Friday , April 19 2019 [ 9:54 AM ]
Breaking News
Home / अन्य / अपराधियों के विरुद्ध कठोर दण्डात्मक कार्रवाई की जाए हर पीड़ित व्यक्ति की एफ0आई0आर0 दर्ज कर उसे न्याय दिलाया जाए!: मुख्यमंत्री
अपराधियों के विरुद्ध कठोर दण्डात्मक कार्रवाई की जाए हर पीड़ित व्यक्ति की एफ0आई0आर0 दर्ज कर उसे न्याय दिलाया जाए!: मुख्यमंत्री download 5 2

अपराधियों के विरुद्ध कठोर दण्डात्मक कार्रवाई की जाए हर पीड़ित व्यक्ति की एफ0आई0आर0 दर्ज कर उसे न्याय दिलाया जाए!: मुख्यमंत्री

मुरादाबाद को अमृत योजना व स्मार्ट सिटी योजना में विकसित किया जाए

     हर पीड़ित व्यक्ति की एफ0आई0आर0 दर्ज कर उसे न्याय दिलाया जाए! अधिकारी समयबद्ध ढंग से कार्य करते हुए ,बगैर किसी भेदभाव के जनसमस्याओं का निस्तारण करें ! खनन, भू तथा अन्य माफियाओं के विरुद्ध कठोर कार्रवाई सुनिश्चित किये जाने के निर्देश यातायात जागरूकता अभियान चलाया जाए: योगी जी

     ट्रान्सफर व पोस्टिंग में भ्रष्टाचार व पैसों के लेन-देन की शिकायत मिलने पर एफ0आई0आर0 दर्ज होगी  पेयजल, भू-गर्भजल तथा सफाई के सम्बन्ध  में विशेष ध्यान दिये जाने के निर्देश

पाॅलीथीन मुक्त व्यवस्था बनाते हुए सभी कार्यालयों में  पान, गुटका, तम्बाकू आदि प्रतिबन्धित किया जाए

 
 
