Saturday , February 16 2019 [ 10:37 AM ]
Breaking News
Home / अंतरराष्ट्रीय / अमेरिकी को चीन की खरी खरी,जमीन का एक इंच भी किसी को नहीं देंगे
[object object] अमेरिकी को चीन की खरी खरी,जमीन का एक इंच भी किसी को नहीं देंगे cccccc 501x330

अमेरिकी को चीन की खरी खरी,जमीन का एक इंच भी किसी को नहीं देंगे

अमेरिकी रक्षा मंत्री जिम मैटिस को चीन की खरी खरी,बोला- जमीन का एक इंच भी किसी को नहीं देंगे

   बीजिंग:  चीन और अमेरिका में तनाव के बीच अमेरिकी रक्षा मंत्री जिम मैटिस बीजिंग के दौरे पर हैं। जिम मैटिस खासतौर से दक्षिण चीन सागर में चीन के बढ़ते हुए प्रभाव को लेकर पहले ही बड़े आलोचक रहे हैं। लेकिन जिम मैटिस को चीन ने साफ कर दिया कि वो विस्तारवादी देश नहीं है लेकिन अपनी एक इंच जमीन को वो नहीं छोड़ेगा। इसका अर्थ ये है कि आने वाले समय में दक्षिण चीन सागर के मुद्दे पर चीन और अमेरिका में तनाव और बढ़ेगा। 

ग्रेट हॉल में जिम मैटिस से मुलाकात के दौरान चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग ने कहा कि उनका देश दुनिया के दूसरे मुल्कों के साथ शांति और सद्भाव के साथ आगे बढ़ना चाहता है। किसी भी देश के साथ वो तनाव नहीं चाहता है। दोनों देशों के बीच मतभेद के तमाम मुद्दों के बाद भी आगे बढ़ने की संभावना है। लेकिन चीन अपने सीमाक्षेत्र या किसी भूभाग को लेकर न तो किसी दबाव में आएगा न ही किसी तरह की रियायत देगा।

    [object object] अमेरिकी को चीन की खरी खरी,जमीन का एक इंच भी किसी को नहीं देंगे jjjjj 300x266ताइवान के मुद्दे पर चीन को अमेरिका के मकसद पर पहले से ही संदेह है। बता दें कि ताइवान को अमेरिका मदद पहुंचाता है। लेकिन ताइवान को चीन अपना हिस्सा मानता है। चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग ने कहा कि भूभाग के मुद्दे पर किसी तरह के दबाव में आने का मतलब नहीं है। 

चीन और अमेरिका के बीच तनातनी किसी से छिपी नहीं है। बीजिंग दौरे पर गए अमेरिकी रक्षा मंंत्री जिम मैटिस को चीन ने साफ कर दिया कि वो जमीन का एक इंच भी किसी को नहीं देगा।

    चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग ने कहा कि हमारे पूर्वजों ने जो कुछ अर्जित किया उसका एक इंच भी हम किसी को नहीं दे सकते है। दूसरे लोग क्या चाहते हैं उसके बारे में न तो हम विचार कर सकते हैं न ही करेंगे। ये बात अलग है कि मीडिया से बात करते हुए मैटिस ने कहा कि चीनी राष्ट्रपति के साथ बातचीत बहुत अच्छी रही।

चीन के रक्षा मंत्री वेई फेंगे ने कहा कि अमेरिकी रक्षा मंत्री के साथ बातचीत सौहार्दपूर्ण माहौल में हुई। चीन अपनी एकता, अखंडता और संप्रभुता की रक्षा करने के साथ विकास के एजेंडे को आगे बढ़ाएगा। चीन और अमेरिका मिलकर आगे बढ़ सकते हैं लेकिन उसके लिए ये जरूरी है कि दोनों देशों के बीच किसी तरह का मतभेद न हो किसी तरह का विवाद न हो, दोनों देश आपसी विश्वास और सम्मान से एकदूसरे का सहयोग कर आगे बढ़ सकते हैं। china-tells-us-defence-secretary-jim-mattis-would-not-give-up-even-one-inch-of-territory

About Arun Kumar Singh

Check Also

नरेन्द्र मोदी फिर बने भारत के प्रधान मंत्री -सपा नेता एव सांसद मुलायम  सिंह यादव           310x165

नरेन्द्र मोदी फिर बने भारत के प्रधान मंत्री -सपा नेता एव सांसद मुलायम सिंह यादव

लोकसभा में पीएम मोदी की तारीफ चर्चा के केंद्र में है। दरअसल पीएम मोदी की …

Leave a Reply

Copyright © 2017, All Right Reversed.