Sunday , August 19 2018 [ 11:08 AM ]
Breaking News
Home / अन्य / दूरस्थ शिक्षा की डिग्री को बराबर मान्यता मिले : यूजीसी
दूरस्थ शिक्षा की डिग्री को बराबर मान्यता मिले : यूजीसी ssss

दूरस्थ शिक्षा की डिग्री को बराबर मान्यता मिले : यूजीसी

   विशेष संवाददाता, नई दिल्ली-  देश में दूरस्थ शिक्षा के माध्यम से हासिल किए गए डिग्री, डिप्लोमा और सर्टिफिकेट कोर्स को भी नियमित कोर्स के बराबर मान्यता दी जाए। विश्व विद्यालय अनुदान आयोग (यूजीसी) ने यह निर्देश जारी किए हैं। 

     दूरस्थ शिक्षा की डिग्री को बराबर मान्यता मिले : यूजीसी ssss 300x167  यूजीसी ने कहा है कि भारत सरकार ने मुक्त एवं दूरस्थ शिक्षा को लेकर महत्वपूर्ण भूमिका की कल्पना की है। मुक्त एवं दूरस्थ शिक्षा व्यवस्था शिक्षा की गुणवत्ता में कमी लाए बिना उच्च शिक्षा के प्रसार में मदद कर रही है। ऐसे में नियुक्ति, पदोन्नति या उच्च शिक्षा में मुक्त एवं दूरस्थ शिक्षा से प्राप्त डिग्री, डिप्लोमा और सर्टिफिकेट को मान्यता न देना या कम मान्यता देना इस माध्यम के उद्देश्यों को हरा देगा। इसलिए यूजीसी या डीईसी से मान्यता प्राप्त किसी भी डिग्री, डिप्लोमा और सर्टिफिकेट को नियमित कोर्स के बराबर मान्यता दी जाए। 

     यूजीसी ने कहा है कि इसे कानूनी रूप से वैध बनाने के लिए पिछले साल ही यूजीसी (मुक्त एवं दूरस्थ शिक्षा) नियमन 2017 को अधिसूचित किया जा चुका है। यूजीसी ने यह भी स्पष्ट किया है कि इंजीनियरिंग, मेडिसिन, डेंटल, फॉर्मेसी, नर्सिंग, फिजियोथेरेपी एवं आर्किटेक्चर जैसे  प्रायोगिक प्रशिक्षण वाले कार्यक्रमों को मुक्त एवं दूरस्थ शिक्षा के जरिये प्रदान करने की अनुमति नहीं है।Degree of distance learning gets equal recognition: UGC  DEngineering, Medicine, Dental, Pharmacy, Nursing, Physiotherapy and Architecture

About Arun Kumar Singh

Check Also

[object object] हर वर्ष विभाजन की टीसें छोड़ जाता है स्वतन्त्रता दिवस              310x165

हर वर्ष विभाजन की टीसें छोड़ जाता है स्वतन्त्रता दिवस

      मानचित्र में जो दिखता है नहीं देश भारत है। भू पर नहीं …

Leave a Reply

Copyright © 2017, All Right Reversed.