Sunday , December 16 2018 [ 8:08 PM ]
Breaking News
Home / अन्य / कर्नाटक चुनाव :2019 लोक सभा से पहले इन राज्यों की रणनीति पर भी पड़ेगा असर….
[object object] कर्नाटक  चुनाव :2019 लोक सभा से पहले इन राज्यों की रणनीति पर भी पड़ेगा असर….

कर्नाटक चुनाव :2019 लोक सभा से पहले इन राज्यों की रणनीति पर भी पड़ेगा असर….

 
    बेंगलुरू ! विशेष संवाददाता ! कर्नाटक की 222 सीटों के पर अपनी पसंद के उम्मीदवारों को वोट डालने के लिए तैयार है। इसके नतीजे 15 मई को सामने आएंगे। कांग्रेस अपने असतित्व को बचाए रखने के लिए किसी भी कीमत पर बीजेपी को हराना चाहती है और बीजेपी अपने विजय रथ को किसी भी कीमत पर रुकने नहीं देना चाहती है। यूं तो इसे 2019 लोकसभा चुनाव से पहले का सेमिफाइनल माना जा रहा है, लेकिन इसका असर सिर्फ लोकसभा चुनावों पर ही नहीं बल्कि उससे पहले मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और राजस्थान के चुनाव पर भी जबरदस्त ढंग से होगा।

[object object] कर्नाटक  चुनाव :2019 लोक सभा से पहले इन राज्यों की रणनीति पर भी पड़ेगा असर….                    300x241

    कर्नाटक चुनाव के जो भी नतीजे होंगे, वह आने वाले एमपी, राजस्थान और छत्तीसगढ़ विधानसभा चुनाव के लिए एक माहौल सेट करेंगे। यदि कर्नाटक में कांग्रेस बाजी मारती है तो बीजेपी के लिए इन राज्यों में अपनी कुर्सी बचा पाना और चुनौती भरा साबित होगा। वहीं यदि कांग्रेस हारती है तो उसके लिए इन राज्यों में सत्ता विरोधी लहर तैयार करना चुनौती भरा काम होगा। 

लंबे समय से सत्ता में रहने के कारण तीनों राज्यों के बीजेपी को सत्ता विरोधी लहर का सामना करना पड़ेगा। यदि कर्नाटक में नीतेजी बीजेपी के मनमुताबिक नहीं आते हैं तो कांग्रेस के लिए इस लहर को हवा देना और आसान हो जाएगा। कांग्रेस को कर्नाटक में हार का मुंह देखना पड़ा तो बीजेपी के लिए इन राज्यों में भी कांगेस के खिलाफ माहौल बनाने में आसानी होगी। 

माना जा रहा है कि स्थानीय मुद्दों और दोनों पार्टियों के अक्रामक चुनाव प्रचार की वजह से कर्नाटक का चुनाव काफी दिलचस्प हो गया है। इससे पहले कभी भी कर्नाटक का चुनाव पूरे देश के लिए इतना महत्वपूर्ण नहीं रहा। जानकारों का मानना है कि यह पहला मौका है, जब कर्नाटक चुनाव यूपी और बिहार चुनाव जितना ही महत्वपूर्ण बन गया है। 

रणनीति पर भी पड़ेगा असर 
कर्नाटक के इन चुनावों में कांग्रेस और बीजेपी को ही मुख्य चुनावी दल माना जा रहा है, वहीं स्थानीय पार्टी जेडीएस अभी तक के सर्वे के मुताबिक अपने दम पर सरकार बनाती नहीं दिख रही है। ऐसे में दोनों पार्टियां एक-दूसरे को प्रतिद्वंद्वी मानकर ही रणनीति तैयार कर रही हैं। ठीक इसी तरह, एमपी, राजस्थान और छत्तीसगढ़ में भी बीजेपी और कांग्रेस ही प्रमुख दल हैं। ऐसे में कर्नाटक के नतीजे यह भी तय करेंगे कि इन पार्टियों को अपनी रणनीति बदलने की कितनी जरूरत है। 

assembly-elections/karnataka-elections/news/karnataka-will-effect-results-in-these-states-also

About Arun Kumar Singh

Check Also

राफेल मामले में सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद योगी का बयान, कांग्रेस का झूठ हुआ उजागर-मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ                 310x165

राफेल मामले में सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद योगी का बयान, कांग्रेस का झूठ हुआ उजागर-मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ

    लखनऊ, (अरुण कुमार सिंह )।मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ में राफेल मामले में सुप्रीम कोर्ट …

Leave a Reply

Copyright © 2017, All Right Reversed.