Tuesday , October 23 2018 [ 8:34 AM ]
Breaking News
Home / राज्य / उत्तर प्रदेश / पत्रकार समाज का भरोसा है -अरुण
[object object] पत्रकार समाज का भरोसा है -अरुण IMG 20180530 WA0408 660x330

पत्रकार समाज का भरोसा है -अरुण

हिन्दी पत्रकारिता हमेशा जीवन्त रहेगी – आकाश शर्मा 
समाज को दिशा देता है पत्रकार – कैलाश नाथ 
उत्तर प्रदेश श्रमजीवी पत्रकार यूनियन ने मनाया हिन्दी पत्रकारिता दिवस 
[object object] पत्रकार समाज का भरोसा है -अरुण IMG 20180530 WA0408 300x225जौनपुर। उत्तर प्रदेश श्रमजीवी पत्रकार यूनियन सम्बद्ध आई. एफ. डब्ल्यू. जे. की जनपद इकाई के तत्वावधान में हिंदी पत्रकारिता दिवस समारोह का आयोजन कलेक्ट्रेट परिसर स्थित सामुदायिक भवन/पत्रकार भवन के सभागार में किया गया। कार्यक्रम की अध्यक्षता समूह संपादक कैलाशनाथ तथा संचालन डॉक्टर कुंवर यशवंत सिंह एवं संतोष सोन्थालिया ने संयुक्त रुप से किया।
     [object object] पत्रकार समाज का भरोसा है -अरुण IMG 20180530 WA0384 300x169 समारोह का शुभारंभ मां सरस्वती के चित्र पर माल्यार्पण एवं दीप प्रज्ज्वलन से हुआ। प्रियेश मिश्र ने सरस्वती वंदना प्रस्तुत की। यूनियन के जिला अध्यक्ष विजय प्रकाश मिश्र ने अतिथियों और अभ्यागतों का स्वागत करते हुए हिंदी पत्रकारिता दिवस की प्रासंगिकता पर प्रकाश डाला। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि वरिष्ठ पत्रकार एवं उपाध्यक्ष उत्तर प्रदेश मान्यता प्राप्त समिति लखनऊ आकाश शर्मा और विशिष्ट अतिथि वरिष्ठ पत्रकार अविनाश शुक्ल, दीवानी बार के पूर्व महामंत्री अनिल सिंह कप्तान रहे। 
     कार्यक्रम को संबोधित करते हुए सर्चिंग आईज हिंदी/इंग्लिश दैनिक एवं  मासिक एवं क्रांतिकारी संवाद हिंदी दैनिक के संपादक  अरुण कुमार सिंह ने पत्रकारिता के विभिन्न पहलुओ पर प्रकाश डालते हुए कहा 
      उदंत मार्तण्ड हिंदी का प्रथम समाचार पत्र था जिसका प्रकाशन 30 मई, 1826 को कलकत्ता से एक साप्ताहिक पत्र के रूप में आरंभ हुआ था। उस समय अंग्रेज़ी, फारसी और बांग्ला में तो अनेक पत्र निकल रहे थे किंतु हिंदी में एक भी पत्र प्रकाशित नहीं होता था। प्रारंभिक रूप में इसकी केवल 500 प्रतियां ही मुद्रित हुई थीं पर इसके पाठक कलकत्ता से बहुत दूर होने के कारण एवं खर्च वहन करने की क्षमता न होने कारण इसका प्रकाशन लम्बे समय तक न चल सका क्योंकि उस समय कलकत्ता में हिंदी भाषियों की संख्या बहुत कम थी व डाक द्वारा भेजे जाने वाले इस पत्र के खर्चे इतने बढ़ गए कि इसे अंग्रेज़ों के शासन में चला पाना असंभव हो गया। अंतत: 4 दिसम्बर 1826 को इसके प्रकाशन को विराम देना पड़ा।   
        पूरा समाज पत्रकार पर भरोसा रखता है की जो बात अखबार ,चैनेल मे लिखी,खी गयी है वही सत्य है ,इसलिए हमे फेक न्यूज़ से बचते हुए समाज के भरोसे को कायम रखना चाहिए !हिंदी  एक ऐसी विधा है जो की जैसी लिखी जाती है वैसी ही पढ़ी जाती है  !आज विडंबना यह है की हम अपना नाम भी अंग्रेजी में लिखते है !पहमे हमे हिंदी को बचाने के लिए स्वयम आगे आना होगा यही हमरे कलम के सिपाही युगल किशोर जी को सच्ची श्रद्धांजली होगी !
