Friday , April 19 2019 [ 10:09 AM ]
Breaking News
Home / अन्य / राहुल गांधी की ‘जान को खतरा’ मामले में नया मोड़…..
राहुल गांधी की ‘जान को खतरा’ मामले में नया मोड़….. Capture 12 493x330

राहुल गांधी की ‘जान को खतरा’ मामले में नया मोड़…..

राहुल गांधी की ‘जान को खतरा’ मामले में गुरुवार को नया मोड़ आ गया। कांग्रेस ने कहा है कि उसने राहुल गांधी की सुरक्षा पर चिंता जताते हुए गृह मंत्रालय को कोई पत्र नहीं लिखा है।

राहुल गांधी की ‘जान को खतरा’ मामले में नया मोड़….. Capture 12

नई दिल्ली : कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी की ‘जान को खतरा’ मामले में नया मोड़ आ गया है। कांग्रेस ने गुरुवार को कहा कि राहुल गांधी की ‘जान को खतरा’ बताने वाला उसने कोई पत्र गृह मंत्रालय को नहीं लिखा है और न ही इस बारे में उसने शिकायत की है। इससे पहले गृह मंत्रालय ने अपने एक बयान में कहा कि कांग्रेस की तरफ से उसे इस तरह का कोई पत्र नहीं मिला है। दरअसल, मीडिया रिपोर्टों में कहा गया कि कांग्रेस ने राहुल गांधी की सुरक्षा को लेकर गृह मंत्रालय को पत्र लिखा है। इस कथित पत्र के मुताबिक राहुल जब बुधवार को अमेठी में थे तो उस दौरान थोड़े समय के अंतराल में उनके सिर और चेहरे के आस-पास सात बार हरे रंग की लेजर बीम दिखाई दी। पत्र में आशंका जाहिर की गई कि यह लेजर बीम स्नाइपर राइफल की हो सकती है। 

मीडिया रिपोर्टों की मानें तो इस पत्र को कथित रूप से कांग्रेस के वरिष्ठ नेता अहमद पटेल और रणदीप सिंह सुरजेवाला ने लिखा था। वहीं, यह मामला तूल पकड़ता देख कांग्रेस सामने आई और उसने आधिकारिक रूप से अपना रुख स्पष्ट किया। मीडिया को संबोधित करते हुए कांग्रेस नेता अभिषेक मनु सिंघवी ने कहा कि पार्टी की तरफ से इस तरह का कोई पत्र नहीं लिखा गया। सिंघवी ने कहा, ‘इस तरह का कोई पत्र नहीं लिखा गया और न ही इस बारे में कोई शिकायत की गई है। मैं स्पष्ट रूप से कहना चाहता हूं कि चुनाव के दौरान सुरक्षा का दायित्व एसपीजी, सुरक्षा बलों एवं कुछ हद तक गृह मंत्रालय का होता है। हमें पता है कि ये सुरक्षा एजेंसियां अपनी जिम्मेदारी के प्रति जागरूक हैं और वे उसी तरह की सुरक्षा देंगी जैसा कि वे एसपीजी सुरक्षा प्राप्त प्रत्येक व्यक्ति को देती हैं।’ 

सिंघवी से यह पूछे जाने पर क्या कांग्रेस ने राहुल गांधी की सुरक्षा पर चिंत जताते हुए गृह मंत्रालय को पत्र लिखा है, इस पर सिंघवी ने गृह मंत्रालय के बयान का हवाला दिया। सिंघवी के मुताबिक गृह मंत्रालय का कहना है उसे इस बारे में कोई पत्र नहीं मिला और हम भी यही कह रहे हैं कि हमने उसे कोई पत्र नहीं लिखा। राहुल गांधी ने बुधवार को अमेठी सीट से अपना नामांकन दाखिल किया जबकि गुरुवार को वह रायबरेली में अपनी मां सोनिया गांधी के साथ थे। सोनिया ने रायबरेली से गुरुवार को अपना पर्चा भरा। इस मौके पर उनके साथ प्रियंका गांधी भी मौजूद थीं। 

About Arun Kumar Singh

Check Also

लोकतंत्र के महापर्व यानि लोकसभा चुनाव 2019: दूसरे फेज की वोटिंग में करीब 66 फीसदी वोट पड़े Capture 14 298x165

लोकतंत्र के महापर्व यानि लोकसभा चुनाव 2019: दूसरे फेज की वोटिंग में करीब 66 फीसदी वोट पड़े

लोकतंत्र के महापर्व यानि लोकसभा चुनाव के लिए 18 अप्रैल को दूसरे चरण का मतदान …

Leave a Reply

Copyright © 2017, All Right Reversed.