलसिला शुरू होगा और सिलसिलेवार कार्य बनने शुरू होंगे। धन संबंधी योजनाएं जो किन्हीं कारणों से खटाई में चली गई थी उनके आगे बढ़ने का माहौल भी बनेगा। अगर रोजी-रोजगार की तलाश में हैं तो इस दिशा में आपको सफलता प्राप्त होगी। पारिवारिक वातावरण सुखद रहेगा एवं सद्भाव का वातावरण भी देखने को मिलेगा। परिजनों के साथ किसी रमणीक या धार्मिक स्थल की यात्रा भी हो सकती है। यदि विदेश जाने के इच्छुक हैं या किसी नये कार्य या साझेदारी में प्रवेश करना चाह रहे हैं तो इसमें आपको सफलता मिलेगी। विरोधी चाहकर भी आपको हानि नहीं पहुंचा पायेंगे और आपका मन भी प्रसन्न रहेगा। किसी नये प्रेम प्रसंग के प्रारम्भ होने की पूर्ण संभावना है और यदि पूर्व में प्रेममय हैं तो वैवाहिक बंधन में भी बंध सकते हैं।

परिवारः

इस वर्ष ग्रह स्थिति थोड़ी सी कमजोर है इस कारण अगर कोई परिजन क्रोनिक रोग से पीड़ित है या शिशु है तो उनका विशेष ध्यान रखने की आवश्यकता है। इस दृष्टि से फरवरी और मई के महीने प्रतिकूल हैं। हालांकि परिजनों का आचार-व्यवहार आपके उत्साह को कम नहीं होने देगा।

धन सम्पत्तिः

आर्थिक दृष्टि से यह वर्ष बहुत कमजोर है। अधिकतर ग्रह बृहस्पति, राहू और शनि प्रतिकूल हैं। जिसके कारण संपत्ति अर्जित करने में समस्याएं पेश आएंगी लेकिन इसी वर्ष पैतृक संपत्ति के मिलने का योग भी बना हुआ है। हालांकि बीच-बीच में जून से अगस्त और नवम्बर-दिसम्बर के महीने विशेष रूप से अच्छे हैं। इस अवधि में आर्थिक स्थिति मजबूत रहेगी लेकिन व्यय पर नियंत्रण रखने की भी आवश्यकता है। 

कार्यक्षेत्रः

कार्यक्षेत्र की दृष्टि से इस वर्ष काफी सतर्कता बरतने की आवश्यकता है। लापरवाही से किया गया कार्य और निर्णय आपके खिलाफ जा सकते हैं। हालांकि सारा वर्ष खराब नहीं है। अन्यत्र अच्छे समय का जिक्र भी किया गया है उस समय का लाभ भी उठाया जा सकता है। कई बार हम लोग अनचाहे अपने सीनियर या कलीग से अनर्गल बातें वायदे कर देते हैं इस बात का अवश्य ध्यान रखें, वरना ये सारे कृत्य आपके खिलाफ इस्तेमाल हो सकते हैं। 

सेहतः

अगर आप अपनी सेहत के प्रति पहले से ही सजग हैं तो उसमें लाभ होगा और जो लोग सेहत को आफत पड़ने पर ही हल करने की चेष्टा में रहते हैं, उन्हें विशेष ध्यान रखने की आवश्यकता है। हमने अपने भविष्यफल में कुछ ऐसे माहों के बारे में बताया गया है जो प्रतिकूल हैं, अतः आप उन माहों में विशेष ध्यान रखें। अंत में सावधानी से बड़ा कोई उपाय नहीं होता।

ज्योतिषीय उपायः

आपकी राशि के अनुसार आप 11 मुखी और 14 मुखी रूद्राक्ष पहन सकते हैं। रूद्राक्ष महादेव का प्रसाद है और हर स्थिति में सहायक सिद्ध होता है। पन्ना, जिरकाॅन और हीरा धारण करना आपके लिए विशेषरूप से लाभदायक रहेगा। 

क्या करेंः

गांव की एक कहावत हैः
पुरूष बली नहीं होत है, समय होत बलवान। 
भीलन लूटी गोपिका, वही अर्जुन, वही बाण। 

हमने वो महीने लिखे हुए हैं जो असहयोगी हैं उनमें अपना विशेष ध्यान रखें।

क्या न करेंः

जो व्यक्ति समय को साधकर चलता है उसे समय साध लेता है। और जो समय पर चूक जाता है फिर समय उसे ठेंगा ही दिखाता रहता है।

कर्क राशिफल 2019
राशिकाल: 16 जुलाई से 15 अगस्त 
राशि चिन्ह: केकड़ा
राशि तत्व: जल
राशि स्वामी: चन्द्रमा

जनवरी से मार्च के मध्य का समय हर तरीके से उत्तम है। इसका एक महत्वपूर्ण कारण यह भी है कि अतिचारी बृहस्पति आपकी राशि से पंचम स्थान में संक्रमण कर रहा है। 29 मार्च तक यह तीव्र गति से इसी राशि में रहेगा। बाकी ग्रह भी अच्छे हैं, जिसके फलस्वरूप आप बहुत सारी योजनाओं पर एक साथ काम करने का मन बनायेंगे। जो लोग पहले से ही क्रिएटिव कार्यों से जुड़े हुए हैं, उन्हें अपनी प्रतिभा का समुचित फल भी प्राप्त होगा। अगर आपका रूझान लेखन, साहित्य, कला, संगीत, सिनेमा, फैशन, स्पोर्टस आदि में है तो आपको बहुत अच्छे फल प्राप्त होंगे। वर्तमान नौकरी, व्यवसाय में अच्छी तरक्की के आसार बन रहे हैं। जो लोग परीक्षा, प्रतियोगिता या किसी कंपटीटिव एक्टिविटी में हिस्सा लेने के इच्छुक हैं तो उन्हें भी अच्छी सफलता प्राप्त हो सकती है। अगर कोई प्रेम प्रसंग चल रहा है तो उसे अमलीजामा पहनाया जा सकता है। कुछ लोगों के लिए कोई नया प्रेम भी प्रारम्भ हो सकता है। 

अप्रैल का महीना थोड़ा नरम है और उसका मूल कारण यह है कि बृहस्पति 29 मार्च को आपकी राशि से छठे भाव में प्रवेश कर गया है। हालांकि यह यहां पर ज्यादा समय नहीं रहेगा, लेकिन सावधानी की आवश्यकता है। नई योजना में तब तक प्रवेश नहीं करना चाहिए जब तक आप पूरी तरह से उसके बारे में आश्वस्त न हों। पूंजी निवेश संबंधी प्लान भी हाल फिलहाल स्थगित रखना ही ठीक रहेगा। 

मई से अक्टूबर तक का समय आपके लिए काफी ठीक है। बृहस्पति 23 अप्रैल को पुनः आपके पंचम भाव में आ चुका है और यहीं रहने वाला भी है। किसी महत्वाकांक्षी योजना में प्रवेश हो सकता है। यदि विदेश में नौकरी, व्यवसाय या एजूकेशन के लिए जाने का मन बना रहे हैं तो अपने प्रयासों में कमीं न आने दें, आपको सफलता प्राप्त होगी। पारिवारिक वातावरण उत्साहवर्धक रहेगा एवं परिवार में कोई मंगल कार्य भी सम्पन्न हो सकता है। भाग्य का भी भरपूर सहयोग बना रहेगा। किसी नये प्रेम प्रसंग के प्रारम्भ होने की संभावना से भी इंकार नहीं किया जा सकता। इस दौरान यदि कोई मामला कोर्ट-कचहरी में चल रहा है और उसका फैसला इस समय आता है तो उसका फैसला आपके पक्ष में रहेगा। 

नवम्बर – दिसम्बर के महीने थोड़े कमजोर हैं। बृहस्पति 5 नवम्बर को छठे भाव में प्रवेश कर जायेगा। राहू भी द्वादश भाव में है। इस दौरान पूंजी निवेश संबंधी योजनाओं पर आंख मूंदकर फैसला लेने से हानि हो सकती है। इस बात का भी विशेष ध्यान रखें। नौकरी, व्यवसाय आदि के क्षेत्र में भी स्थितियां थोड़ी सी नाजुक हो सकती हैं। कार्य स्थल पर अधिकारी या सहयोगियों के साथ मतभेद ऊभर सकते हैं। यदि स्थिति को समय रहते नियंत्रण में नहीं किया गया तो इससे हानि का अंदेशा भी है। स्वास्थ्य की दृष्टि से भी समय थोड़ा सा कमजोर है। स्वयं या किसी परिजन का स्वास्थ्य चिंता का विषय हो सकता है। इसी दौरान कार्यवश कुछ यात्राएं भी करना पड़ेंगी और ये यात्राएं आपके लिए काफी सहायक सिद्ध होंगी। इस अवधि में तमाम विसंगतियों के बावजूद मित्र-शुभचिन्तकों का भरपूर सहयोग मिलता रहेगा। 