     मुख्य अतिथि आकाश शर्मा ने पत्रकारिता के विभिन्न पहलुओं पर विस्तृत प्रकाश डालते हुए कहा कि हिन्दी पत्रकारिता हमेशा जीवन्त रहेगी जो देश को दिशा देती रहेगी। जो पत्रकारिता के इतिहास को हमेशा कायम रखेगी। इस अवसर पर विशिष्ठ अतिथि अविनाश शुक्ला ने कहा कि अखबार बचेगा तभी पत्रकारिता बचेगी, पत्रकारिता बचेगी तो पत्रकार बचेगे। इस लिए रचनान्तमक भूमिका पत्रकारों को तय करनी पड़ेगी।
       दीवानी बार के पूर्व महामंत्री अनिल सिंह कप्तान ने अपने सारगर्भित संबोधन में कहा कि हिंदी पत्रकारिता दिवस के अवसर पर आज सभी संकल्प ले कि आज से हम सभी अपना हस्ताक्षर हिंदी में करेंगे। उन्होंने कहा कि पत्रकारिता में जुझारूपन की आवश्यकता है। समूह संपादक कैलाश नाथ ने कहा कि हिंदी सर्वश्रेष्ठ भाषा है इसमें जो लिखा जाता है वही पढ़ा जाता है जबकि अन्य भाषाओं में ऐसा नहीं है। समाज की दिशा का निर्धारण करने की महत्वपूर्ण जिम्मेदारी पत्रकारों पर है पत्रकारों को अपने अंदर की स्वाभाविक कमियों को दूर करके राष्ट्र निर्माण में अपना योगदान सुनिश्चित करना चाहिए।
   [object object] पत्रकार समाज का भरोसा है -अरुण IMG 20180530 WA0422 1 300x169  इस अवसर पर उत्तर प्रदेश श्रमजीवी पत्रकार यूनियन की ओर से संपादक कैलाश नाथ, अविनाश शुक्ला, आकाश शर्मा और अनिल सिंह कप्तान एवं डा. कुवर यंशवंत सिंह को अंगवस्त्रम और स्मृति चिन्ह देकर यूनियन के अध्यक्ष ने सम्मानित किया। कार्यक्रम में पत्रकारिता के वर्तमान स्वरूप विषयक संगोष्ठी में पत्रकार ए0के0 सिंह, सतीश सिंह रघुवंशी, गिरीश श्रीवास्तव, प्रशांत मिश्र, शांतजौनपुरी, डॉक्टर यशवंत गुप्ता, प्रमोद पांडेय आदि ने अपने विचार व्यक्त किये। इस अवसर पर अरुण यादव सम्पादक, प्रेम प्रकाश मिश्र, मनीष जायसवाल, ओम प्रकाश यादव, विद्याधर राय विद्यार्थी, संजय शुक्ला, दीपक मिश्रा, शैलेंद्र यादव, आलोक सिंह, प्रमोद कुमार पांडेय, जुबेर अहमद, चंद्रमणि पांडेय, रियाजुल, महेंद्र प्रजापति, संतोष श्रीवास्तव, देवेश  मिश्रा, संतोष यादव, अरविंद उपाध्याय, अशोक कुमार उपाध्याय, दिलीप शुक्ला, शिवेश मिश्रा, ओम प्रकाश दुबे, अमिताभ नारायण मिश्र, नंदलाल मोर्य समेत बड़ी संख्या में पत्रकार एवं गणमान्य उपस्थित थे। अंत में 2 मिनट मौन रखकर पत्रकार कन्हैयालाल गोप के निधन पर शोक व्यक्त किया गया। अन्त में अध्यक्ष विजय प्रकाश मिश्र ने अभ्यागतों के प्रति आभार व्यक्त करते हुए कृतज्ञता ज्ञापित किया।Journalist is confident of society – Arun

About Arun Kumar Singh

Check Also

[object object] 68500 शिक्षक भर्ती : आंसर-की एक दिन देर से बुधवार को जारी होगी exam 310x165

68500 शिक्षक भर्ती : आंसर-की एक दिन देर से बुधवार को जारी होगी

    इलाहाबाद,वरिष्ठ संवाददाता, !परिषदीय प्राथमिक स्कूलों में 68500 सहायक अध्यापकों की भर्ती के लिए …

Leave a Reply

Copyright © 2017, All Right Reversed.