Tuesday , January 28 2020 [ 12:25 AM ]
Breaking News
Home / राज्य / उत्तर प्रदेश / शिक्षा संस्थानों में त्वरित शिकायत निस्तारण की प्रक्रिया को अमल में लाने की जरूरत- डॉ साराह नसरीन
शिक्षा संस्थानों में त्वरित शिकायत निस्तारण की प्रक्रिया को अमल में लाने की जरूरत- डॉ साराह नसरीन prashikshan deti dr sarah nasreen 660x330

शिक्षा संस्थानों में त्वरित शिकायत निस्तारण की प्रक्रिया को अमल में लाने की जरूरत- डॉ साराह नसरीन

उच्च शिक्षा संस्थानों की कार्य पद्धति में उत्कृष्टता लाने हेतु विश्वविद्यालय अनुदान आयोग की स्थापना – डॉ साराह नसरीन

     जौनपुर। वीर बहादुर सिंह पूर्वांचल विश्वविद्यालय जौनपुर के विश्वेश्वरैया हाल में शुक्रवार को छह दिवसीय “ट्रेनिंग प्रोग्राम आन एकेडमिक लीडरशिप” कार्यक्रम के पांचवे दिन भागलपुर इंदिरा गांधी मुक्त विश्वविद्यालय की क्षेत्रीय निदेशक डॉ साराह नसरीन ने प्रशिक्षण दिया । सम्बोधित करते हुए उन्होंने कहा कि भारतीय उच्च शिक्षा संस्थानों की कार्य पद्धति में उत्कृष्टता लाने हेतु विश्वविद्यालय अनुदान आयोग की स्थापना की गई हैl कोई भी उच्च शिक्षा संस्थान यदि विश्वविद्यालय अनुदान आयोग की गाइड लाइंस का ठीक से पालन करता है तो वहां का शिक्षण एवं शोध कार्य उच्च स्तरीय होता हैl

   शिक्षा संस्थानों में त्वरित शिकायत निस्तारण की प्रक्रिया को अमल में लाने की जरूरत- डॉ साराह नसरीन prashikshan deti dr sarah nasreen 300x225    उन्होंने कहा किउच्च शिक्षा संस्थानों में त्वरित शिकायत निस्तारण की प्रक्रिया को अमल में लाने की व्यवस्था कर दी जाए तो सार्थक एवं अच्छा परिणाम सामने आता हैl जो समाज और देश के विकास में सार्थक भूमिका अदा करता हैl इससे संस्थान की भी समाज में विश्वसनीयता बढ़ती हैl उन्होंने नेतृत्व क्षमता के लिए आवश्यक गुणों की विस्तार से चर्चा करते हुए अलग से नेतृत्व शैली के विकास हेतु समूह प्रबंधन गेम का आयोजन कर उपस्थित प्रतिभागियों में नेतृत्व क्षमता के विकास पर बल दियाl इस अवसर पर प्रशिक्षु प्रतिभागियों में डॉ. एस पी तिवारी ,डॉ. अवध बिहारी सिंह, डॉ. अश्विनी कुमार गुप्ता, डॉ. प्रदीप कुमार, नफीस अहमद, डॉ. सुशील कुमार ,ऋषि श्रीवास्तव, सुधांशु यादव, डॉ. सुरेंद्र सिंह, डॉ. इंद्रेश कुमार, आशीष गुप्ता आदि उपस्थित रहे। संचालन डॉक्टर मुराद अली और धन्यवाद ज्ञापन डॉ. अमित वत्स ने किया

 

      जौनपुर : वीर बहादुर सिंह पूर्वांचल विश्वविद्यालय में प्रस्तावित राष्ट्रीय विज्ञान दिवस 2018 के अंतर्गत शनिवार 24 फरवरी को प्रातः 10:00 बजे फार्मेसी संस्थान के आर. एन .गुप्ता कॉन्फ्रेंस हॉल में विशेष व्याख्यान का आयोजन किया गया है l इस विशेष व्याख्यान के मुख्य अतिथि ओएनजीसी के पूर्व निदेशक डॉक्टर पी. के .मिश्रा होंगे l वह कच्चे तेल तथा प्राकृतिक गैस के संभावित क्षेत्रों की खोज, उत्पादन और परिष्करण से संबंधित कंपनियों के कार्यक्षेत्र, महत्व तथा भारत के सामाजिक और आर्थिक विकास में तेल उद्योग के योगदान पर व्याख्यान देंगे l

establishment-of-university-grants-commission-for-bringing-excellence-in-the-work-practices-of-higher-education-institutions-dr-sarah-nasreen

About Arun Kumar Singh

Check Also

अजित पवार को अब फैसले लेने का हक नहीं-शरद पवार Capture 7 310x165

अजित पवार को अब फैसले लेने का हक नहीं-शरद पवार

एनसीपी चीफ शरद पवार ने सोमवार को एनसीपी, कांग्रेस और शिवसेना विधायकों की बैठक में …

Leave a Reply

Copyright © 2017, All Right Reversed.