परिवारः

परिवार की दृष्टि से यह वर्ष बहुत अच्छा है। परिजनों में आपसी सदभाव देखने को मिलेगा। परिवार में उत्सव सम्पन्न होने का योग भी बन रहा है। अप्रैल, नवम्बर और दिसम्बर के महीनों में परिवार में थोड़ी सी व्यस्तता देखने को मिलेगी। इसका कारण लोगों का आपसी व्यवहार भी हो सकता है या किसी का स्वास्थ्य अचानक चिंता का विषय हो सकता है। 

धन सम्पत्तिः

धन सम्पत्ति की दृष्टि से वर्ष बहुत बढ़िया है। आय में वृद्धि और आय का कोई अतिरिक्त स्रोत भी प्राप्त हो सकता है। लम्बे समय से पाली हुई इच्छा कि घर बड़ा होना चाहिए या पसंदीदा लोकेलिटी में होना चाहिए उसके पूर्ण होने की संभावना बलवती हो रही है। अन्यत्र इसी राशिफल में कुछ महीनों का जिक्र किया गया है जो बहुत अच्छे नहीं है उनका अवश्य ध्यान रख लें।

कार्यक्षेत्रः

कार्यक्षेत्र में आपका दबदबा बढ़ेगा। आपकी मैनेजिरियल स्किल या योजनाओं को अमल में लाने की क्षमता का लोग लोहा भी मानेंगे। कुल मिलाकर वरिष्ठ और सहयोगियों के साथ आपका व्यवहार बहुत बढ़िया रहेगा लेकिन अन्यत्र दो-तीन महीनों का जिक्र किया है, उनका अवश्य ध्यान रखें। साथ ही आपको कोई नयी जिम्मेदारी या पदभार भी प्राप्त हो सकता है।

सेहतः

कुल मिलाकर सारे वर्ष ही आपका स्वास्थ्य अच्छा रहेगा। फिर भी स्वास्थ्य के बारे में हमारा मानना है कि अच्छा स्वास्थ्य अर्जित करना पड़ता है। मात्र अपने जीन्स या डी.एन.ए. पर भरोसा करके आप नहीं चल सकते। अगर स्वास्थ्य के प्रति जागरूक रहेंगे। योग, ध्यान, जिम, एक्सर्साइज या जो भी स्पोर्ट्स आपको पसंद हो उसमें संलग्न रहने से ना केवल स्वास्थ्य अच्छा रहता है, बल्कि मन भी उत्साह से भरा रहता है। 

ज्योतिषीय उपायः

आपकी राशि का स्वामी चन्द्र है, जो बहुत ही संवेदनशील ग्रह है। अपनी भावनाओं के साथ जब भी नकारात्मक हो, जायेंगे तभी मुश्किल होगी। मोती, पुखराज और मूंगा आप पहन सकते हैं। अगर एक 14 मुखी रूद्राक्ष धारण कर सकें तो उत्तम रहेगा। 

क्या करेंः

अच्छे समय का लाभ उठाना चाहिए। जब अपनी बन पड़े या आ जाये तो वहां चूकने से बड़ा कोई हादसा नहीं होता। 

क्या न करेंः

आलस्य मानव का शत्रु और इसे अपने निकट न आने दें।

कन्या राशिफल 2019

राशि चिन्ह: कुमारी
राशि तत्व: पृथ्वी
राशि स्वामी: बुध

जनवरी से मार्च के मध्य जहां बृहस्पति तृतीय भाव में रहने वाला है, वहीं राहू की स्थिति एकादश भाव में शुभकारी है। शनि चतुर्थ भाव में बहुत अच्छा नहीं है। इस सबके बावजूद भी यह समय आपके लिए बहुत अच्छा रहेगा। कार्यवश यात्राएं करना पड़ेंगी और ये यात्राएं आपके लिए काफी शुभदायक रहेंगी। कम्युनिकेशन स्किल आपका प्लस पाॅईंट है और इन दिनों आप जितना उसका उपयोग करेंगे उतना ही आपको लाभ प्राप्त होगा। किसी महती योजना में प्रवेश हो सकता है। आपके संपर्क के दायरे का विस्तार होगा और महत्वपूर्ण व्यक्तियों के साथ बराबरी के संबंध बनेंगे। आर्थिक दृष्टि से यह समय बहुत अच्छा है। आय में वृद्धि एवं अतिरिक्त आय का कोई स्रोत भी प्राप्त हो सकता है। 

अप्रैल का महीना नाजुक रहेगा। बृहस्पति 29 मार्च को चतुर्थ भाव में स्थित शनि और केतु के साथ युति बना चुका है। हालांकि यह मात्र कुछ दिन ही इस राशि में रहेगा लेकिन इस महीने सावधानी बरतने की आवश्यकता है। अपने व्यवहार और वाणी पर विशेष नियंत्रण रखने की आवश्यकता है। जरा सी चूक महंगी साबित हो सकती है, इस बात का अवश्य ध्यान रखें। इमोशनल लेवल पर भी डिस्टर्ब हो सकते हैं। आपसी मतभेद टालना ही आपके हित में रहेगा।

मई से अक्टूबर के मध्य मिले-जुले परिणाम मिलेंगे लेकिन कुल मिलाकर परिणामों का सिलसिला आपके पक्ष में रहेगा। बृहस्पति वक्रगति से पुनः आपकी राशि से तृतीय स्थान में आ जायेगा और राहू की स्थिति दशम भाव में सराहनीय रहेगी। नौकरी, व्यवसाय आदि के क्षेत्र में आगे बढ़ने के सुवसर प्राप्त होंगे। उच्च शिक्षा या नौकरी, व्यवसाय आदि के लिए विदेश जाने के इच्छुक हैं तो अपने प्रयत्नों में कमीं न आने दें आपको निश्चित सफलता प्राप्त होगी। मई – जून – जुलाई के महीने निश्चित रूप से अच्छे रहेंगे। इन दिनों आप जिस भी कार्य में हाथ डालेंगे उसमें आपको सफलता प्राप्त होगी। जमीन-जायदाद, वाहन आदि के खरीदने का योग भी बन रहा है। यदि कोई पैतृक संपत्ति मिलने वाली है या प्रॉपर्टी को लेकर कोई विवाद चल रहा है तो उसे आपसी सहमति से सुलझाने का प्रयास करें। आसानी से यह कार्य सिद्ध होगा। 

अगस्त-सितम्बर के महीने थोड़े कमजोर साबित हो सकते हैं। इन दिनों पूंजी निवेश संबंधी योजनाओं को स्थगित रखना ही आपके लिए श्रेयस्कर रहेगा। स्वास्थ्य की दृष्टि से भी यह समय कमजोर है, अतः अपने और परिजनों के स्वास्थ्य के प्रति लापरवाही नहीं बरतनी चाहिए। 

नवम्बर – दिसम्बर के महीने थोड़े कमजोर सिद्ध हो सकते हैं। बृहस्पति 5 नवम्बर को धनु राशि में प्रवेश कर जायेगा और यहां पर शनि और केतु की युति पहले से ही है। प्रोफेशनल लेवल पर थोड़ी असुविधाओं का सामना करना पड़ेगा। जल्दबाजी में लिए गये निर्णय आपके खिलाफ जा सकते हैं, इस बात का अवश्य ध्यान रखें। वाद-विवाद को टालना ही आपके लिए श्रेयकर रहेगा। भावनात्मक मुद्दे भी तनाव पैदा कर सकते हैं। अतः धैर्य और संयम बरतने की आवश्यकता है। मित्र-शुभचिंतकों का सहयोग बना रहेगा और यदि कोई ऐसी स्थिति बने जहां पर आप कोई महत्वपूर्ण निर्णय लेने से संकोच कर रहे हैं तो इन लोगों से परामर्श लेना आपके लिए सहायक सिद्ध होगा। इन महीनों में अचानक यात्रा का योग बन सकता है और ये यात्रा बहुत ही सहायक रहेगी। 

परिवारः

पारिवारिक दृष्टि से यह वर्ष मिले-जुले परिणाम प्रदान करेगा। जहां एक और कुछ ऐसे सुखद अवसर होंगे कि परिवार में उत्सव का सा माहौल देखने को मिलेगा। जिसमें विवाह, शिशु जन्म या और कोई उत्सव सम्पन्न हो सकता है। वहीं दूसरी और फरवरी और नवम्बर – दिसम्बर के महीनों में परिवार में कुछ मुश्किलें भी आ सकती है। यदि विपरीत समय में आपसी सद्भाव और मेल बना रहे तो आदमी बड़े से बड़े संकट का भी सामना कर सकता है। इस बात को आप सब ध्यान में रखें।

