Sunday , May 26 2019 [ 11:09 PM ]
Breaking News
Home / अन्य / मेरे पास जो कुछ है शुभचिंतकों ने दिया है,नोटबंदी सबसे बड़ा घोटाला है।

मेरे पास जो कुछ है शुभचिंतकों ने दिया है,नोटबंदी सबसे बड़ा घोटाला है।

नई दिल्ली : लोकसभा चुनाव के लिए अंतिम चरण का मतदान 19 मई को होगा। इसके लिए प्रचार अभियान तेज हो गया है। इस बीच बुधवार सुबह बहुजन समाज पार्टी की अध्यक्ष मायावती ने एक बार फिर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर हमला बोला। उन्होंने कहा कि पीएम मोदी बीएसपी को बहन जी संपत्ति पार्टी कहते हैं। उन्होंने कहा कि बीएसपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष के पास जो कुछ भी है। यह उनके शुभचिंतकों और समाज द्वारा दिया गया है और सरकार से कुछ भी नहीं छुपाया गया है।

मेरे पास जो कुछ है शुभचिंतकों ने दिया है,नोटबंदी सबसे बड़ा घोटाला है। Capture 9

मायावती ने कहा कि जनहित और देशहित के मामले में बीएसपी की राष्ट्रीय अध्यक्ष बहुत फिट हैं और इनकी तुलना में मोदी बहुत ज्यादा अनफिट हैं। उन्होंने कहा ‘बीएसपी की सरकार ने विकास के मामले में हर स्तर पर उत्तर प्रदेश का नक्शा बदल दिया। लखनऊ की खूबसूरती को जिस तरह चार चांद लगाए गए, उससे यह समझा जा सकता है कि जनहित और देशहित के मामले में बीएसपी की राष्ट्रीय अध्यक्ष कितनी ज्यादा फिट हैं तथा इनकी तुलना में पीएम मोदी कितने ज्यादा अनफिट हैं। 

मायावती ने कहा, पीएम नरेंद्र मोदी वास्तम में जब मैं उत्तर प्रदेश की मुख्यमंत्री था उससे अधिक समय तक गुजरात के मुख्यमंत्री रहे। लेकिन उनकी विरासत बीजेपी और देश की सांप्रदायिकता पर काला धब्बा है। जब हमारी सरकार थी तब उत्तर प्रदेश दंगों और अराजकता से मुक्त था। 

उन्होंने कहा, मोदी सरकार दलित विरोधी है। दलितों को गुमराह करने का हथकंडा अपना रही है। पीएम मोदी शालीनताओं को तार-तार कर चुके हैं। उन्होंने कहा कि बेनामी संपत्ति वाले बीजेपी से जुड़े हैं, बीजेपी शाही खर्च वाली पार्टी है। क्या मोदी सरकार विदेश से काला धन वापस ला पाई? साथ ही उन्होंने कहा कि नोटबंदी सबसे बड़ा घोटाला है।

About Arun Kumar Singh

Check Also

शारदा चिटफंड घोटाले में सुबूत से छेड़छाड़ मामले में राजीव कुमार से CBI करेगी पूछताछ Capture 14 310x165

शारदा चिटफंड घोटाले में सुबूत से छेड़छाड़ मामले में राजीव कुमार से CBI करेगी पूछताछ

नई दिल्ली: कोलकाता के पूर्व पुलिस कमिश्नर राजीव कुमार को सुप्रीम कोर्ट से बड़ा झटका लगा है। सुप्रीम …

Leave a Reply

Copyright © 2017, All Right Reversed.