 Image result for yogi adityanath in moradabad  अपराधियों के विरुद्ध कठोर दण्डात्मक कार्रवाई की जाए हर पीड़ित व्यक्ति की एफ0आई0आर0 दर्ज कर उसे न्याय दिलाया जाए!: मुख्यमंत्री adityanath PTI1             लखनऊ:ब्यूरो / उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी ने थाना और तहसील दिवसों को मजबूत बनाये जाने के निर्देश देते हुए कहा है कि अपराधियों के विरुद्ध कठोर दण्डात्मक कार्रवाई की जाए तथा आम जनता के साथ सौहार्दपूर्ण व्यवहार सुनिश्चित हो। उन्होंने कहा कि बड़ी संख्या में अपनी समस्याओं के निस्तारण के लिए फरियादियों का लखनऊ पहुंचना इस बात का संकेत है कि स्थानीय स्तर पर उनका समाधान नहीं हो रहा है। थाने और तहसील दिवस में संवेदनशीलता के साथ जब कार्रवाई की जाएगी तो अपराध एवं अन्य समस्याओं में 90 प्रतिशत की कमी दिखायी देगी। उन्होंने कहा कि मुरादाबाद पीतल नगरी के रूप में जाना जाता है। इसे अमृत योजना व स्मार्ट सिटी योजना में विकसित किया जाए।
         मुख्यमंत्री आज मुरादाबाद के सर्किट हाउस में मुरादाबाद मण्डल की कानून-व्यवस्था एवं विकास कार्याें की समीक्षा बैठक को सम्बोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि हर पीड़ित व्यक्ति की एफ0आई0आर0 दर्ज कर उसे न्याय दिलाया जाए। फर्जी एफ0आई0आर0 को रोका जाए और अपराधों पर कड़ा अंकुश लगे। ऐसी व्यवस्था सुनिश्चित की जाए कि पीड़ित का हक कोई छीन न सके। उन्होंने कहा कि थानों और यू0पी0 100 के बीच में समन्वय स्थापित हो। प्रातः 9 से 11 बजे के बीच सभी अधिकारी जन शिकायतों को सुनें। दरोगा और बीट का सिपाही अपनी ड्यूटी के स्थान पर हो। बैंकों और दुकानों के खुलने के समय पुलिस मुस्तैद रहे तो चोरी, डकैती, लूट की घटनाओं पर अंकुश लगेगा और अपराधियों के हौसले खत्म होंगे।
          योगी जी ने कहा कि अधिकारी समयबद्ध ढंग से कार्य करते हुए बगैर किसी भेदभाव के जनसमस्याओं का निस्तारण करें। अधिकारी दफ्तरों से निकलकर फील्ड विजिट करें और जमीनी हकीकत से रुबरू हों। वे पैदल गश्त करेंगे तो जनता का विश्वास भी बढेगा। उन्होंने निर्देश दिये कि अधिकारी अपनी कार्य संस्कृति से अपराधियों में भय और आम जनता में विश्वास पैदा करें। सी0यू0जी0 नम्बर खुले रखें और जन प्रतिनिधियों से बात करने में संकोच न करें। गलत काम का साथ न दें। अपराधियों की सम्पत्ति जब्त करने की भी कार्रवाई करें। ऐसे लोगों को विभाग में चिन्हित किया जाए, जो अपराधियों को संरक्षण दे रहे हैं। उनको जिले से बाहर अन्य जनपदों में भेजा जाए। उन्होंने कहा कि कानून का राज्य सरकार की सर्वाेच्च प्राथमिकता है।
       मुख्यमंत्री जी ने खनन, भू तथा अन्य माफियाओं के विरुद्ध कठोर कार्रवाई सुनिश्चित किये जाने के निर्देश देते हुए कहा कि एण्टी भू-माफिया टाॅस्क फोर्स द्वारा सरकारी भूमि पर कब्जे को चिन्हित कर पेशेवर भू-माफिया तथा सम्बन्धित लोगों के विरुद्ध कड़ी कार्रवाई की जाए। उन्होंने कहा कि गो-वध और गो-तस्करी को हर हाल में रोका जाए। गो-कशी और गो-तस्करी जहां पकड़ी जाएगी, वहां के पुलिस अधिकारियों को दोषी माना जाएगा।
योगी जी ने कहा कि किसी भी मामले में चार्जशीट लम्बित न रहे। अधिकारी जेलों का विजिट करें। जेलों को अपराधों के अड्डे न बनने दें, बल्कि उन्हें सुधार गृह बनायें। जेलों में मोबाइल जैमर की व्यवस्था सुनिश्चित हो। ठेला, खोमचा, रेहड़ी और पटरी दुकानदारों का पंजीकरण किया जाए। यातायात जागरूकता अभियान चलाया जाए। हेलमेट और सीट बेल्ट का प्रयोग सुनिश्चित हो। दर्ज किये गये मामलों की विवेचना ईमानदारी से करते हुए गुण-दोष के आधार पर कार्रवाई की जाए।