धन सम्पत्तिः

आर्थिक दृष्टि से जनवरी, फरवरी, मार्च के महीने विशेष रूप से अच्छे हैं। इन दिनों अकस्मात कोई ऐसी डील या सौदा बन सकता है जो आपको पर्याप्त मात्रा में लाभ दे। धन की दृष्टि से मई, जून और जुलाई के महीने भी बहुत अच्छे हैं। विदेश या दूरदराज जगह से भी धन लाभ का योग बन रहा है। 

कार्यक्षेत्रः

कार्यक्षेत्र की दृष्टि से इस वर्ष आपको कई बहुत अच्छे ऑफर्स प्राप्त होंगे। यदि उनका ठीक से उपयोग कर सकेंगे तो न केवल लाभ होगा बल्कि स्टेटस में भी वृद्धि होगी। वहीं कुछ महीनों का अन्यत्र जिक्र किया हुआ है, उस दौरान सावधानी बरतें, अन्यथा व्यर्थ की उलझनें भी मोल ले सकते हैं। 

सेहतः

हमारा ऐसा मानना है कि एक समय के बाद सेहत पर विशेष ध्यान देना पड़ता है। इसे आपसे बेहतर कौन समझ सकता है, क्योंकि अमूमन आप अपनी सेहत के प्रति बहुत सजग रहते हैं। अगर सावधानी और नियम से चलेंगे तो स्वास्थ्य कुल मिलाकर अच्छा रहेगा, अन्यथा उन महीनों पर अवश्य गौर कर लें, जिनका जिक्र हमने इस राशिफल में किया हुआ है। यह सूत्र परिजनों के लिए भी लगता है। 

ज्योतिषीय उपायः

अगर 14 मुखी या 15 मुखी रूद्राक्ष धारण कर सकते हैं तो इस वर्ष में आने वाली बहुत सारी समस्याओं से निजात भी पा सकते हैं। पन्ना, हीरा और नीलम सेफली धारण किया जा सकता है। 

क्या करेंः

जिस समय और महीनों को खासतौर से अच्छा बताया गया है उस समय का भरपूर इस्तेमाल करेंगे तो आपको बहुत सारी समस्याओं से मुक्ति मिल सकती है। 

क्या न करेंः

उन महीनों में विशेष सावधानी रखें जो आपकी राशि से कमजोर हैं। ऐसा करने से कई सारे झंझटों से राहत प्राप्त होगी।

तुला राशिफल 2019

राशि चिन्ह: तराजू
राशि तत्व: वायु
राशि स्वामी: शुक्र

जनवरी से मार्च के मध्य ग्रह स्थिति आपके अनुकूल रहेगी। बृहस्पति द्वितीय भाव में चल रहा है, शनि तृतीय में और राहू दशम भाव में। प्रोफेशनल स्तर पर सुखद स्थितियां निर्मित होंगी। वर्तमान जॉब, बिजनेस में प्रोग्रेस के संकेत बन रहे हैं। यदि परीक्षा, प्रतियोगिता या अन्य माध्यम से नौकरी, रोजगार की तलाश में हैं, तो इस दौरान कार्य भी सिद्ध होगा। आर्थिक स्थिति में सुदृढ़ता आयेगी। धन का आगमन सुलभ हो जायेगा। रूके हुए धन के मिलने की भी संभावना है। यदि बैंक, वित्त संस्थान या सरकार से लोन आदि लेने की तलाश में हैं, तो आपको सफलता प्राप्त होगी। जो लोग सामाजिक या राजनैतिक क्षेत्र से जुड़े हैं, उनके लिए समय उत्तम है। कार्य से संबंधित यात्राओं का सिलसिला बना रहेगा और इन यात्राओं से पर्याप्त मात्रा में लाभ भी होगा। समय का सदुपयोग करना आपके हितकर रहेगा।

अप्रैल के महीने में भी स्थितियां आपके पक्ष में बनी रहेंगी। बृहस्पति 29 मार्च को तृतीय स्थान में प्रवेश कर चुका है, लेकिन पुनः 23 अप्रैल को आपकी राशि से द्वितीय स्थान में आ जायेगा। राहू भी आपकी राशि से नवम स्थान में 23 मार्च को आ चुका है। प्रोफेशनली आपको अपनी कार्यप्रणाली में थोड़ा परिवर्तन लाने की आवश्यकता महसूस होगी। यदि परिस्थितियों को समझकर उसके अनुसार कार्य करेंगे तो किसी विशेष असुविधा का सामना भी नहीं करना पड़ेगा। अचानक यात्रा हो सकती है और यह यात्रा आपके लिए लाभदायक रहेगी।

मई से अक्टूबर तक का समय कुल मिलाकर अच्छा व्यतीत होगा। यदि परीक्षा, प्रतियोगिता या इंटरव्यू आदि में इस दौरान हिस्सा लेंगे तो आपको अच्छी सफलता मिलेगी। राजनीति और सामाजिक कार्य से जुड़े व्यक्तियों के लिए उत्तम समय चल रहा है। पारिवारिक दृष्टि से ये समय काफी अच्छा है और परिवार में कोई मंगल कार्य भी सम्पन्न हो सकता है। संतान पक्ष की ओर से सुख प्राप्त होगा। आर्थिक दृष्टि से यह समय काफी सुखद रहेगा। अगर धन संबंधी किसी योजना में प्रवेश करने का मन बना रहे हैं, तो उसमें आपको सफलता प्राप्त होगी। जमीन-जायदाद, फ्लैट, वाहन आदि के खरीदने का योग भी चल रहा है। 

सितम्बर – अक्टूबर के महीने थोड़े नरम हैं, अतः समय की नजाकत को समझते हुए ही अपनी योजनाओं को आगे बढ़ाना चाहिए। पूंजी निवेश संबंधी योजनाओं पर किसी के भरोसे में आकर या बिना सोचे-समझे प्रवेश नहीं करना चाहिए। कंफ्यूजन की स्थिति में मित्र-शुभचिंतकों से परामर्श भी कर सकते हैं। जो यात्रा भी अत्यन्त आवश्यक है, उसे ही करें।

नवम्बर – दिसम्बर के महीने भी अच्छे व्यतीत होंगे। बृहस्पति 5 नवम्बर को धनु राशि में प्रवेश कर जायेगा, जहां इसकी मुलाकात शनि और केतु से होगी। कम्युनिकेशन को बढ़ाया जा सकता है और नये संपर्क भी इस दौरान बनेंगे और उनसे आपको व्यापक लाभ होगा। आपकी सामाजिक मान प्रतिष्ठा में भी बढ़ोतरी होगी। जो लोग रचनात्मक कार्यों जैसे – संगीत, सिनेमा, लेखन, साहित्य, कला, फैशन, डांसिंग या खेल जगत में अपना भविष्य बनाने की इच्छा रखते हैं तो उन्हें अपने मन्तव्य में अच्छी सफलता प्राप्त होगी। अगर विदेश में रोजी-रोजगार या उच्च शिक्षा के लिए प्रयत्नशील हैं, तो इस दिशा में भी आपको सफलता प्राप्त होगी। पारिवारिक सुख में वृद्धि रहेगी और आपसी अंडरस्टेंडिंग में भी इजाफा होगा। 

परिवारः

परिवार की दृष्टि से यह वर्ष उत्तम हैं। परिजनों में आत्मीयता का माहौल देखने को मिलेगा। परिवार में उत्सव होने की भी पूर्ण संभावना है। आप परिजनों के साथ रमणीक या धार्मिक स्थानों की यात्रा पर भी जाएंगे। अच्छे समय में अगर आपसी संबंधों में घनिष्ठता पैदा की जाये तो समय भी मदद करता है। 

धन सम्पत्तिः

धन सम्पत्ति की दृष्टि से यह एक उत्तम वर्ष है। सारे महत्वपूर्ण ग्रह – शनि, बृहस्पति, राहू, केतु वर्ष पर्यन्त अच्छे ही रहेंगे। आर्थिक स्थिति में मजबूती आयेगी और आय का अतिरिक्त स्रोत भी प्राप्त हो सकता है। किसी ऐसी महत्वाकांक्षी योजना में प्रवेश कर सकते हैं, जिसके लिए आप पिछले काफी समय से प्रयत्नशील हैं।

