Wednesday , June 20 2018 [ 5:56 PM ]
Breaking News
Home / अन्य / लोकसभा उपचुनाव के बाद अब इस चुनाव में शिवसेना और बीजेपी फिर होगी आमने-सामने
[object object] लोकसभा उपचुनाव के बाद अब इस चुनाव में शिवसेना और बीजेपी फिर होगी आमने-सामने              660x330

लोकसभा उपचुनाव के बाद अब इस चुनाव में शिवसेना और बीजेपी फिर होगी आमने-सामने

     मुंबई: लोकसभा चुनाव के बाद शिवसेना और बीजेपी के बीच जारी कड़वाहट आगे भी जारी रहने की पूरी संभावना है. इस उपचुनाव में बीजेपी ने शिवसेना को पालघर में शिकस्त दी थी. पालघर सीट से बीजेपी उम्मीदवार राजेंद्र गावित ने अपने निकटतम प्रतिद्वंद्वी श्रीनिवास चिंतामन वनगा को हराया था. शिवसेना ने चुनाव आयोग पर पक्षपात करने का भी आरोप लगाया था. चुनाव परिणाम आने के बाद शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस भी की थी. उन्होंने बीजेपी पर जमकर हमला बोला लेकिन समर्थन के मुद्दे पर कुछ नहीं कहा. हालांकि बीजेपी ने सधी प्रतिक्रिया दी थी लेकिन शिवसेना का रुख नरम नहीं है.  [object object] लोकसभा उपचुनाव के बाद अब इस चुनाव में शिवसेना और बीजेपी फिर होगी आमने-सामने              300x152

विधानपरिषद चुनाव में फिर आमने-सामने
       शिवसेना और बीजेपी आने वाले विधानपरिषद चुनाव में फिर आमने-सामने होंगे. शिवसेना महाराष्ट्र विधान परिषद की कोंकण संभाग स्नातक सीट पर 25 जून को होने वाला चुनाव लड़ेगी. पार्टी के एक नेता ने यह बात कही. शिवसेना एक बार फिर अपनी सहयोगी बीजेपी से दो-दो हाथ करेगी. शिवसेना के श्रीनिवास वनगा कल ही पालघर लोकसभा उपचुनाव में बीजेपी के राजेंद्र गावित से हार गए थे. 

     इस बारे में शिवसेना के एक नेता ने बताया कि पार्टी ने ठाणे के पूर्व महापौर संजय मोरे को कोंकण संभाग स्नातक सीट से चुनाव मैदान में उतारने का फैसला किया है. मोरे का अन्य लोगों के साथ ही बीजेपी के निरंजन दावखारे से मुकाबला होगा जिनके पास पिछले महीने ही इस्तीफा देने से पहले यह सीट थी. दावखारे एनसीपी छोड़कर बीजेपी से जुड़ गए थे. भगवा पार्टी के सूत्रों ने बताया कि पार्टी पूर्व केंद्रीय मंत्री और वरिष्ठ कांग्रेस नेता विजय नवल पाटिल के बेटे अंकित विजय पाटिल को नासिक संभाग शिक्षक सीट से चुनाव में उतार सकती है. महाराष्ट्र विधान परिषद की तीन सीटों के लिए होने वाले इस द्विवार्षिक चुनाव के लिए नामांकन की अंतिम तिथि सात जून है. मतगणना 28 जून को होगी. परिषद के वर्तमान सदस्यों का कार्यकाल सात जुलाई को समाप्त होगा. 
   गडकरी ने शरद पवार से मुलाकात की
      केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने पुणे में एनसीपी प्रमुख शरद पवार से आज मुलाकात की है. एक सूत्र ने यह जानकारी दी. सत्तारूढ़ बीजेपी को हाल में हुए लोकसभा और विधानसभा के उपचुनावों में तगड़ा झटका लगने के एक दिन बाद बीजेपी नेता ने पवार से मुलाकात की है. ऐसा माना जाता है कि पवार और गडकरी के बीच अच्छे संबंध हैं. हालिया , उपचुनावों में बीजेपी महाराष्ट्र में भंडारा – गोदिंया लोकसभा सीट एनसीपी के हाथों हार गई , जबकि वह पालघर लोकसभा सीट अपना कब्जा बनाए रखने में कामयाब रही. संपर्क किए जाने पर एनसीपी प्रवक्ता नवाब मलिक ने कहा कि उन्हें इस बारे में जानकारी नहीं है कि दोनों नेताओं की मुलाकात हुई है. हालांकि, उन्होंने बताया कि देानों नेताओं ने चीनी उत्पादन से जुड़ी समस्याओं सहित राज्य से जुड़े मुद्दों पर चर्चा की होगी. इससे पहले , गडकरी ने नरेन्द्र मोदी सरकार की पिछले चार साल की उपलब्धियों को बयां करने के लिए संवाददाता सम्मेलन किया.after-lok-sabha-bypolls-shivsena-bjp-to-clash-in-legislative-council-elections
now-after-the-lok-sabha-by-election-shiv-sena-and-bjp-will-again-face-a-face-to-face

About Arun Kumar Singh

Check Also

[object object] जम्मू-कश्मीर में राज्यपाल शासन को राष्ट्रपति ने दी मंजूरी                                310x165

जम्मू-कश्मीर में राज्यपाल शासन को राष्ट्रपति ने दी मंजूरी

 आपात व्यवस्थाः जम्मू-कश्मीर में 40 साल में आठ बार राज्यपाल शासन        राज्यपाल …

Leave a Reply

Copyright © 2017, All Right Reversed.