Tuesday , July 17 2018 [ 7:23 PM ]
Breaking News
Home / अन्य / महाकाल मंदिर के पास जमकर हुई मारपीट, औरतों को रॉड से पीटा
[object object] महाकाल मंदिर के पास जमकर हुई मारपीट, औरतों को रॉड से पीटा download 5

महाकाल मंदिर के पास जमकर हुई मारपीट, औरतों को रॉड से पीटा

उज्जैन में महाकाल मंदिर के बाहर फूल बेचने वाले दो गुटों के बीच जमकर मारपीट हुई। इस मारपीट में औरतों को भी नहीं बख्शा गया।

     घटनास्थल से कुछ ही दूरी पर महाकाल मंदिर की पुलिस चौकी और थाना है। इसके बावजूद करीब 20 मिनट तक मंदिर के बाहर मारपीट होती रही। घटना के तकरीबन एक घंटे बाद पुलिस ने दोनों पक्षों पर मारपीट का केस दर्ज किया। 

         Image result for ujjain mahakal photo [object object] महाकाल मंदिर के पास जमकर हुई मारपीट, औरतों को रॉड से पीटा mahakal temple ujjain 650x400 81469009922उज्जैन: मध्यप्रदेश के उज्जैन में महाकाल मंदिर के बाहर फूल बेचने वाले दो गुटों के बीच जमकर मारपीट हुई। इस मारपीट में औरतों को भी नहीं बख्शा गया। मामला सामने आने के बाद पुलिस ने केस दर्ज कर लिया है। बताया जा रहा है कि महाकाल मंदिर परिसर में फूल और प्रसाद बेचने को लेकर दोनों गुटों में लड़ाई हुई थी।

      [object object] महाकाल मंदिर के पास जमकर हुई मारपीट, औरतों को रॉड से पीटा aaa 300x205इस घटना का विडियो भी सामने आया है। वीडियो में पहले दो युवक आपस में मारपीट करते दिख रहे हैं। दो महिलाओं के बीच भी आपस में गुत्थमगुत्थी हुई। इसके बाद एक युवक ने महिलाओं को रॉड से पीटना शुरू कर दिया। 

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, घटना शनिवार देर शाम की है। मंदिर के बाहर फूल और प्रसाद बेचने को लेकर दो दुकानदारों में हाथापाई शुरू हुई थी जिसके बाद उनके परिजनों के बीच भी जमकर मारपीट हुई। हालांकि, मंदिर के बाहर मारपीट होने के बाद सुरक्षा व्यवस्था को लेकर भी सवाल खड़े हो रहे हैं।

    गौरतलब है कि महाकाल मंदिर में इससे पहले भी फूल और प्रसाद बेचने वालों के बीच लड़ाई की खबरें आ चुकी हैं। दो दिन पहले भी यहां फूल-प्रसाद बेचने को लेकर झगड़ा हुआ था जिसमें एक युवक चाकू लगने से में गंभीर रूप से घायल हो गया था।scuffle-broke-out-between-flower-vendors-near-ujjains-mahakal-temple/

About Arun Kumar Singh

Check Also

[object object] पुनरुद्धार से पांवधोई नदी अपने वास्तविक स्वरूप को प्राप्त करेगी,  इसके तल का क्षेत्रफल बढ़ेगा तथा जल की मात्रा में वृद्धि होगी                    310x165

पुनरुद्धार से पांवधोई नदी अपने वास्तविक स्वरूप को प्राप्त करेगी, इसके तल का क्षेत्रफल बढ़ेगा तथा जल की मात्रा में वृद्धि होगी

    नदी के प्रथम भाग उद्गम स्थल शंकलापुरी मन्दिर से बाबा लालदास के बाड़े …

Leave a Reply

Copyright © 2017, All Right Reversed.