कार्यक्षेत्रः

कार्य क्षेत्र की दृष्टि से यह वर्ष एक ऐसा माहौल निर्मित करेगा जिसकी आपको लम्बे समय से तलाश थी। वर्तमान नौकरी, व्यवसाय में वृद्धि के संकेत दिख रहे हैं। आपकी प्लानिंग और योजनाओं को अधिकारी और सहयोगी दोनों ही पसन्द करेंगे। कोई नया पदभार भी प्राप्त हो सकता है। कंपटीशन में आप अव्वल रहेंगे।

सेहतः

यह वर्ष सेहत के लिए बहुत बढ़िया है। अगर आप किसी दीर्घ रोग से पीड़ित हैं, तब भी आपको इस वर्ष काफी राहत प्राप्त होगी। फिर भी अन्यत्र हमने कुछ महीनों का जिक्र किया हुआ है जो नाजुक हैं, अतः उन दिनों में विशेष ध्यान रखें। स्वास्थ्य के बारे में हमारी मान्यता है कि अच्छी सेहत भी अपने प्रयत्नों से कमानी पड़ती है। 

ज्योतिषीय उपायः

एक 10 मुखी, 11 मुखी या 14 मुखी रूद्राक्ष पहनने से इस वर्ष के भाग्य में इजाफा किया जा सकता है। आप नीलम, पन्ना और हीरा इत्मीनान से धारण कर सकते हैं।

क्या करेंः

आपके तुला साइन का अर्थ होता है संतुलन या बैलेंस। यह वर्ष जीवन में लम्बे समय तक बैलेंस बनाने के लिए अच्छे अवसर प्रदान करेगा। इनका इस्तेमाल करना ना भूलें।

क्या न करेंः

जोखिम उठाने से हानि हो सकती है। स्टाॅक एक्सचेंज या अन्य रिस्की वेंचर्स से इस वर्ष दूर रहना आपके लिए लाभकारी रहेगा।

वृश्चिक राशिफल 2019

राशि चिन्ह: बिच्छु
राशि तत्व: जल
राशि स्वामी: मंगल

जनवरी से मार्च के मध्य का समय आपके लिए काफी सहायक सिद्ध होगा। हालांकि बीच में उलझनें तो आएंगी लेकिन जिनसे आप सहज ही अपना मार्ग प्रशस्त करने में सफल रहेंगे। बृहस्पति आपकी राशि में रहेगा और राहू नवम भाव में। शनि की द्वितीय और अन्य ग्रहों की स्थिति कुल मिलाकर ठीक है। आपके आत्म विश्वास में वृद्धि होगी और पूरी ताकत के साथ अपनी योजनाओं को आगे बढ़ाने का प्रयास करेंगे। इस कार्य में आपको पर्याप्त सफलता भी प्राप्त होगी। अगर परीक्षा, प्रतियोगिता आदि में सम्मिलित हो रहे हैं तो उसमें आपको सफलता प्राप्त होगी। प्रोफेशनल लाईफ में बहुत अच्छे सुवसर प्राप्त होंगे। वर्तमान नौकरी, व्यवसाय की दृष्टि से भी समय अनुकूल है। पद वृद्धि या कोई नया पदभार भी मिल सकता है। आर्थिक दृष्टि से यह समय बहुत अच्छा रहेगा। आय में वृद्धि का योग भी बन रहा है। यदि विदेश जाने के इच्छुक हैं तो अपने प्रयत्नों में तेजी लाएं आपको सफलता प्राप्त होगी। पारिवारिक वातावरण खुशहाली लिए रहेगा और परिवार में कोई मंगल कार्य भी सम्पन्न हो सकता है। जीवन साथी का भरपूर सहयोग मिलता रहेगा।

अप्रैल के महीने में बृहस्पति 25 दिनों के लिए धनु राशि में प्रवेश करेगा लेकिन पुनः 23 अप्रैल को आपकी राशि वृश्चिक में आ जायेगा। 23 मार्च को राहू अष्टम भाव में आ चुका है। यह माह भी आपके लिए अच्छा रहेगा। आर्थिक क्षेत्र में किये गये प्रयास सफलता प्रदान करेंगे। यदि सरकार, बैंक या किसी वित्त संस्थान आदि से ऋण प्राप्त करने के लिए प्रयासरत हैं तो इस दिशा में भी आपको सफलता प्राप्त होगी। परिवार में उत्सव का माहौल रहेगा और परिवार में कोई मंगल कार्य भी सम्पन्न हो सकता है। 

मई से अक्टूबर के मध्य का समय आपके लिए काफी सहयोगी रहेगा। प्रोफेशनल दृष्टि से यह समय काफी माकूल है। आपको अचानक कोई महत्वपूर्ण पदभार प्राप्त हो सकता है। यदि व्यवसाय में है तो किसी महत्वाकांक्षी योजना में प्रवेश भी हो सकता है। जो लोग आयात-निर्यात से संबंध रखते हैं या एंटरप्राइजिंग के क्षेत्र से जुड़े हैं उनके लिए यह समय बहुत अच्छा है। मन पसंद प्रॉपर्टी खरीदने का योग भी बन रहा है। अगर रेनोवेशन कराना चाह रहे हैं तो उसके लिए भी स्थितियां अनुकूल रहेंगी। कोर्ट-कचहरी में कोई मुकदमा चल रहा है और उसका फैसला आने को है तो यह फैसला आपके पक्ष में रहेगा। विरोधी चाहकर भी आपको हानि नहीं पहुंचा पायेंगे। परिजनों के साथ पर्यटन पर भी जा सकते हैं। जो लोग राजनीति या सामाजिक क्षेत्र से जुड़े हैं, उन्हें इस दौरान विशेष लाभ प्राप्त होगा। आपकी सामाजिक मान प्रतिष्ठा में भी वृद्धि होगी। बच्चों का प्रदर्शन अपने-अपने क्षेत्र में अच्छा रहेगा। 

नवम्बर – दिसम्बर के महीने भी अच्छे रहेंगे। बृहस्पति पुनः 5 नवम्बर को धनु राशि में आ जायेगा, जहां शनि और केतु पहले से ही विराजमान हैं। यदि रचनात्मक क्षेत्र जैसे – लेखन, साहित्य, संगीत, सिनेमा, फैशन, नृत्य या खेल जगत से जुड़े हैं तो आपको अपनी प्रतिभा को प्रदर्शित करने के समुचित अवसर प्राप्त होंगे। जो लोग इन क्षेत्रों में अपना करियर ढूंढ रहें हैं उनके लिए भी यह समय बहुत अच्छा है। धन लाभ का योग चल रहा है। यदि पैतृक सम्पत्ति को लेकर कोई मसला न्यायालय में चल रहा है और उसका फैसला आने को है तो यह निर्णय आपके पक्ष में रहेगा। कार्यवश यात्राओं का सिलसिला बना रहेगा और ये यात्राएं आपको नये आयाम प्रदान करने में सहायक रहेंगी। इस दौरान यदि कोई परीक्षा, प्रतियोगिता या इंटरव्यू दे रहे हैं तो आपको अच्छी सफलता प्राप्त होगी।

परिवारः

परिवार के लिए यह बेहतरीन वर्ष है। पारिवारिक वातावरण सौहार्दपूर्ण रहेगा और परिवार में कोई शुभ कार्य भी सम्पन्न हो सकता है। बच्चों का प्रदर्शन अपने-अपने क्षेत्र में सराहनीय रहेगा। परिजनों के साथ किसी ऐसे धार्मिक स्थान की यात्रा हो सकती है जिसके लिए आपने काफी समय से मन बनाया हुआ है। परिवार में वृद्धि का भी योग बन रहा है।

धन सम्पत्तिः

इस वर्ष अधिकतर ग्रहों की स्थिति आपकी राशि से बहुत अच्छी है। धन का दाता बृहस्पति पूरे वर्ष अच्छा रहेगा, जिस कारण धन की कमीं नहीं आयेगी बल्कि वृद्धि के आसार भी बन रहे हैं। किसी ऐसे रूके हुए डेब्ट या ऐसे पैसे के मिलने की संभावना है, जिसकी आपने आस ही छोड़ दी हो। प्रॉपर्टी की खरीद-फरोख्त से भी धन अर्जित किया जा सकता है। 

कार्यक्षेत्रः

इस वर्ष आप अपनी प्रतिभा का जितना अच्छा प्रदर्शन कर पायेंगे उतना ही आपको लाभ प्राप्त होगा। अधिकारियों और सहयोगियों के साथ अच्छा तालमेल देखने को मिलेगा। आपके प्रयत्नों की लोग खुले दिल से सराहना करेंगे। आपको कुछ ऐसे कार्य भी सौपे जा सकते हैं जो औरों के लिए मुश्किल हों और आप उन्हें आसानी से सम्पन्न कर पायें। ऐसा करने से आपकी मान प्रतिष्ठा में वृद्धि होगी।

