Wednesday , June 20 2018 [ 2:33 PM ]
Breaking News
Home / अन्य / विकास का कोई विकल्प नहीं: मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ
[object object] विकास का कोई विकल्प नहीं: मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ 01 2 1 660x330

विकास का कोई विकल्प नहीं: मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ

मुख्यमंत्री ने गोरखपुर में 73 परियोजनाओं का लोकार्पण एवं शिलान्यास किया
 
मुख्यमंत्री द्वारा 3,929 लाख रु0 की 66 परियोजनाओं का लोकार्पण एवं 
1,932.63 लाख रु0 की 7 परियोजनाओं का शिलान्यास सम्पन्न
 
विकास का कोई विकल्प नहीं: मुख्यमंत्री
[object object] विकास का कोई विकल्प नहीं: मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ Press 300x120
गोरखपुर जनपद विकास की नई उंचाइयों की ओर अग्रसर
प्रधानमंत्री आवास योजना से गरीबों को आच्छादित 
करने हेतु पात्रों की सूची बनायी जाए
पेयजल व्यवस्था बेहतर बनाने के निर्देश
जल-जमाव की समस्या के स्थायी निदान के लिए 
प्रभावी कार्ययोजना तैयार की जाए
 
लखनऊ: 11 जून, 2018
उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी ने आज जनपद गोरखपुर में गोरखपुर क्लब में नगर निगम, लोक निर्माण विभाग, सिंचाई एवं जल संसाधन, विद्युत, खेल एवं कृषि विभाग की कुल 73 परियोजनाओं का लोकार्पण एवं शिलान्यास किया। इनमें 3,929 लाख रुपये की 66 परियोजनाओं का लोकार्पण एवं 1,932.63 लाख रुपये की 7 परियोजनाओं का शिलान्यास शामिल है। इस अवसर पर उन्होंने कहा कि जिन परियोजनाओं का शिलान्यास किया गया है उसको समयबद्ध ढंग से पूर्ण किया जाये तथा कार्य गुणवत्तायुक्त एवं मानक के अनुरूप हो।
      मुख्यमंत्री जी ने कहा कि विकास का कोई विकल्प नहीं है और विकास के प्रति सबकी सकारात्मक सोच होती है। उन्होंने कहा कि गोरखपुर जनपद विकास की नई उंचाइयों की ओर अग्रसर है। अब यह पिछड़े जनपद की श्रेणी में नहीं गिना जायेगा। जनपद अपनी विरासत को आगे बढ़ाते हुए आधुनिक विकास से जुड़ रहा है। मुख्यमंत्री जी ने इस अवसर पर अमर शहीद पंडित राम प्रसाद बिस्मिल को कोटिशः नमन किया।
    [object object] विकास का कोई विकल्प नहीं: मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ 01 2 1 300x179  मुख्यमंत्री जी ने कहा कि जनपद को स्वच्छ, सुन्दर बनाने के साथ विकास को गति प्रदान करना आवश्यक है। इसके लिए उन्होंने आमजन में जागरूकता लाने पर बल देते हुए कहा कि वार्डवार स्वच्छता कमेटी का गठन किया जाये और जनसामान्य को जागरूक किया जाए। इस कार्यक्रम में आमजन की सहभागिता सुनिश्चित होने से ही जनपद को स्वच्छ एवं सुन्दर बनाया जा सकता है। उन्होंने स्वच्छता के साथ-साथ वृक्षारोपण पर भी विशेष जोर दिया, जिससे जनपद स्वच्छ, सुन्दर एवं हरा-भरा बन सके।
     मुख्यमंत्री जी ने कहा कि जल-जमाव की समस्या का स्थायी निदान होना आवश्यक है। इसके लिए प्रभावी कार्ययोजना तैयार की जाये। सड़कें चैड़ी हों, निर्बाध विद्युत आपूर्ति हो, शुद्ध पेयजल उपलब्ध हो इस दिशा में निरन्तर कार्य किया जा रहा है, लेकिन इसकी शत-प्रतिशत सफलता में जनसहभागिता आवश्यक है। उन्होंने इस अवसर पर उपस्थित पार्षदों से कहा कि वे अपने-अपने वाॅर्ड को स्वच्छ बनायें, जिससे यह जनपद पूरे प्रदेश व देश के लिए स्वच्छता के रूप में अपनी पहचान बनाये। यह कार्य कठिन नहीं है, आवश्यकता दृढ़ इच्छाशक्ति और जागरूकता की है। थोड़ी सी जागरूकता शहर को सुन्दर, स्वच्छ एवं जेई जैसी बीमारी से निजात दिला सकती है।
      मुख्यमंत्री जी ने आगे कहा कि प्रधानमंत्री आवास योजना से गरीबों को आच्छादित करने हेतु पात्रों की सूची बना ली जाये ताकि उन्हें इस योजना के तहत लाभान्वित किया जा सके। उन्होंने बताया कि इस योजना के तहत आवास निर्माण हेतु ढाई लाख रुपये देने का प्राविधान है। इसी प्रकार उन्होंने शौचालय निर्माण एवं उसके प्रयोग पर विशेष बल दिया। मुख्यमंत्री जी ने नाले/नालियों की नियमित सफाई करने तथा उसमें कूड़ा कचरा न फेंकने के संबंध में लोगों को जागरूकता किये जाने की आवश्यकता जतायी। उन्होंने कहा कि कूड़ा-कचरा से नालियां जाम होती हैं, जिसके कारण जल-जमाव और अनेकानेक बीमारियां पनपती हंै।
    मुख्यमंत्री जी ने कहा कि शहरी क्षेत्रों में एल0ई0डी0 बल्ब लगाये जा रहे हैं तथा यह भी व्यवस्था की जा रही है कि पुरानी लाइटों को बदल कर एल0ई0डी0 लाइटें लगायी जायें। उन्होंने बताया कि प्रदेश में 5.50 लाख स्ट्रीट लाइटें लगाई गई हंै। उन्होंने पेयजल व्यवस्था बेहतर बनाने के निर्देश देते हुए कहा कि शुद्ध पेयजल की किल्लत नहीं होनी चाहिए।
इस अवसर पर जनप्रतिनिधिगण तथा शासन-प्रशासन के वरिष्ठ अधिकारी भी उपस्थित थे।

About Arun Kumar Singh

Check Also

[object object] जम्मू-कश्मीर में राज्यपाल शासन को राष्ट्रपति ने दी मंजूरी                                310x165

जम्मू-कश्मीर में राज्यपाल शासन को राष्ट्रपति ने दी मंजूरी

 आपात व्यवस्थाः जम्मू-कश्मीर में 40 साल में आठ बार राज्यपाल शासन        राज्यपाल …

Leave a Reply

Copyright © 2017, All Right Reversed.