Thursday , July 19 2018 [ 5:11 PM ]
Breaking News
Home / अन्य / बंगाल हिन्सा!अपने साढ़े चार घंटे के इस दौरे में राज्यपाल ने दंगा पीड़ितों से मुलाकात की,लेकिन मुस्लिम बहुल इलाके में नहीं गए
[object object] बंगाल हिन्सा!अपने साढ़े चार घंटे के इस दौरे में राज्यपाल ने दंगा पीड़ितों से मुलाकात की,लेकिन मुस्लिम बहुल इलाके में नहीं गए        660x330

बंगाल हिन्सा!अपने साढ़े चार घंटे के इस दौरे में राज्यपाल ने दंगा पीड़ितों से मुलाकात की,लेकिन मुस्लिम बहुल इलाके में नहीं गए

      पश्चिम बंगाल के राज्यपाल केशरी नाथ त्रिपाठी ने शनिवार को दंगा प्रभावित आसनसोल और रानीगंज इलाकों का दौरा किया।

   [object object] बंगाल हिन्सा!अपने साढ़े चार घंटे के इस दौरे में राज्यपाल ने दंगा पीड़ितों से मुलाकात की,लेकिन मुस्लिम बहुल इलाके में नहीं गए        300x148        इस दौरान राज्यपाल ने दंगा पीड़ितों से मुलाकात की। लेकिन अपने साढ़े चार घंटे के इस दौरे में राज्यपाल मुस्लिम बहुल इलाके में नहीं गए। जब पुलिस अफसरों से इस बारे में बात की गई तो उन्होंने कहा राज्यपाल ने मुस्लिम बहुल इलाकों में जाने के लिए नहीं कहा और अगर वह कहते भी तो उन्हें वहां ले जाना मुश्किल होता। जब प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान राज्यपाल केशरी नाथ त्रिपाठी से इस बारे में सवाल किया गया तो उन्होंने इसका जवाब ही     नहीं दिया।

      बता दें कि पश्चिम बंगाल में दंगों की शुरुआत रामनवमी के एक दिन बाद 26 मार्च से हुई। पश्चिमी बर्दवान जिले के आसनसोल और रानीगंज में 2 लोगों मारे गए हैं, वहीं कई अन्य लोग घायल हुए हैं। दर्जनभर से ज्यादा दुकानों में तोड़-फोड़ और आगजनी करने की खबर है। दंगा प्रभावित इलाकों का दौरा करने के बाद राज्यपाल ने आसनसोल सर्किट हाउस में प्रेस कॉन्फ्रेंस कर मीडिया से बात की।

       इस दौरान राज्यपाल ने बताया कि उन्होंने आईजी, डीएम समेत सभी अधिकारियों से बात की है और दंगों के हालात पर चर्चा की। राज्यपाल ने कहा कि मैं यहां शांति के संदेश के साथ आया हूं और मैं सभी लोगों से अपील करता हूं कि एकदूसरे के लिए सम्मान और सद्भावना बनाए रखें। राज्यपाल ने कहा कि सभी लोगों को एक दूसरे के धार्मिक त्यौहारों के प्रति सम्मान रखना चाहिए।

Bengal Hinsa! During his four-and-a-half-hour visit, the Governor met the riot victims but did not go to the Muslim-dominated area.

About Arun Kumar Singh

Check Also

[object object] पुनरुद्धार से पांवधोई नदी अपने वास्तविक स्वरूप को प्राप्त करेगी,  इसके तल का क्षेत्रफल बढ़ेगा तथा जल की मात्रा में वृद्धि होगी                    310x165

पुनरुद्धार से पांवधोई नदी अपने वास्तविक स्वरूप को प्राप्त करेगी, इसके तल का क्षेत्रफल बढ़ेगा तथा जल की मात्रा में वृद्धि होगी

    नदी के प्रथम भाग उद्गम स्थल शंकलापुरी मन्दिर से बाबा लालदास के बाड़े …

Leave a Reply

Copyright © 2017, All Right Reversed.