सेहतः

हमारा मानना है कि सेहत अर्जित करना पड़ती है। जो लोग इस सूत्र को बांधकर रखते हैं, उन्हें अधिकतर सेहत संबंधी समस्याएं नहीं होती। ग्रहों के लिहाज से स्वास्थ्य के लिए यह वर्ष काफी अच्छा रहेगा। यूं तो परिजनों का स्वास्थ्य कुल मिलाकर अच्छा रहेगा, लेकिन अप्रैल और अक्टूबर के महीनों में किसी परिजन का स्वास्थ्य चिन्ता का विषय हो सकता है।

ज्योतिषीय उपायः

11 मुखी, 13 मुखी और 14 मुखी रूद्राक्ष पहनना सदैव आपके लिए हितकर रहेगा। पुखराज, मूंगा और मोती भी पहना जा सकता है। हनुमान जी की सेवा आपके लिए उपयुक्त रहेगी।

क्या करेंः

समय बहुत अच्छा है इसका सदुपयोग करें। इस वर्ष – थिंक बिग एंड एक्ट बिग – इस सूत्र को अपनाएं। आपके जीवन में आमूलचूल परिवर्तन आ जायेगा।

क्या न करेंः

आलस्य और कर्तव्यहीनता मनुष्य के परम शत्रु हैं, इनसे आपको भी बचना चाहिए।

धनु राशिफल 2019

राशि चिन्ह: धनुर्धर
राशि तत्व: अग्नि
राशि स्वामी: बृहस्पति

जनवरी से मार्च के मध्य आपकी राशि से बृहस्पति बारहवें स्थान में और राहू अष्टम स्थान में और केतु द्वितीय भाव और शनि आपकी राशि पर से गुजर रहा है। जिसके फलस्वरूप ये महीने काफी चिन्ताजनक साबित हो सकते हैं। नौकरी, व्यवसाय आदि के क्षेत्र में व्यर्थ की उलझनें बढ़ेंगी। छोटे-छोटे विवाद भी विकराल रूप ले सकते हैं। अतः ऐसी स्थिति में स्वयं को बचाना चाहिए। पूंजी निवेश संबंधी कार्यकलापों के लिए यह समय अच्छा नहीं है। इस तरह की योजनाओं पर विचार करने से पहले किसी योग्य व्यक्ति से परामर्श करना आपके लिए सहायक सिद्ध होगा। धन संबंधी मामलों में भी उलझनें पेश आएंगी। अपना ही धन वापिस लेने में मुश्किलों का सामना करना पड़ सकता है, इसलिए लेन-देन के मामले में सावधानी से काम लें। स्वयं का या किसी परिजन का स्वास्थ्य भी इन दिनों चिन्ता का विषय हो सकता है। धैर्य और संयम से काम लें। मित्र-शुभचिन्तकों का सहयोग बना रहेगा और वे आपके मनोबल का नीचे भी नहीं आने देंगे।

अप्रैल का महीना काफी राहत प्रदान करने वाला सिद्ध होगा। बृहस्पति 29 मार्च को आपकी राशि में आ चुका है, लेकिन ये यहां काफी अल्प समय के लिए रहेगा। लेकिन 23 मार्च को राहू आपकी राशि से सप्तम स्थान में आ गया है, इसलिए अब स्थितियां बेहतर होंगी। यदि परीक्षा, प्रतियोगिता या इंटरव्यू आदि में सम्मिलित हो रहे हैं तो अपने प्रयत्नों में कमीं न आने दें कार्य सिद्ध होगा। रोजी-रोजगार के क्षेत्र में किये गये प्रयास आपको सफलता प्रदान करेंगे। कार्यवश यात्रा हो सकती है जो आपके लिए लाभदायक रहेगी। पारिवारिक सुख में वृद्धि होगी और जीवन साथी का भरपूर सहयोग भी प्राप्त होता रहेगा। 

मई से अक्टूबर के मध्य का समय मिले-जुले परिणाम दर्शाता है, लेकिन अगर सावधानी से कार्य करेंगे तो आपको अच्छी सफलता भी प्राप्त होगी। आपकी राशि के अन्य महत्वपूर्ण ग्रह सूर्य और मंगल हैं। मई – जून में दोनों ही आपकी राशि के लिए सहयोगी रहेंगे, इसलिए इन दिनों में जो भी कार्य आप हाथ में लेंगे उसमें आपको सफलता प्राप्त होगी। यदि परीक्षा, प्रतियोगिता या किसी अन्य महत्वपूर्ण कार्य में हिस्सा ले रहे हैं तो आपको सफलता मिलेगी। रोजी-रोजगार आदि प्राप्त करने की दिशा में किये कार्य सफलता प्रदान करेंगे। कोई नया प्रेम प्रसंग भी इन दिनों प्रारम्भ हो सकता है। जुलाई के माह में मंगल की राशि से कमजोर स्थिति होने के कारण व्यर्थ की उलझनें बढ़ेंगी। वाद-विवाद से बचना चाहिए। स्वास्थ्य या दुर्घटना का भय भी बना हुआ है। 

अगस्त – सितम्बर और अक्टूबर के महीने काफी सहायक सिद्ध होंगे। पूर्व में आयी अड़चनों से राहत प्राप्त होगी। आपके आत्म विश्वास में वृद्धि होगी और पुनः स्थितियों को अपने नियंत्रण में करने में सफल रहेंगे। आर्थिक स्थिति पहले से बेहतर रहेगी फिर भी निवेश संबंधी योजनाओं पर पुनर्विचार करने की आवश्यकता है। 

नवम्बर – दिसम्बर के महीने विशेष रूप से अच्छे रहेंगे। बृहस्पति 5 नवम्बर को आपकी राशि प्रवेश कर जाएगा जहां शनि और केतु के साथ युति बनाएगा। पूर्व में आई दिक्कतों से अब राहत मिलने लगेगी। वर्तमान रोजी-रोजगार में सुखद स्थितियां निर्मित होंगी। अगर रोजी-रोजगार की तलाश में हैं तो इसमें भी आपको सफलता प्राप्त होगी। आर्थिक स्थिति में व्यापक सुधार होगा और किसी आय संबंधी योजना में प्रवेश भी कर सकते हैं। पारिवारिक वातावरण खुशहाली लिए रहेगा एवं परिजनों में सदभाव बढ़ेगा।

परिवारः

परिवार की दृष्टि से यह वर्ष थोड़ा नरम है। जनवरी, फरवरी और जुलाई के महीने प्रतिकूल हैं। इन दिनों में परिजनों में आपसी वैमनस्य हो सकता है। ऐसी स्थिति में आपको उच्च आदर्शों को निभाते हुए धैर्य और संयम से काम लेना चाहिए। इसी दौरान किसी व्यक्ति के स्वास्थ्य को लेकर भी अवसाद का वातावरण निर्मित हो सकता है।

धन सम्पत्तिः

आर्थिक क्षेत्र में थोड़ा स्ट्रगल करना पड़ेगा। व्यय की अधिकता बनी रहेगी और चाहकर भी खर्चों में कटौती नहीं कर पायेंगे। पूंजी निवेश संबंधी योजनाओं पर बिना सोचे-समझे अमल नहीं करना चाहिए। उन महीनों का खासतौर से ध्यान रखें, जिनका जिक्र अन्यत्र किया गया है। 

कार्यक्षेत्रः

कार्य क्षेत्र में काफी चुनौतियों का सामना करना पड़ेगा। देखने में स्थितियां प्रतिकूल मालूम पड़ेंगी, लेकिन उतनी नहीं होंगी, जितनी दिखेंगी। अगर आप स्वविवेक से सिचुएशन को समझकर फैसले करेंगे तब आपको आशातीत सफलता भी मिलेगी। फिर भी उन महीनों का ध्यान रखना चाहिए जो प्रतिकूल हैं और जिनका जिक्र इसी राशिफल में किया हुआ है।

सेहतः

सेहत के बारे में हमारी एक मान्यता है कि अधिकतर सेहत ना तो एक दिन में बिगड़ती है और ना ही संवरती है। इसलिए सेहत के प्रति सतत् सतर्क रहना चाहिए। अगर खान-पान, आचार-व्यवहार, व्यायाम, योग, साधना अनुशासनबद्ध तरीके से किये जाएं तो प्रतिकूल ग्रहों की स्थिति को भी साधा जा सकता है। वरना उन माहों का ध्यान रखें, जिनका जिक्र यहां किया गया है।

ज्योतिषीय उपायः

आपकी राशि के लिए 8 मुखी, 11 मुखी और 15 मुखी रूद्राक्ष का प्रयोग सदैव लाभदायक रहेगा। पुखराज, मूंगा और माणिक धारण करने से इस वर्ष काफी लाभ होगा। यदि बृहस्पतिवार का व्रत कर सकें तो अच्छा रहेगा। 

