Wednesday , November 13 2019 [ 7:50 AM ]
Breaking News
Home / अन्य / पूरे देश में मनाई गई ईद,क्या होती है ईद के दिन की सुन्नतें ….
[object object] पूरे देश में मनाई गई ईद,क्या होती है ईद के दिन की सुन्नतें …. hqdefault

पूरे देश में मनाई गई ईद,क्या होती है ईद के दिन की सुन्नतें ….

      लखनऊ– पूरे देश में ईद का पर्व हर्षोउल्लास के साथ मनाया गया। इस मौके पर राजधानी लखनऊ के सबसे बड़े ऐशबाग ईदगाह में लगभग 3 लाख से ज्यादा नमाजियों ने ईद की नमाज अदा की। इस मौके पर सभी धर्मों के धर्मगुरु भी मौजूद रहे। ऐशबाग ईदगाह में पिछले वर्ष की तरह इस वर्ष भी उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव, राज्यपाल राम नाईक, उपमुख्यमंत्री दिनेश शर्मा, रीता बहुगुणा जोशी के साथ मनकामेश्वर की महंत दिव्या गिरी भी मौजूद रहीं। सब लोगों ने ईद की बधाई देते हुए देश में सुख और शांति की कामना की।

  [object object] पूरे देश में मनाई गई ईद,क्या होती है ईद के दिन की सुन्नतें …. hqdefault 300x229  वहीं योगी सरकार में कैबिनेट मंत्री मोहसिन रजा ने सभी मंत्रियों और पुलिस अधिकारियों को ईद के मौके पर अपने आवास पर आमंत्रित किया। ईद की मुबारकबाद देने यूपी डीजीपी ओपी सिंह, एसएसपी लखनऊ दीपक कुमार पुलिस अधिकारियों के साथ मंत्री के सरकारी आवास पर पहुंचे। मोहसिन रजा ने डीजीपी को पुष्पगुच्छ देकर उनका स्वागत किया। वहीं डीजीपी ने मंत्री के गले लगकर ईद की बधाई दी। कैबिनेट मंत्री के घर ईद की नमाज के बाद से ही नेता और अधिकारियों का तांता लगा हुआ था। सभी एक     दूसरे के गले लगकर सुख शांति की कामना कर रहे थे।

ईद दुनिया भर के मुसलमानों के लिए खुशी का दिन है। इस्लाम में दो ही खुशी के दिन हैं, ईद-उल फित्र और ईद उल जुहा। रमजान में पूरे महीने रोजे रखने के बाद ईद-उल फित्र मनाई जाती है। ईद अल्लाह से इनाम लेने का दिन है। रमजान-उल मुबारक माह के बाद ईद-उल-फित्र के इस मुबारक दिन सुबह के वक्त शहर भर का लोग ईदगाह में जमाकर होकर ईद की नमाज अदा करते हैं। नमाज के पहले हर मुसलमान के लिए फितरा देना फर्ज है।

      फितरे के तहत प्रति इंसान पौने दो किलो अनाज या उसकी कीमत गरीबों को दी जाती है। इसका मकसद यह है कि गरीब भी ईद की खुशी मना सकें। ईद की नमाज के बाद इमाम खुत्बा देते हैं और दुआ फरमाते हैं। इसके बाद सभी ईमान वाले एक-दूसरे के गले लगकर ईद की मुबारकबाद देते हैं। ईद की सब से ज्यादा खुशी बच्चों को होती है। इस दिन बच्चों के चेहरे की रौनक देखते ही बनती है।

अल्लाहु अकबर अल्लाहु अकबर, लाइलाहा इल्ललाह, अल्लाहु अकबर अल्लाहु अकबर, वलिल्लाहिलहम्द।’ (अल्लाह बड़ा है, अल्लाह बड़ा है। अल्लाह के सिवा कोई इबादत के लायक नहीं। अल्लाह बड़ा है, अल्लाह बड़ा है। सारी तारीफें अल्लाह के लिए हैं।)

ईद के दिन की सुन्नतें
– सुबह जल्दी उठकर फजर की नमाज अदा करने के खुद की सफाई और कपड़े वगैरह तैयार रखना।
– गुस्ल (नहाना) करना।
– मिस्वाक (दातून) करना।
– सबसे उम्दा और साफ कपड़े पहनना। (नए या पुराने, लेकिन साफ)
– नमाज से पहले फितरा, जकात अदा करना।
– ईदगाह में जल्दी पहुंचना।
– ईद की नमाज खुले मैदान में अदा करना। (बारिश या बर्फ गिरने की स्थिति में नहीं)
– ईदगाह आने-जाने के लिए अलग-अलग रास्तों का इस्तेमाल करना।
– ईदगाह जाते वक्त यह तकबीर पढ़ना।
– इत्र लगाना (सिर्फ पुरुष)।
– ईदगाह जाने से पहले कुछ खाना।

Eid, which is celebrated throughout the country, what is the Sunnah of the day …

About Arun Kumar Singh

Check Also

अयोध्या फैसला :सुप्रीम कोर्ट ने वही फैसला लिया जैसा विश्व हिंदू परिषद और बीजेपी चाहते थे- नैशनल हेरल्ड Capture 2 310x165

अयोध्या फैसला :सुप्रीम कोर्ट ने वही फैसला लिया जैसा विश्व हिंदू परिषद और बीजेपी चाहते थे- नैशनल हेरल्ड

संबित पात्रा ने कहा, ‘अखबार कहता है कि सुप्रीम कोर्ट ने वही फैसला लिया जैसा …

Leave a Reply

Copyright © 2017, All Right Reversed.