Wednesday , August 22 2018 [ 1:02 PM ]
Breaking News
Home / अन्य / खुलासा! भीमा कोरे गावं के माओवादी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की हत्या राजीव गांधी की तरह चाहते थे ,पढ़े पत्र
[object object] खुलासा! भीमा कोरे गावं के माओवादी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की हत्या  राजीव गांधी की तरह चाहते थे ,पढ़े पत्र images

खुलासा! भीमा कोरे गावं के माओवादी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की हत्या राजीव गांधी की तरह चाहते थे ,पढ़े पत्र

नयी दिल्ली : भीमा-कोरेगांव में जनवरी में हुई हिंसा में पांच लोगों की गिरफ्तारी के बाद चौंकाने चाले तथ्‍य सामने आ रहे हैं. पुणे पुलिस को एक आरोपी के घर से ऐसा पत्र मिला है, जिसमें ‘राजीव गांधी की हत्या’ जैसी प्लानिंग का उल्लेख है. पत्र में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को निशाना बनाने की बात कही गयी है. गौर हो कि पुलिस ने बुधवार को रोना जैकब विल्सन, सुधीर ढावले, सुरेंद्र गाडलिंग सहित पांच लोगों को गिरफ्तार किया गया था.
[object object] खुलासा! भीमा कोरे गावं के माओवादी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की हत्या  राजीव गांधी की तरह चाहते थे ,पढ़े पत्र images
     विल्सन को दिल्ली से गिरफ्तार किया गया था, ढावले को मुंबई से, गाडलिंग, शोमा सेन और महेश राउत को नागपुर से पुलिस ने दबोचा था. पुलिस की मानें तो यह पत्र विल्सन के दिल्ली के मुनिरका स्थित फ्लैट से बरामद किया गया है. पत्र में कहा गया है कि मोदी ने 15 राज्यों में भाजपा को स्थापित करने में सफलता प्राप्त की है. यदि ऐसा ही रहा तो सभी मोर्चों पर पार्टी के लिए दिक्कत खड़ी हो जाएगी… कॉमरेड किसन और कुछ अन्य वरिष्‍ठ कॉमरेड्स ने मोदी राज को समाप्त करने के लिए कुछ मजबूत कदम बताये हैं. हम सभी राजीव गांधी जैसे हत्याकांड पर विचार कर रहे हैं…यह आत्मघाती जैसा प्रतीत होता है और इसकी भी अधिक संभावनाएं हैं कि हमें सफलता हाथ नहीं लगे, लेकिन हमें लगता है कि पार्टी हमारे प्रस्ताव पर विचार करे.

       [object object] खुलासा! भीमा कोरे गावं के माओवादी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की हत्या  राजीव गांधी की तरह चाहते थे ,पढ़े पत्र              194x300पत्र में आगे लिखा गया है कि उन्हें रोड शो में टारगेट करना एक असरदार रणनीति का हिस्सा हो सकता है. हमें लगता है कि पार्टी का अस्तित्व किसी भी त्याग से ऊपर है… बाकी बातें अगले पत्र में… इस खुलासे के बाद सीपीएम महासचिव सीताराम येचुरी ने कहा कि अभी तक तो सुरक्षा संस्थाएं अपना काम कर रही हैं. नेताओं की हिफाजत अभी उन्हीं के हाथ में है. फिलहाल कैसे कुछ कहें? कोर्ट-कचहरी बातों को सुन रही है, सुनने दें, इसके बाद पता चलेगा असलियत है क्या ?

    गौर हो कि आरोपियों को भीमा-कोरेगांव में एक जनवरी को हुई हिंसा से ठीक एक दिन पहले आयोजित यलगार परिषद के सिलसिले में गिरफ्तार किया गया था. उन पर प्रतिबंधित कम्युनिस्ट पार्टी ऑफ इंडिया (माओवाद) से जुड़े होने, विवादास्पद पर्चे बांटने, नफरत फैलाने वाले भाषण देने का आरोप लगा है. पुलिस ने गुरुवार को उन्‍हें सेशन कोर्ट के समक्ष पेश किया, जहां से उन्‍हें 14 जून तक पुलिस हिरासत में भेज दिया गया.
narendra-modi-bhima-koregaon-maoist-wants-killed-pm-modi as Rajiv Gandhi

Revealed! Maoists wanted to kill Prime Minister Narendra Modi 

About Arun Kumar Singh

Check Also

[object object] हर वर्ष विभाजन की टीसें छोड़ जाता है स्वतन्त्रता दिवस              310x165

हर वर्ष विभाजन की टीसें छोड़ जाता है स्वतन्त्रता दिवस

      मानचित्र में जो दिखता है नहीं देश भारत है। भू पर नहीं …

Leave a Reply

Copyright © 2017, All Right Reversed.