मुख्यमंत्री जी ने कहा कि निःशुल्क कनेक्शन देते हुए ग्रामीण क्षेत्रों में लाइन लाॅस पर ध्यान दिया जाए। मीटर के अनुसार बिल का भुगतान सुनिश्चित करने की दिशा में कार्रवाई हो। जनपद मुख्यालयों में 24, तहसील मुख्यालयों में 20 व ग्रामीण क्षेत्रों में 18 घण्टे विद्युत आपूर्ति सुनिश्चित की जा रही है। ग्रामीण क्षेत्रों में खराब ट्रांन्सफार्मर को 48 घण्टे व शहरों में 24 घण्टे के भीतर बदला जाए। उन्होंने कहा कि गरीबों की आवश्यकतानुसार कम क्षमता का मीटर लगाया जाए।
        योगी जी ने कहा कि जनप्रतिनिधिगण भी गेहूं खरीद केन्द्रों का भ्रमण करें। ठेकों में दागी फर्माें व अपराधियों को स्थान न दिया जाए। अपराधियों के आर्थिक स्रोत खत्म किये जाने की दिशा में कार्रवाई की जाए। उन्होंने 15 जून तक सड़कों को गड्ढामुक्त किये जाने के निर्देश देते हुए कहा कि गन्ना व सिंचाई विभाग की सड़कें लोक निर्माण विभाग बनाएगा और उसी को धनराशि दी जाएगी। 
        मुख्यमंत्री जी ने स्वास्थ्य व चिकित्सा सेवाओं की समीक्षा करते हुए कहा कि चिकित्सकों की सेवाएं दो शिफ्टों ली जाएंगी। उन्होंने कहा कि अधिकारी पी0एच0सी0 व सी0एच0सी0 का दौरा करें। चिकित्सक समय पर अपने अस्पताल में हों। एनीस्थीसिया वाले डाॅक्टर को उसी अस्पताल में रखा जाए, जिसमें आॅपरेशन थियेटर हो। सभी स्थानांे पर जन औषधि केन्द्र खोले जाएं और जेनेरिक दवाओं को बढ़ावा दिया जाए। कुपोषित, एनीमिया व टी0बी0 के मरीजों पर विशेष ध्यान दिया जाए।
    Image result for yogi adityanath in moradabad  अपराधियों के विरुद्ध कठोर दण्डात्मक कार्रवाई की जाए हर पीड़ित व्यक्ति की एफ0आई0आर0 दर्ज कर उसे न्याय दिलाया जाए!: मुख्यमंत्री adityanath PTI1    योगी जी ने छात्र और शिक्षकों के अनुपात की विसंगतियों को ठीक किये जाने के निर्देश देते हुए कहा कि ट्रान्सफर व पोस्टिंग में भ्रष्टाचार व पैसों के लेन-देन की शिकायत मिलने पर एफ0आई0आर0 दर्ज होगी। शिक्षकों की उपस्थिति सुनिश्चित की जाए और निरीक्षण में शिक्षक के अनुपस्थित पाये जाने पर कार्रवाई की जाए। उन्होंने कहा कि सभी विभागों के अधिकारी एवं जनप्रतिनिधिगण एक-एक विद्यालय को गोद लेते हुए उसकी उन्नति में अपना सहयोग दें। उन्होंने पेयजल, भू-गर्भजल तथा सफाई के सम्बन्ध में विशेष ध्यान दिये जाने के निर्देश देते हुए कहा कि जो ब्लाॅक डार्क जोन में हैं और उनकी स्थिति सुधर गयी है, उन्हें जांच के उपरान्त डार्क जोन से बाहर निकालने की कार्रवाई की जाएगी। पाॅलीथीन मुक्त व्यवस्था बनाते हुए सभी कार्यालयों में पान, गुटका, तम्बाकू आदि प्रतिबन्धित किया जाए। इनका प्रयोग किये जाने पर कड़ी कार्रवाई की जाए। उन्हांेने कहा कि बाढ़ बचाव सम्बन्धी कार्य को समयबद्ध ढंग से सुनिश्चित किया जाए। उन्होंने कहा कि कुम्हारों को मिट्टी की दिक्कत नहीं होनी चाहिए।
        कमिश्नर श्री एल0 वेंकटेश्वर लू ने कहा कि मुख्यमंत्री जी के निर्देशों एवं शासन की नीतियों के अनुसार विकास सम्बन्धी योजनाओं को आगे बढाया जाएगा। डी0आई0जी0 श्री ओंकार सिंह ने कहा कि मुरादाबाद मण्डल में पिछले 2 महीनों में डकैती, लूट, चेन स्नेचिंग आदि की घटनाओं में कार्रवाई की गयी है। लूट व हत्या के मामलांे में कमी आयी है। अपराधियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई सुनिश्चित की गयी है।
समीक्षा बैठक में मंत्रिगण तथा अन्य जनप्रतिनिधिगण एवं वरिष्ठ अधिकारी मौजूद थे।

A harsh punitive action should be taken against the criminals and ensure the cordial deal with the general public: Chief Minister

About Arun Kumar Singh

Check Also

लोकतंत्र के महापर्व यानि लोकसभा चुनाव 2019: दूसरे फेज की वोटिंग में करीब 66 फीसदी वोट पड़े Capture 14 298x165

लोकतंत्र के महापर्व यानि लोकसभा चुनाव 2019: दूसरे फेज की वोटिंग में करीब 66 फीसदी वोट पड़े

लोकतंत्र के महापर्व यानि लोकसभा चुनाव के लिए 18 अप्रैल को दूसरे चरण का मतदान …

Leave a Reply

Copyright © 2017, All Right Reversed.