क्या करेंः

उस समय का अवश्य लाभ उठायें, जब परिस्थितियां आपके पक्ष में है। उस समय का जिक्र आपके राशिफल में किया हुआ है। 

क्या न करेंः

गलत समय पर अच्छा कार्य भी बिगड़ जाता है। यह एक सनातन सूत्र है। समय को साधने से भाग्य प्रबल हो जाता है। कठिन समय में महत्वपूर्ण निर्णय न लें।

मकर राशिफल 2019

राशि चिन्ह: बकरा
राशि तत्व: पृथ्वी
राशि स्वामी: शनि 

जनवरी से मार्च के मध्य का समय बेहतरीन व्यतीत होगा। इस अवधि में बृहस्पति आपकी राशि से एकादश भाव में चलेगा और राहू सप्तम स्थान में। आर्थिक क्षेत्र में किये गये प्रयास अत्यधिक लाभदायक सिद्ध होंगे। रूके हुए या फंसे हुए धन के मिलने की भी संभावना है। अगर किसी महत्वाकांक्षी योजना के लिए बैंक, किसी वित्त संस्थान या सरकार से लोन लेने का प्रयत्न कर रहे हैं तो इसमें आपको सफलता प्राप्त होगी। जो लोग परीक्षा, प्रतियोगिता में सम्मिलित हो रहे हैं, उन्हें आशातीत सफलता प्राप्त होगी। अगर कोई मामला कोर्ट – कचहरी में चल रहा है और उसका फैसला आने को है तो यह फैसला आपके पक्ष में रहेगा। विरोधी चाहकर भी अपने मंसूबों में असफल ही रहेंगे। 

अप्रैल का महीना थोड़ा कमजोर है। बृहस्पति 29 मार्च को द्वादश भाव में आ चुका है और राहू 23 मार्च को मिथुन राशि में और केतु धनु राशि में संक्रमण कर चुका है। व्यर्थ की उलझनें बढ़ेंगी। कार्यों के बनने में मुश्किलों का सामना करना पड़ेगा। धन संबंधी मामलों विशेषकर पूंजी निवेश पर बिना सोचे-समझे अमल नहीं करना चाहिए। प्रोफेशनल स्तर पर सीनियर्स या कलीग्स के साथ मतभेद भी उभर सकते हैं। स्वास्थ्य की दृष्टि से भी समय कमजोर है। स्वयं या किसी परिजन का स्वास्थ्य भी गफलत में डाल सकता है। सोच-विचार कर ही महत्वपूर्ण कदम उठाने चाहिए।

मई से अक्टूबर का समय काफी अच्छा रहेगा। बृहस्पति 23 अप्रैल को वक्रगति से पुनः वृश्चिक राशि में प्रवेश कर चुका है। वर्तमान नौकरी, व्यवसाय में सुखद स्थितियां निर्मित होंगी। यदि रोजी-रोजगार के लिए प्रयत्नशील हैं तो उसमें मनमाफिक सफलता मिलने के अवसर भी बने हुए हैं। जो लोग सामाजिक या राजनैतिक क्षेत्र से जुड़े हैं, उन्हें भी इस दौरान कोई विशेष लाभ हो सकता है। भूमि, बंगला, फ्लैट या वाहन खरीदने का योग चल रहा है। मई – जून – जुलाई में गोचर के हिसाब से सूर्य और मंगल की स्थिति ठीक रहेगी, जिसके फलस्वरूप ब्यूटीफुल एन्वायरमेंट देखने को मिलेगा जहां आप अपने प्रोजेक्टस या प्लानिंग को आसानी से अमल में ला सकते हैं। अगर आप आयात-निर्यात से संबंध रखते हैं या विदेश में कुछ करना चाहते हैं तो उन सब कार्यों के लिए भी ये सब महीने बहुत शुभ हैं। इस दौरान छोटी-बड़ी कई यात्राएं होंगी जो आपके लिए उपयोगी सिद्ध होंगी। पारिवारिक सुख में वृद्धि होगी और परिवार में कोई मांगलिक कार्य भी संपन्न हो सकता है। इस पूरे समय के दौरान ना केवल उत्साह से भरे रहेंगे बल्कि आपकी मान-प्रतिष्ठा में भी बढ़ोतरी होगी। 

नवम्बर – दिसम्बर के महीने थोड़े नरम हैं। बृहस्पति 5 नवम्बर को द्वादश भाव में आकर शनि और केतु के साथ युति बनाएगा। इस दौरान किसी बने बनाये कार्य में भी व्यवधान आ सकते हैं या जिस कार्य के शुरू करने के आसार बने हुए थे वो मामला एकदम खटाई में पड़ सकता है। इस दौरान आप अपने लोगों के षड़यंत्र का शिकार भी हो सकते हैं, इसका भी ध्यान रखें। व्यय की अधिकता बनी रहेगी और फंड्स अरेन्ज करने में तात्कालिक रूप से दिक्कत आ सकती है। इस दौरान परिवार के किसी बुजुर्ग या शिशु के स्वास्थ्य को लेकर भी पीड़ा झेलनी पड़ सकती है। ऐसी यात्रा में शरीक नहीं होना चाहिए, जिसके बारे में आप पूरी तरह से आश्वस्त न हों। 

परिवारः

परिवार की दृष्टि से यह वर्ष बहुत अच्छा है। पारिवारिक सुख-समृद्धि में वृद्धि होगी और परिजनों में प्रेम-सद्भाव भी देखने को मिलेगा। जनवरी से मार्च या फिर मई से सितम्बर के मध्य परिवार में कोई मंगल कार्य जैसे – विवाह या शिशु जन्म हो सकता है। परिजनों के साथ रमणीक और धार्मिक स्थलों की यात्रा के योग भी बन रहे हैं। कुल मिलाकर पारिवारिक समय आनंदमय व्यतीत होगा। 

धन सम्पत्तिः

इस वर्ष बृहस्पति की स्थिति लगभग साल भर ही अच्छी है, जिसके फलस्वरूप आर्थिक स्थिति में इजाफा होगा और धन का कोई नया स्रोत भी प्राप्त हो सकता है। जो लोग स्वरोजगार या देश-विदेश से बिजनेस में संलग्न हैं, उनके लिए यह वर्ष विशेष रूप से अच्छा है। जमीन-जायदाद, फ्लैट या वाहन आदि में इंवेस्टमेंट का योग भी बन रहा है।

कार्यक्षेत्रः

इस वर्ष आपको बहुत अच्छे अवसर प्राप्त होंगे। यदि आप उनका लाभ उठायेंगे तो बल्ले-बल्ले हो जायेगी। वर्तमान नौकरी, व्यवसाय में न केवल आपकी कार्यप्रणाली की तारीफ होगी बल्कि आपको कोई नयी जिम्मेदारी भी मिल सकती है। जो लोग परीक्षा, प्रतियोगिता या साक्षात्कार के माध्यम से रोजी-रोजगार की तलाश में हैं, उन्हें निराश नहीं होना पड़ेगा। अगर विदेश में रोजगार ढूंढ रहे हैं तो इस दिशा में भी आपको सफलता मिलेगी।

सेहतः

सेहत की दृष्टि से कुल मिलाकर यह वर्ष काफी अच्छा है। ध्यान रखें कि सेहत को बाजार से खरीदा नहीं जा सकता। इसके लिए संकल्पवान होकर यम, नियम और अनुशासन में रहते हुए योग, जिम या जो भी एक्सरसाइज आपको भली लगे उसके लिए समर्पित भाव से समय निकालना चाहिए। अप्रैल, नवम्बर, दिसम्बर के महीने स्वास्थ्य की दृष्टि से कमजोर हैं। इन दिनों स्वयं व परिजनों के स्वास्थ्य के प्रति भी सजग रहना चाहिए।

ज्योतिषीय उपायः

10 मुखी, 12 मुखी और 14 मुखी रूद्राक्ष जीवन पर्यन्त पहन सकते हैं। यदि इस वर्ष धारण करेंगे तो विशेष लाभ होगा। आपकी राशि के रत्न – हीरा, पन्ना और नीलम हैं। इन्हें सेफली धारण किया जा सकता है। 

क्या करेंः

यह वर्ष विशेष रूप से अच्छा है। वर्ष पर्यन्त भाग्य का सहयोग बना रहेगा। यदि अपने प्रयत्नों में पैनापन लाएंगे तो लाभ को कई गुना किया जा सकता है।

क्या न करेंः

अप्रैल, नवम्बर, दिसम्बर के महीनों में जोखिम उठाने से हानि हो सकती है। इस बात का विशेष ध्यान रखें।

