Wednesday , December 19 2018 [ 9:43 PM ]
Breaking News
Home / राज्य / उत्तर प्रदेश / बुलंदशहर में शहीद इंस्पेक्टर की बहन का संगीन आरोप- अखलाक केस के चलते पुलिस ने भाई को मरवाया
बुलंदशहर में शहीद इंस्पेक्टर की बहन का संगीन आरोप- अखलाक केस के चलते पुलिस ने भाई को मरवाया kkkkkk 660x330

बुलंदशहर में शहीद इंस्पेक्टर की बहन का संगीन आरोप- अखलाक केस के चलते पुलिस ने भाई को मरवाया

शहीद इंस्पेक्टर की बहन ने गंभीर सवाल उठाते हुए कहा कि मेरे भाई को अकेला क्यों छोड़ा गया? उन्होंने सवाल किया कि भाई के साथ मौजूद दरोगा और ड्राइवर भाई को अकेला छोड़कर कहां चले गए थे?

बुलंदशहर में शहीद हुए इंस्पेक्टर सुबोध कुमार सिंह की हत्या के तार अखलाक केस से जुड़ रहे हैं. इंस्पेक्टर सुबोध की बहन ने पुलिस पर बेहद संगीन आरोप लगाते हुए कहा कि मेरे भाई की हत्या अखलाक केस की जांच करने के चलते की गई है. उनकी हत्या में पुलिस भी शामिल है.

इंस्पेक्टर की बहन ने गंभीर सवाल उठाते हुए कहा कि मेरे भाई को अकेला क्यों छोड़ा गया? उन्होंने सवाल किया कि भाई के साथ मौजूद दरोगा और ड्राइवर भाई को अकेला छोड़कर कहां चले गए थे?

बुलंदशहर में शहीद इंस्पेक्टर की बहन का संगीन आरोप- अखलाक केस के चलते पुलिस ने भाई को मरवाया kkkkkk 300x165   इंस्पेक्टर सुबोध सिंह हत्याकांड में मुख्य आरोपी सहित तीन गिरफ्तार

पुलिस ने मिलकर भाई को मरवाया

उन्होंने सीधा आरोप लगाया कि अखलाक मामले की जांच करने के चलते उनके भाई को मारा गया है. ये पूरी साजिश है. उन्होंने सवाल उठाए कि मेरा भाई पुलिस जीप में अकेला क्यों था. उन्होंने पूछा कि उस समय साथ में मौजूद दरोगा और ड्राइवर कहां चले गए थे. उन्होंने आरोप लगाया कि मेरे भाई की हत्या में पुलिस भी मिली हुई थी. उन्होंने आरोप लगाया कि मेरे भाई को पुलिस ने मिलकर मरवाया है.

योगी खुद गोरक्षा करके दिखाएं

इंस्पेक्टर की बहन ने कहा कि गोरक्षा के नाम पर मुख्यमंत्री योगी सिर्फ बातें कर रहे हैं. वे खुद क्यों नहीं गोरक्षा करके दिखाते हैं? उन्होंने मांग की कि मेरे भाई को शहीद का दर्जा दिया जाए. एटा के पैतृक गांव में उनका शहीद स्मारक बनाया जाए. सुबोध की बहन ने कहा कि हमारे पिता भी ऐसे ही ड्यूटी करने के दौरान गोली लगने से शहीद हुए थे. हम लोग बहुत बहादुर हैं. उन्होंने सीएम योगी से मांग की है कि वे उनके परिवार से आकर मिलें.

बेटों ने कहा- अब किसके पापा की जान जाएगी?

बुलंदशहर में शहीद हुए इंस्पेक्टर सुबोध कुमार के बड़े बेटे श्रेय ने कहा कि पापा चाहते थे कि मैं यूपीएससी की तैयारी करूं. पापा जॉब के चलते बर्थडे में भी घर नहीं आते थे. उन्हें धमकियां मिलतीं थीं. श्रेय ने कहा कि पिता चाहते थे कि मेरा छोटा भाई अभिषेक अच्छा वकील बने. उसका अभी बोर्ड का एग्जाम है. वहीं, अभिषेक ने कहा कि यहां हिंदू-मुस्लिम सिख सभी एक हैं. हिंदू-मुस्लिम विवाद में आज मेरे पापा की जान गई. मैं पूछना चाहता हूं कि अब इस विवाद में किसके पापा की जान जाएगी.

भाई ने कहा- परिवार पर बड़ा संकट आया

शहीद इंस्पेक्टर के छोटे भाई राहुल ने कहा कि भाई की मौत से परिवार पर बहुत बड़ा संकट आ गया है. उन्होंने योगी से गुहार लगाते हुए कहा कि योगी जी कुछ करिए.

पूरा परिवार गम में डूबा

शहीद इंस्पेक्टर सुबोध कुमार सिंह का पूरा परिवार ग़म में डूबा हुआ है. उनकी पत्नी, दोनों बेटे, उनका छोटा भाई, भतीजा, सभी बेजार रो रहे हैं. इंस्पेक्टर सुबोध की पत्नी का रो-रोकर बुरा हाल है. वे अपने बड़े बेटे का हाथ पकड़कर सिर्फ़ एक बार अपने पति को छूने की मांग करती रहीं. वे सिर्फ एक बार पति को देख लेने की जिद करती रहीं.

पैतृक गांव में भी पसरा मातम

सुबोध के पैतृक गांव एटा के तरिगंवा में भी मातम पसरा हुआ है. जैसे ही ख़बर आई कि इस गांव का बेटा शहीद हो गया है, पूरे गांव में शोक की लहर दौड़ गई. सुबोध के छोटे भाई राहुल कहते हैं कि परिवार पर बहुत बड़ा संकट आ गया है. सुबोध के भतीजे रवींद्र सिंह भी इंसाफ़ की मांग कर रहे हैं.

About Arun Kumar Singh

Check Also

मुंबई के ईएसआईसीअस्पताल में आग लगने से छह की मौत, 100 से ज्यादा झुलसे mum 310x165

मुंबई के ईएसआईसीअस्पताल में आग लगने से छह की मौत, 100 से ज्यादा झुलसे

मुंबई : मुंबई के एक सरकारी अस्पताल में सोमवार की शाम आग लगने से छह लोगों …

Leave a Reply

Copyright © 2017, All Right Reversed.