Thursday , June 20 2019 [ 9:51 PM ]
Breaking News
Home / अन्य / चुनाव आयोग की बंगाल की तरह वाराणसी पर नजर क्यों नहीं है-मायावती
चुनाव आयोग की बंगाल की तरह वाराणसी पर नजर क्यों नहीं है-मायावती Capture 16 654x330

चुनाव आयोग की बंगाल की तरह वाराणसी पर नजर क्यों नहीं है-मायावती

रविवार को जिन सीटों पर चुनाव होने हैं उनमें कोलकाता उत्तर एवं कोलकाता दक्षिण, दम दम, बारासात, बशीरहाट, जादवपुर, डायमंड हार्बर, जयनगर (आरक्षित) और मथुरापुर (आरक्षित) सीट शामिल हैं। वाराणसी में भी 19 मई को मतदान होना है।

lucknow प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के चुनाव क्षेत्र वाराणसी को लेकर बहुजन समाज पार्टी (बसपा) सुप्रीमो मायावती ने शुक्रवार को चुनाव आयोग से सवाल किये। मायावती ने ट्वीट किया, ‘‘पीएम श्री नरेन्द्र मोदी को वाराणसी में हर हाल में जितवाने की कोशिश में वहाँ की हर गली-कूचे व घर-घर में जो बाहरी लोगों के माध्यम से पहले लालच और फिर धमकी आदि दी जा रही है, उससे वहाँ मतदान स्वतंत्र व निष्पक्ष कैसे हो पाएगा? चुनाव आयोग की बंगाल की तरह वाराणसी पर नजर क्यों नहीं है?

चुनाव आयोग की बंगाल की तरह वाराणसी पर नजर क्यों नहीं है-मायावती Capture 16

गौरतलब है कि पश्चिम बंगाल में लोकसभा की उन नौ सीटों के लिए एक दिन पहले बृहस्पतिवार को रात 10 बजे प्रचार समाप्त हो गया जहां अंतिम चरण में चुनाव होने हैं। देश में यह पहली बार हुआ है जब तय समय से 20 घंटे पहले चुनाव प्रचार खत्म कर दिया गया और ऐसा चुनाव आयोग के आदेश के मुताबिक हुआ। 

रविवार को जिन सीटों पर चुनाव होने हैं उनमें कोलकाता उत्तर एवं कोलकाता दक्षिण, दम दम, बारासात, बशीरहाट, जादवपुर, डायमंड हार्बर, जयनगर (आरक्षित) और मथुरापुर (आरक्षित) सीट शामिल हैं। वाराणसी में भी 19 मई को मतदान होना है।

भारतीय चुनाव के इतिहास में इस तरह की पहली कार्रवाई में चुनाव आयोग ने पश्चिम बंगाल की नौ सीट पर प्रचार को शुक्रवार शाम छह बजे समाप्त करने की बजाए बृहस्पतिवार को रात 10 बजे खत्म करने का बुधवार को आदेश दिया। अमित शाह के रोडशो के दौरान शहर में तृणमूल कांग्रेस और भाजपा कार्यकर्ताओं के बीच हुई हिंसा के मद्देनजर यह आदेश दिया गया।

About Arun Kumar Singh

Check Also

छह प्रधानमंत्रियों के साथ काम कर चुके एक मंझे हुए राजनेता हैं रामविलास पासवान Capture 21 310x165

छह प्रधानमंत्रियों के साथ काम कर चुके एक मंझे हुए राजनेता हैं रामविलास पासवान

रामविलास पासवान के राजनीतिक सफर की शुरुआत 1960 के दशक में बिहार विधानसभा के सदस्य …

Leave a Reply

Copyright © 2017, All Right Reversed.