 कुंभ राशिफल 2019

राशि चिन्ह: घड़ा
राशि तत्व: वायु
राशि स्वामी: शनि

जनवरी और मार्च के मध्य का समय कुल मिलाकर अच्छा रहेगा। अतिचारी बृहस्पति आपकी राशि से दशम भाव में यानि वृश्चिक राशि में 29 मार्च तक रहेगा। शनि आपकी राशि से एकादश भाव में अच्छा चल रहा है। स्वयं की सूझबूझ से लिए गये निर्णय दूरगामी परिणाम देने वाले सिद्ध होंगे। यदि परीक्षा, प्रतियोगिता आदि के माध्यम से रोजी-रोजगार प्राप्त करने की फिराक में हैं तो इसमें आपको सफलता प्राप्त होगी। कार्यस्थल पर दो तरह की स्थितियां आपके सामने पेश आएंगी। एक स्थिति ऐसी होगी, जहां पर सीनियर्स और कलीग्स ना केवल आपकी प्रतिष्ठा बढ़ायेंगे बल्कि कोई पदभार भी प्राप्त हो सकता है। वहीं दूसरी ओर अतिरिक्त कार्यभार भी आपको दिया जा सकता है। जिसे लेकर आपके मन में शुरू में बेचैनी हो सकती है, लेकिन बाद में इसका लाभ भी होगा। आय में वृद्धि के संकेत भी बन रहे हैं। 

अप्रैल का महीना विशेष रूप से अच्छा रहेगा क्योंकि इस दौरान बृहस्पति एकादश भाव में प्रवेश कर चुका है। राहू भी 23 मार्च को मिथुन राशि में आ चुका है। केतु एकादश में है ही। यह महीना आपके लिए विशेष रूप से अच्छा रहेगा। धन वृद्धि के लिए किये गये कार्य अच्छा लाभ दे सकते हैं। अचानक से किसी महती योजना में प्रवेश भी कर सकते हैं। अगर राजनीति या सामाजिक क्षेत्र से जुड़े हैं तो इस दौरान मनमाफिक स्थितियां निर्मित होंगी। सुदूरवर्ती स्थान की यात्रा का योग बन रहा है और यह यात्रा आपके लिए लाभदायक सिद्ध होगी। 

मई से अक्टूबर का समय अच्छा ही व्यतीत होगा। बृहस्पति 23 अप्रैल को वक्रगति से पुनः वृश्चिक राशि में प्रवेश कर चुका है और यहां 5 नवम्बर तक रहेगा। करियर की दृष्टि से यह समय अच्छा है। आगे बढ़ने के बहुत अच्छे प्राप्त होंगे। यदि नौकरी में हैं तो पदभार में वृद्धि हो सकती है। यदि अन्यत्र या नई नौकरी की तलाश में हैं तो इस दिशा में भी आपको सफलता प्राप्त होगी। वर्तमान व्यवसाय में लाभजन्य स्थितियां निर्मित होंगी और विस्तार भी कर सकते हैं। यदि कोई नया धंधा या कारोबार शुरू करना चाह रहे हैं तो उसके लिए भी स्थितियां आपके पक्ष में रहेंगी। यदि पैतृक या किसी विवादित संपत्ति को लेकर कोई विवाद या कोर्ट केस चल रहा है तो उसे कोर्ट के बाहर सुलझाने का प्रयास करेंगे तो आपके लिए बेहतर रहेगा। 

मई से लेकर सितम्बर तक मंगल की स्थिति गोचर से बहुत अच्छी रहेगी। सूर्य भी इन दिनों सहायक सिद्ध होगा। महत्वपूर्ण योजनाओं और कार्यों को इस अवधि में आसानी से संपन्न कर सकते हैं। 

अक्टूबर का महीना प्रोफेशनल रूप से नरम है, अतः इस समय विशेष सावधानी बरतें। 

नवम्बर – दिसम्बर के महीने विशेष रूप से अच्छे रहेंगे। जैसा कि विदित है बृहस्पति 5 नवम्बर को धनु राशि में प्रवेश कर शनि और केतु के साथ संयोग बना चुका है। प्रोफेशनल दृष्टि से कोई ऐसा प्रोजेक्ट या प्लानिंग अमल में आ सकती है, जिसे लेकर आप पिछले काफी समय से प्रयत्नशील थे। कार्यवश देश-विदेश की यात्राओं का योग बन रहा है और ये यात्राएं आपके लिए काफी सहायक सिद्ध होंगी। राजनीतिक और सामाजिक दृष्टि से भी यह समय काफी माकूल है। आपकी मान-प्रतिष्ठा में बढ़ोतरी होगी। 

परिवारः

पारिवारिक दृष्टि से यह वर्ष काफी सुखद स्थितियां निर्मित करेगा। कुल मिलाकर पारिवारिक वातावरण सौहार्दपूर्ण रहेगा एवं भावनात्मक स्तर पर एक दूसरे से गूथे भी रहेंगे। परिवार वृद्धि का योग चल रहा है, जिसमें विवाह या शिशु जन्म आदि की संभावना प्रबल हो रही है। यदि परिवार में कोई रेनोवेशन या शिफ्टिंग करने का मन बना रहे हैं, तो यह कार्य भी संपन्न हो सकता है। अगर स्वयं विवाह के योग्य हैं तो विवाह होने अच्छी संभावनाएं हैं। परिजनों के साथ यात्रा और सैर-सपाटे पर भी जाएंगे। 

धन सम्पत्तिः

धन संपत्ति की दृष्टि से वर्ष काफी अच्छा है। आर्थिक स्थिति में आशातीत मजबूती आएगी। इस दृष्टि से अप्रैल, नवम्बर, दिसम्बर के महीने विशेषरूप से अच्छे हैं। इस वर्ष प्रोफेशनली आप काफी बेहतर करेंगे, जिसके फलस्वरूप रेगूलर इन्कम में भी वृद्धि का योग बन रहा है। अगर कोई धन संपत्ति या प्रॉपर्टी आदि मिलने के आसार हैं तो यह कार्य भी इस वर्ष बन सकता है। 

कार्यक्षेत्रः

कार्यक्षेत्र के लिहाज से यह वर्ष विशेष रूप से अच्छा है। जिंदगी में आगे बढ़ने के बहुत अच्छे अवसर प्राप्त होंगे। यदि उनका ठीक से उपयोग कर पाएंगे तो निसंदेह बहुत अच्छा लाभ भी होगा। जो लोग रोजी-रोजगार की तलाश में हैं उन्हें निराश नहीं होना पड़ेगा। अगर विदेश में रोजगार या उच्च शिक्षा के लिए प्रयत्नशील हैं तो इस दिशा में भी आपको सफलता मिलेगी। प्रमोशन और ट्रांसफर का योग भी बना हुआ है। 

सेहतः

सेहत की दृष्टि से यह वर्ष कुल मिलाकर अच्छा है लेकिन हमारी ऐसी मान्यता है कि स्वास्थ्य के प्रति लापरवाही बरतना जीवन में आगे चलकर महंगा साबित होता है। यदि इस सूत्र को गांठ बांध लेंगे तो लाईफ की क्वालिटी बदल जाएगी। ग्रहों की दृष्टि से यह वर्ष स्वास्थ्य के लिए अच्छा है। फिर भी मार्च और सितम्बर के महीने नरम है, इस दौरान अपने और परिजनों के स्वास्थ्य का ध्यान रखें। 

ज्योतिषीय उपायः

आपकी राशि से यदि 8 मुखी, 11 मुखी और 15 मुखी रूद्राक्ष धारण करेंगे तो यह आपके लिए काफी लाभदायक सिद्ध होगा। नगों की दृष्टि से नीलम, पन्ना और हीरा पहनना सदैव सहायक सिद्ध होगा। 

क्या करेंः

यह वर्ष बहुत अच्छा है। यदि मनोयोग से समय का सदुपयोग करने का प्रयत्न करेंगे तो आपको आशा से अधिक लाभ होगा। महत्वाकांक्षी योजनाओं को व्यवहार में लाने का वर्ष है।

क्या न करेंः

यदि प्रॉपर्टी को लेकर कोई मामला कोर्ट-कचहरी में चल रहा है तो उसको न्यायिक प्रक्रिया में न उलझा कर आपसी सहमति से सुलझाने का प्रयास करेंगे तो आपकी यह समस्या इसी वर्ष हल हो जायेगी।

मीन राशिफल 2019 

राशि चिन्ह: मछली
राशि तत्व: जल
राशि स्वामी: बृहस्पति 

जनवरी से मार्च के मध्य आपकी राशि से बृहस्पति इस अवधि में नवम भाव में रहेगा। राहू पंचम भाव में, केतु एकादश में और शनि दशम भाव में विचरण करेंगे। यह समय कुल मिलाकर आपको अच्छे परिणाम देगा। नौकरी, व्यवसाय में आगे बढ़ने के अच्छे अवसर प्राप्त होंगे। वर्तमान नौकरी में पदोन्नति हो सकती है। यदि बदलाव के इच्छुक हैं तो इस दिशा में कार्य करें आपको सफलता प्राप्त होगी। व्यवसाय की दृष्टि से समय अच्छा है। विस्तार या कोई नया कार्य प्रारम्भ करना चाह रहे हैं तो उसमें आपको सफलता प्राप्त होगी। यदि विदेश में नौकरी, व्यवसाय या शिक्षा की तलाश में हैं तो उसके लिए भी समय उपयुक्त है। जो लोग परीक्षा, प्रतियोगिता या साक्षात्कार में सम्मिलित हो रहे हैं, उन्हें सफलता प्राप्त होगी।

अप्रैल के महीने में प्रमुख ग्रह स्थिति इस प्रकार रहेगी। बृहस्पति 29 मार्च को शनि के साथ दशम भाव में युति बना चुका है। केतु भी इसी भाव में और राहू चतुर्थ में और ये दोनों ही ग्रह 23 मार्च को इस भाव में प्रविष्ट हुए हैं। अचानक से प्रोफेशनली बदलाव का माहौल दिखेगा। कार्यों के बनने में फिजूल की रूकावटे पेश आएंगी। अधिकारियों या कलीग्स के साथ अचानक विरोध का वातावरण निर्मित हो सकता है। यह स्थिति नितांत तात्कालिक है इसलिए सीरियस रिएक्शन की आवश्यकता भी नहीं है। भावनात्मक स्तर पर डिस्टर्ब हो सकते हैं अतः धैर्य और संयम से काम लें।

मई से लेकर अक्टूबर तक का समय बेहतरीन व्यतीत होगा। हालांकि एक – दो महीने अवसाद के भी हो सकते हैं। बृहस्पति पुनः 23 अप्रेल को वक्रगति से चलता हुआ नवम भाव में आ गया है। शुरू में आयी समस्याओं से निजात प्राप्त होगी। आपके आत्म विश्वास में वृद्धि होगी। बड़े मनोवेग के साथ पुनः कार्यों में जुट जाएंगे। जो लोग रोजी-रोजगार की तलाश में हैं उन्हें आशातीत सफलता प्राप्त होगी। अगर किसी कंपटीशन में सम्मिलित हो रहे हैं तो परिणाम बहुत अच्छे रहेंगे। जो लोग सृजनात्मक कार्य जैसे – लेखन, साहित्य, कला, संगीत, सिनेगा, डांस, म्यूजिक या स्पोर्ट्स से संबंध रखते हैं तो वे अपनी प्रतिभा के बल पर स्वयं को स्थापित करने में सफल रहेंगे। 

जुलाई, अगस्त, सितम्बर के महीने विशेष रूप से अच्छे रहेंगे। यदि नौकरी में बदलाव चाह रहे हैं या नौकरी की तलाश में हैं या कोई नया व्यवसाय प्रारम्भ करने का प्लान बना रहे हैं तो ये महीने विशेष रूप से अच्छे हैं। इनमें यदि कुछ नया करेंगे तब आपको अच्छी सफलता भी मिलेगी। 

मई – जून के महीने थोड़े नरम हैं। इन महीनों में रिस्क टेंकिंग कार्यों से दूर रहना चाहिए। 

नवम्बर – दिसम्बर के महीनों में ग्रह स्थिति इस प्रकार रहेगी। बृहस्पति 5 नवम्बर को धनु राशि में आकर शनि और केतु के साथ युति बना चुका है और राहू चतुर्थ भाव में विचरण कर रहा है। कार्यस्थल पर व्यर्थ की उलझनें पेश आएंगी। किसी प्रोजेक्ट पर जिस पर आप काफी समय से कार्य कर रहे हैं उसको लेकर सीनियर्स और कलीग्स के साथ मतभेद हो सकता है। ऑफिसियल वर्क को लेकर बीच-बीच में अवसाद झेलना पड़ सकता है। पूंजी निवेश संबंधी कार्य चाहे व्यवसायिक हों या पर्सनल जैसे प्रॉपर्टी आदि उनमें इंवेस्टमेंट तब तक नहीं करना चाहिए जब तक स्थिति स्पष्ट न हो जाये। कंफ्यूजन की स्थिति में मित्र-शुभचिंतकों के साथ परामर्श आपके लिए काफी सहायक सिद्ध होगा।

परिवारः

पारिवारिक दृष्टि से कुल मिलाकर यह वर्ष काफी अच्छा है। बृहस्पति के शुभ होने के कारण पारिवारिक वातावरण खुशनुमा बना रहेगा। आपसी जनों में प्रेम भाव भी पनपेगा। परिवार में मांगलिक कार्य का योग चल रहा है। यह स्थिति जनवरी से मार्च के मध्य सम्पन्न हो सकती है या जुलाई से अक्टूबर के बीच। परिजनों के साथ पर्यटन पर जाएंगे। ये कोई रमणीक स्थान भी हो सकता है या कोई धार्मिक स्थल।

धन सम्पत्तिः

धन सम्पत्ति की दृष्टि से यह वर्ष उत्तम है। स्वयं की सूझबूझ और आत्म विश्वास से जो निर्णय लेंगे वे आपको बहुत अच्छे फल भी प्रदान करेंगे। जमीन, जायदाद, फ्लैट या ऑफिस स्पेस खरीदने का प्रबल योग बन रहा है। अगर कोई पैतृक सम्पत्ति मिलने को है और उसको लेकर डिसप्यूटस हैं तो उनके हल होने की संभावना बन रही है। आपसी विचार विमर्श से भी मसला हल हो सकता है। 

कार्यक्षेत्रः

कार्यक्षेत्र की दृष्टि से भी वर्ष काफी सहायक है। इस वर्ष आप अपनी उन योजनाओं और प्लानिंग को व्यवहार में ला पाएंगे जिन पर आप काफी समय से काम कर रहे थे। अन्यत्र हमने कुछ महीनों का जिक्र किया हुआ है जैसे – अप्रैल, नवम्बर और दिसम्बर, ये माह कमजोर हैं अतः इन महीनों में बहुत जोश-खरोश के साथ योजनाओं पर कार्य नहीं करना चाहिए। धैर्य और संयम को सारथी बनाये आपको सफलता प्राप्त होगी।

सेहतः

कुल मिलाकर इस वर्ष सेहत का सितारा अच्छा है। इसलिए ज्यादातर सेहत अच्छी रहेगी। हमारी मान्यता है जेनेटिकली जो हैल्थ हमको मिलती है वो मात्र 60 प्रतिशत होती है। 40 प्रतिशत हमारे व्यवहार, क्लाईमेट और आदतों पर निर्भर करती है। इस 40 प्रतिशत को साधेंगे तो साल भर स्वस्थ रहेंगे। अन्यत्र कुछ कमजोर महीनों का जिक्र है, उसका अवश्य ध्यान रखें।

ज्योतिषीय उपायः

उपाय की दृष्टि से अगर 7 मुखी, 12 मुखी और 14 मुखी रूद्राक्ष पहनेंगे तो इस वर्ष आकाश से ज्यादा लाभ उठा पाएंगे। पुखराज, मोती और मूंगा रत्न बेझिझक धारण किये जा सकते हैं।

क्या करेंः

अधिकतर यह वर्ष बहुत अच्छा है। यदि इस समय का भरपूर लाभ उठा पाएंगे तो अपनी स्थिति में सुखद बदलाव ला सकते हैं। उन महीनों में विशेष सावधान रहें, जिनका इस राशिफल मे जिक्र किया हुआ है।

क्या न करेंः

एक पुरानी कहावत है कि समय से पहले और किस्मत से ज्यादा नहीं मिलता। इस राशिफल में वो समय अंकित किया जा चुका है जिसका सदुपयोग कर लाभ को बढ़ा सकते हैं और हानि को घटा सकते हैं। 

About Arun Kumar Singh

Check Also

लोकतंत्र के महापर्व यानि लोकसभा चुनाव 2019: दूसरे फेज की वोटिंग में करीब 66 फीसदी वोट पड़े Capture 14 298x165

लोकतंत्र के महापर्व यानि लोकसभा चुनाव 2019: दूसरे फेज की वोटिंग में करीब 66 फीसदी वोट पड़े

लोकतंत्र के महापर्व यानि लोकसभा चुनाव के लिए 18 अप्रैल को दूसरे चरण का मतदान …

Leave a Reply

Copyright © 2017, All Right Reversed.